पेट्रोल के बढ़ते दामों के लिए सीतारमण ने कांग्रेस को बताया जिम्मेदार, कहा- नहीं कम होंगे दाम

88 0

कोरोना संकट के बीच पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने आम आदमी की चिंता को बढ़ा दिया, केंद्र सरकार ने भाव कम करने के बजाय अजीबोगरीब तर्क दिया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- सरकार को ऑयल बांड्स की देनदानी देनी पड़ रही है, इस परंपरा को कांग्रेस ने शुरु किया और भुगतना मोदी सरकार को पड़ रहा है। उन्होंने कहा- कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल और गैस के दामों की बिक्री वास्तविक लागत से काफी कम दाम पर की, और सब्सिडी के बजाय 1.34 लाख करोड़ के तेल बॉड जारी कर दिए।

उन्होंने कहा- अगर ऑयल बॉड का बोझ नहीं होता तो ईंधनो पर उत्पाद शुल्क कम करने की स्थिति होती, लेकिन कांग्रेस के फैसलों ने हमें मुश्किल में डाल दिया। बता दें कि देश के करीब बीस राज्यों में पेट्रोल के दाम 100 रुपए प्रति लीटर के ऊपर हैं, राजस्थान और मध्य प्रदेश में तो 110 रुपए पहुंच गया है। वित्त मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली पिछली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और केरोसिन की बिक्री उनकी वास्तविक लागत से काफी कम दाम पर की गई थी।  तब की सरकार ने इन ईंधनों की सस्ते दाम पर बिक्री के लिये कंपनियों को सीधे सब्सिडी देने के बजाय 1.34 लाख करोड़ रुपये के तेल बॉंड जारी किए थे।  उस समय अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम 100 डालर प्रति बैरल से ऊपर निकल गये थे।

अफगानिस्तान में फंसे भारतीयों को स्पेशल मिशन के तहत लाया जाएगा भारत, वहां सभी सुरक्षित

ये तेल बांड अब परिपक्व हो रहे हैं।  सरकार इन बॉंड पर ब्याज का भुगतान भी कर रही है. सीतारमण ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यदि मुझ पर आयल बॉंड का बोझ नहीं होता तो मैं ईंधनों पर उत्पाद शुल्क कम करने की स्थिति में होती. पिछली सरकार ने आयल बॉंड जारी कर हमारा काम मुश्किल कर दिया।  मैं यदि कुछ करना भी चाहूं तो भी नहीं कर सकती क्योंकि मैं काफी कठिनाई से आयल बांड के लिये भुगतान कर रही हूं। ’

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

जन्नत के नाम पर बच्चों को मरवाते हैं ये लोग – राज्यपाल मलिक

Posted by - October 22, 2019 0
जम्मू कश्मीर। राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अपने हालिया बयान में नेताओं पर निशाना साधा है।उन्होंने कहा यहां जितने समाज, धर्म,…
महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव

उद्धव ठाकरे पहुचें अयोध्या,विश्व हिंदू परिषद ने कहा,”यह हमारी अाखिरी बैठक होगी”

Posted by - November 24, 2018 0
अयोध्या। राम मंदिर को लेकर जहाँ एक तरफ सियासत गर्म है वही दूसरी तरफ विश्व हिंदू परिषद ने अपना बयांन…

‘मुल्ले काटे जाएंगे’ नारेबाजी पर सियासत गर्म, हिन्दू रक्षा दल के प्रमुख ने कहा- हमने कुछ गलत नहीं किया

Posted by - August 11, 2021 0
दिल्ली के जंतर मंतर में पिछले दिनों हिन्दू संगठनों ने एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें मुसलमानों को लेकर बेहद आपत्तिजनक…