श्री श्याम निशानोत्सव

श्री श्याम निशानोत्सव : श्याम भक्तों को लगा चस्का श्याम से यारी करने का

163 0

लखनऊ। श्री श्याम निशानोत्सव से पूरा तिलक नगर ऐशबाग खाटू नगरी के समान प्रतीत हो रहा था। हजारों श्याम भक्तों से खचाखच भरा हुआ पाण्डाल, स्वर्णिम रोशनी से चमचमाता अद्भुत भव्य नक्काशीदार, मोटे रत्न जड़ित खम्भों से सुसज्जित दरबार और बीच में विराजे बाबा श्याम अनायास ही सभी को अपनी ओर आकर्षित कर रहे थे।

श्री श्याम निशानोत्सव में संकीर्तन व शोभायात्रा

मीडिया प्रभारी अनुपम मित्तल ने बताया कि श्री श्याम ज्योत मण्डल द्वारा श्री श्याम निशानोत्सव तथा खाटू धाम यात्रा का प्रारम्भ शनिवार शाम महाराजा अग्रसेन पार्क, तिलक नगर में किया गया। सर्वप्रथम बाबा की आलौकिक ज्योत प्रज्जवलित की गई तत्पश्चात मण्डल के सदस्यों एवं संरक्षकों द्वारा बाबा की स्वागत आरती की गई। इसके बाद मण्डल के सदस्यों एवं राजश्री म्युजिकल ग्रुप द्वारा गणेश वन्दना, हनुमान वन्दना, गुरू वन्दना, शिव वन्दना, माँ भगवती वन्दना तथा ज्योत वन्दना की गई। पूरा पाण्डाल हारे के सहारे की जय, तीन बाणधारी की जय के जयकारे में गूंज उठा। मण्डल के 37वाॅ उत्सव के उपलक्ष्य में मण्डल के सदस्यों द्वारा मण्डल के सभी संरक्षकों का शाल व पटका पहना कर सम्मान किया गया।

पूरे पाण्डाल के मध्य में बाबा श्याम का दरबार जो कि दक्षिण भारत के मन्दिर की तरह स्वर्णिम आभा लिये

पूरा पाण्डाल गुलाबी व हरे रंग का, चमचमाती रोशनी में बहुत ही सुन्दर प्रतीत हो रहा था। पूरे पाण्डाल के मध्य में बाबा श्याम का दरबार जो कि दक्षिण भारत के मन्दिर की तरह स्वर्णिम आभा लिये, मोटे-मोटे नक्काशीदार रत्न जड़ित खम्भे, अद्भुत महल के बीच में बाबा की छवि के दर्शन कर भक्त अपने को धन्य समझ रहे थे। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि मानो श्याम बाबा खाटू से स्वयं चलकर अपने भक्तों को दर्शन देने लखनऊ के तिलक नगर में आ गये हों। एलईडी लाइटों व देशी विदेशी फूलों से पूरा पार्क निखर व महक रहा था।

पूरा पाण्डाल श्याम नाम की मस्ती में खो गया

मण्डल के अध्यक्ष श्रवण अग्रवाल ने बताया कि इस वर्ष पाण्डाल के कार्य बाबा के सेवक कपूर मित्तल, मित्तल टेन्ट एवं बाबा का दरबार गिनीज बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड में अपना नाम दर्ज करा चुके लखनऊ के आसिम जी द्वारा बनाया गया है। पूरे तिलक नगर में एलईडी लाइटों के पैनल का कार्य घनश्याम अग्रवाल, अग्रवाल इलेक्ट्रिक द्वारा किया गया है। वन्दना के पश्चात मण्डल के योगेन्द्र अग्रवाल ने ‘आयेगा, आयेगा लीले चढ़ सांवरा आयेगा’ जैसे भजनों को सुनाया तथा कोलकाता से पधारे साहिल शर्मा ने‘किसी की नैय्या का माझी बन जाता है, वह ऊंगली पकड़ता है, रस्ता दिखलाता है।’ सुनाया गया तो पूरा पाण्डाल श्याम नाम की मस्ती में खो गया। आगे बीकानेर से पधारे प्रवेश शर्मा जी ने भी भक्तों को खूब रिझाया।

श्री श्याम प्रभु का होगा आलौकिक दरबार, भजन संर्कीतन 22 फरवरी से 

‘ऐसी घुमाई मोर छड़ी, मेरे सावरिया कि, मेरे दिन बदल गये’

उन्होंने‘ऐसी घुमाई मोर छड़ी, मेरे सावरिया कि, मेरे दिन बदल गये’ तथा मुम्बई से आये सारेगामा फेम प्रमोद त्रिपाठी के आते ही सभी भक्तों का जोश दोगुना हो गया। उनके द्वारा ‘श्याम घणी हमें चस्का तेरी यारी का, न चेतक चाहिये जी, न चस्का कार फरारी का’ एवं ‘महादेवा, तेरा डम डम डमरू बाजे’ सरीखे भजन सुनकर सभी भक्त नाचने गाने लग गये।

‘मंदिर में जा छिपे हो छिपे हो, नीयत है क्या तुम्हारी,’

सभी भक्त बाबा के दरबार के साथ फोटो खिंचवाने एवं प्राप्त करने के लिये पंक्तिबद्ध होकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। लखनऊ में प्रथम बार ऐसा लगाया गया था जिसमें भक्तों को अपनी फोटो बाबा के दरबार के साथ उनकी मेल पर तुरन्त प्राप्त हो गई। उत्सव स्थल पर 20 फुट ऊंचा शिवलिंग व लीले घोडे़ पर सवार बाबा श्याम सभी अत्यन्त मनोहारी लग रहा था। पूरे कार्यक्रम के दौरान सभी भक्तों को बाबा का प्रसाद वितरित हो रहा था। भव्य रात्रि में सभी भक्तों के साथ कुन्तलों फूलों से फूलों की होली खेली गई। सभी भक्त -‘मंदिर में जा छिपे हो छिपे हो, नीयत है क्या तुम्हारी,’ ले करके आ गये हैं, हम रंग भरी पिचकारी।’ जैसे भजन बाबा को सुनाकर अपने को धन्य महसूस कर रहे थे। तत्पश्चात बाबा की महाआरती के बाद सभी भक्तों को बाबा के छप्पन भोग वितरित किया गया।

13 अप्रैल को मण्डल द्वारा 5 कन्याओं का सामूहिक विवाह महाराजा अग्रसेन विद्यालय, मोती नगर में

मण्डल के मुकेश अग्रवाल ने बताया कि आने वाली 13 अप्रैल को मण्डल द्वारा 5 कन्याओं का सामूहिक विवाह महाराजा अग्रसेन विद्यालय, मोती नगर में किया जायेगा। मण्डल के अशोक अग्रवाल ने बताया कि प्रातः 10 बजे से महाराजा अग्रसेन पार्क, तिलक नगर से बाबा की सतरंगी शोभायात्रा फाल्गुन की मस्ती में घोडे़, ऊंट, बग्गी में सुन्दर झांकियों के साथ रामनगर, शास्त्री नगर, रकाबगंज, पाण्डेयगंज, रानीगंज, न्यू गनेशगंज, नाका हिण्डोला होते हुए चारबाग हनुमान मन्दिर तक जायेगी। इसमें सभी भक्त अपने निशान को लहराते हुए श्याम नाम की मस्ती में चलेंगे तथा बहुत ही सुन्दर रूप में बाबा श्याम बिराजेंगे।

Loading...
loading...

Related Post

उद्धव ठाकरे

लॉकडाउन 14 अप्रैल के बाद हटेगा या नहीं, यह जनता पर निर्भर : उद्धव ठाकरे

Posted by - April 4, 2020 0
मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना सं​क्रमितों के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। शुक्रवार को 67 और लोगों के कोरोना वायरस से…
गरीब बच्चों को खिलौने व वस्त्र वितरण

संयोगिता महाजन मेमोरियल ट्रस्ट ने बांटे गरीब बच्चों को खिलौने व वस्त्र

Posted by - December 17, 2019 0
लखनऊ। संयोगिता महाजन मेमोरियल ट्रस्ट ने रविवार को जगपाल खेड़ा विज्ञान खंड 4 भरवारा गोमती नगर लखनऊ में गरीब बच्चों…