AIIMS

AIIMS में इलाज हुआ महंगा, प्राइवेट वार्ड के लिए देना होगा अब इतना चार्ज

53 0

नई दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में इलाज कराना और महंगा हो गया है। AIIMS के वित्त प्रभाग ने देर रात जारी आदेश में कहा है कि अब प्राइवेट वॉर्ड के डीलक्स कमरों के लिए मरीजों को 5 फीसदी जीएसटी भी चुकाना होगा।

AIIMS के वित्त प्रभाग ने गुरुवार को बताया कि इसे 18 जुलाई से लागू कर दिया गया है। एम्स प्रशासन के जारी आदेश के मुताबिक डीलक्स कमरे लेने वाले मरीजों को अब भर्ती होने के पहले 10 दिन का अग्रिम राशि जमा कराना होगा।

इसमें 5 फीसदी जीएसटी और डायट चार्ज भी शामिल होगा। इस लिहाजा से किसी मरीज को प्राइवेट वार्ड में अपना इलाज करवाने से पहले 66 हजार रुपये जमा कराना होगा।

महंगाई के खिलाफ संसद में कांग्रेस का प्रदर्शन- जनता महंगाई से त्रस्त है

वित्त प्रभाग के मुताबिक प्राइवेट वॉर्ड के डीलक्स कमरों के लिए रोजाना मरीजों को 300 रुपये अतिरिक्त देना होगा। इस बढ़ोत्तरी के बाद एक डीलक्स कमरे का किराया 5 फीसदी जीएसटी जोड़ने के बाद बढ़कर 6300 रुपये हो गया है। इसके साथ ही अगर मरीज डीलक्स कमरे में वैकल्पिक तौर पर भोजन चाहता है, तो उसे 300 रुपये अतिरिक्त देने होंगे।

वस्तु एवं सेवा कर (GST) परिषद की 47वीं बैठक में विभिन्न उत्पादों पर जीएसटी की दरों में बदलाव और टैक्स स्लैब में कटौती और बढ़ोतरी की है। इसके मुतबिक अब इंटेसिव केयर यूनिट (ICU) को छोड़कर अस्पताल के प्रतिदिन 5 हजार रुपये से अधिक वाले कमरों पर 5 फीसदी जीएसटी लगेगा। अस्पताल के कमरों पर लगने वाला 5 फीसदी जीएसटी 18 जुलाई से लागू हो चुका है।

Related Post