पीएम मोदी ने ‘गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान’ किया लॉन्च, कहा- भारत के विकास को मिलेगी गति

97 0

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘प्रधानमंत्री गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान’ की शुरुआत की। जो 16 मंत्रालयों को जोड़ने वाला एक डिजिटल मंच है। इससे करीब 100 लाख करोड़ रुपये की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के विकास को गति मिलेगी। पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस 2021 के मौके पर लाल किले से ही इस प्लान का ऐलान किया था। कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि सरकारी विभागों में तालमेल की कमी है, जिसे दूर करने की दिशा में काम होगा।

सबसे पहले पीएम मोदी ने पहले प्रगति मैदान के नए कॉम्पलेक्स का उद्घाटन किया। इसमें चार हॉल बनकर तैयार हो चुके हैं। हॉल एसी युक्त हैं। इनको पूरी तरह से बदल दिया गया है। पार्किंग में 4800 कार पार्क करने की जगह है। बड़ी संख्या में लोग इन हॉल्स में बैठ सकते हैं। फिलहाल कुछ अंडरपास और टनल बन रही हैं, जिससे बाहर की सड़कों का ट्रैफिक कंट्रोल किया जा सकेगा।

भारत के विकास को गति देगा- पीएम मोदी

‘गति शक्ति राष्ट्रीय मिशन’ को लॉन्च करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि आज दुर्गाअष्टमी है। पूरे देश में आज कन्या पूजन हो रहा है। आज देश की प्रगति को शक्ति देने का शुभकार्य हो रहा है। यह 21वीं सदी के भारत के निर्माण को नई ऊर्जा देगा। उनके रास्ते की रुकावटों को दूर करेगा। भारत के विकास को गति देगा। उन्होंने कहा, आज अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी-सह-कन्वेंशन सेंटर में 4 प्रदर्शनी हॉल का भी उद्घाटन किया गया है। ये प्रदर्शनी केंद्र हमारे एमएसएमई और उद्योगों को अपने उत्पादों को दुनिया के सामने प्रदर्शित करने के लिए एक मंच प्रदान करेंगे।

पुरानी सोच को पीछे छोड़कर आगे बढ़ा भारत’

पीएम मोदी ने कहा, आज 21वीं सदी का भारत, सरकारी व्यवस्थाओं की उस पुरानी सोच को पीछे छोड़कर आगे बढ़ रहा है। आज का मंत्र है, ‘प्रगति के लिए इच्छा, प्रगति के लिए कार्य, प्रगति के लिए धन, प्रगति की योजना, प्रगति के लिए वरीयता। उन्होंने कहा, हमारे देश में इंफ्रास्ट्रक्चर का विषय ज्यादातर राजनीतिक दलों की प्राथमिकता से दूर रहा है। ये उनके घोषणा पत्र में भी नजर नहीं आता है। अब तो ये स्थिति आ गई है कि कुछ राजनीतिक दल, देश के लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण पर आलोचना करने में गर्व करते हैं।

सरकारी प्लानिंग और पॉलिसी बनाने में  मिलेगी मदद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘पीएम गतिशक्ति मास्टर प्लान सरकारी प्रक्रियाओं और अन्य हितधारकों को एक साथ लाता है और ट्रांसपोर्ट मोड्स को भी जोड़ता है। यह समग्र शासन का विस्तार है। पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान देश की पॉलिसी मेकिंग से जुड़े सभी स्टेकहोल्डर्स को, इन्वेस्टर्स को एक विश्लेषणात्मक और डिसीजन मेकिंग टूल भी देगा। इससे सरकारों को प्रभावी प्लानिंग और पॉलिसी बनाने में  मदद मिलेगी।

भारत स्पीड से काम कर रहा है- मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 70 वर्षों की तुलना में भारत स्पीड से काम कर रहा है। पहली नेचुरल गेस पाइपलाइन 1987 में कमीशन हुई थी। फिर साल 2014 तक 27 साल में देश में 15 हजार किलोमीटर नेचुरल गैस पाइपलाइन बनी। आज देशभर में 16 हजार किलोमीटर से ज्यादा गैस पाइपलाइन पर काम चल रहा है। जितना काम 27 वर्षों में हुआ। उससे ज्यादा काम हम उसके आधे समय में करने वाले हैं।

क्या है गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान?

प्रधानमंत्री गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान  रेल और सड़क सहित 16 मंत्रालयों को जोड़ने वाला एक डिजिटल मंच है। इसमें रेलवे, सड़क परिवहन, पोत, आईटी, टेक्सटाइल, पेट्रोलियम, ऊर्जा, उड्डयन जैसे मंत्रालय शामिल हैं। इन मंत्रालयों के जो प्रोजेक्ट चल रहे हैं या साल 2024-25 तक जिन योजनाओं को पूरा करना है, उन सबको गति शक्ति योजना के तहत डाल दिया जाएगा। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत भास्कराचार्य राष्ट्रीय अंतरिक्ष अनुप्रयोग और भू-सूचना विज्ञान संस्थान ने गति शक्ति योजना की निगरानी के लिए प्लेटफार्म विकसित किया है।

Related Post

UP: ग्रामीणों ने मांगी बिजली तो BJP MLA बोले- बेटे की कसम खाकर कहो कि तुमने मुझे ही वोट दिया

Posted by - July 13, 2021 0
शाहजहांपुर के मीरानपुर कटरा क्षेत्र से भाजपा के विधायक वीर विक्रम सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो…
महाराष्ट्र में शपथ ग्रहण

महाराष्ट्र में शपथ ग्रहण के खिलाफ SC पहुंची शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस!

Posted by - November 23, 2019 0
नई दिल्ली। महाराष्ट्र में शनिवार सुबह मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले देवेंद्र फडणवीस के खिलाफ शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी…