दो दिन बाद फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें क्या है नई कीमत

134 0

नई दिल्ली। देश में पेट्रोल-डीजल में दो दिनों तक कोई बदलाव न करने के बाद भारतीय तेल विपणन कंपनियों ने गुरुवार 14 अक्टूबर, 2021 को एक बार फिर से दोनों ईंधनों के दामों में जबरदस्त बढ़ोतरी कर दी है। आज राजधानी दिल्ली में पेट्रोल और डीजल दोनों ही 35-35 पैसे प्रति लीटर महंगे हुए हैं। दिल्ली में आज पेट्रोल 104.79 रुपये प्रति लीटर और डीजल 93.54 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है। वहीं, मुंबई में पेट्रोल 36 पैसे महंगा हुआ है और आज 110.75 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है। डीजल में 37 पैसों की बढ़ोतरी हुई है और इसका रेट 101.40 रुपये प्रति लीचर है।

इस महीने लगभग हर रोज पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि हो रही है। पेट्रोलियम विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOCL) के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल 104.79 रुपये प्रति लीटर जबकि मुंबई में 110.75 रुपये प्रति लीटर है। वहीं, दिल्ली में डीजल 93.52 रुपये प्रति लीटर की नई रिकॉर्ड ऊंचाई पर है। जबकि मुंबई में डीजल महानगरों में उच्चतर स्तर पर पहुंचने के बाद आज यानी 14 अक्टूबर को 101.40 रुपये प्रति लीटर पर टिका है।

4 प्रमुख महानगरों में पेट्रोल-डीजल के दाम इस प्रकार है-

शहर का नाम पेट्रोल     डीजल
दिल्ली 104.79  93.52
मुंबई 110.75 101.40
कोलकाता 105.43 96.24
चेन्नई 102.10 96.63

 कई राज्यों में 100 के पार पेट्रोल-डीजल के दाम

अक्टूबर महीने की बात करें तो 4, 12 और आज 13 अक्टूबर को छोड़कर अन्य सभी दिन तेल महंगा हुआ है। देश के अधिकांश हिस्सों में पेट्रोल की कीमत पहले से ही 100 रुपये प्रति लीटर से ऊपर है, अब डीजल की दरें भी कई राज्यों में उस स्तर को पार कर गई हैं। केरल, कर्नाटक, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान, बिहार और लेह में डीजल ने 100 रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर लिया है।

अंतरराष्ट्रीय कच्चा तेल बाजार में गिरावट

बता दें कि यह बढ़ोतरी तब की गई है, जब बुधवार को अंतरराष्ट्रीय कच्चा तेल बाजार में गिरावट आई थी। कल अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.54 प्रतिशत टूटकर 82.97 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। इसके पहले क्रूड 83 डॉलर प्रति बैरल की दर से ऊपर चल रहा था, लेकिन दो दिनों से तेल के दाम घरेलू बाजार में स्थिर थे। भारत कच्चे तेल का शुद्ध आयातक है, इसलिए इसकी घरेलू कीमतों पर क्रूड में उतार-चढ़ाव का सीधा असर होता है।

Related Post

उद्यमी वसीम अख्तर का मानना ​​है कि “जरूरतमंद लोगों की मदद करना ही सबसे बड़ा धर्म है,”

Posted by - June 12, 2020 0
वसीम अख्तर, जो एक पत्रकार रह चुके हैं और अपना ऑनलाइन न्यूज पोर्टल चलाते हैं, चल रहे लॉकडाउन में गरीब…

शिवराज सरकार के मंत्री ने महंगाई के लिए नेहरू के 15 अगस्त 1947 के भाषण को बताया जिम्मेदार

Posted by - July 31, 2021 0
देश में बढ़ती महंगाई को लेकर मध्यप्रदेश के शिवराज सरकार में मंत्री कैलाश सारंग ने अजीबोगरीब बयान दिया है। सारंग ने…

भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन की सुविधाएं नहीं हैं किसी एयरपोर्ट से कम, जानिए क्या है खास

Posted by - July 16, 2021 0
भोपाल का हबीबगंज रेलवे स्टेशन री-डेवलपमेंट के बाद एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं के साथ तैयार हो गया है। एक साथ 1100…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *