Overdose of Almonds can be harmful

ज़्यादा बादाम सेहत के लिए हानिकारक, क्या है बादाम की सही ख़ुराक

919 0

तंदुरुस्ती हो, याददाश्त बढ़ानी हो, या चेहरे पर ग्‍लो लाना हो, सबके लिए बादाम खाने की सलाह दी जाती है। किसी को बादाम शाम में स्नैक्स की तरह पसंद है तो कोई बादाम को सुबह भिगोकर खाना पसंद करता है। मगर बादाम खाने की सही मात्रा की जानकारी न होना आपके शरीर को फायदों की जगह नुकसान पहुंचा सकता है? आइये जानते हैं कि बादाम खाने की सही खुराक क्या है और ज़्यादा खाने पर ये आपको कैसे नुकसान कर सकते हैं। विटामिन ई और फाइबर से भरपूर इन बादामों का सेवन आपके लिए फायदेमंद होता है। पर मात्रा से ज्यादा खाने पर आपको ये नुकसान हो सकते हैं।

वजन बढ़ सकता है

बादाम में बहुत ज़्यादा मात्रा में फैट और कैलोरीज होती है। 100 ग्राम बादाम में 50 ग्राम फैट होता है। हालांकि ये मोनोसैचुरेटेड फैट होता है जो दिल के स्वास्थ्य के लिए तो बहुत अच्छा है लेकिन अगर आप इस कैलोरी को बर्न नहीं कर रहे है, तो इससे आपका मोटापा बढ़ सकता है।

विटामिन ई की ओवरडोज

100 ग्राम यानि आधा कप बादाम में 25 मिलीग्राम विटामिन ई होता हैं। आपके शरीर को रोजाना 15 मिलीग्राम विटामिन ई की जरूरत होती है। अगर आप एक कप बादाम रोज खाते हैं तो आपके तीन दिन की खुराक एक बार में ही पूरी हो जाएगी। इससे आपको डायरिया, कमजोरी और आंखों की समस्या हो सकती है।

सिर्फ स्वाद ही नही सेहत में भी जबरदस्त है मूंगफली का हलवा

कच्चे बादाम में विषैले पदार्थ

आपको कड़वा या कच्‍चा बादाम खाने से परहेज़ करना चाह‍िए क्‍योंकि इसमें प्‍यूसिक एसिड और हाइड्रोसिनिक एसिड होते है जो विषैले होते हैं। ऐसे बादाम का सेवन ऐंठन और दर्द के इलाज में तो प्रभावी होती है लेकिन इसका ज्यादा सेवन शरीर में विषैले तत्वों को बढ़ा सकता है। बादाम में मौजूद हाइड्रोसाइनिक एसिड सांस की तकलीफ़, नर्वस ब्रेकडाउन, दम घुटने यहां तक कि मौत का कारण भी बन सकता है। गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए।

पेट में गैस बन सकती है

एक मुट्ठी बादाम में लगभग 170 ग्राम फाइबर होता है। वहीं, आपके शरीर को रोज़ाना सिर्फ 25 से 40 ग्राम फाइबर की जरुरत होती है, जो कि रोज़ाना 3 से 4 बादाम से ही पूरी हो सकती है। अगर आप इस मात्रा से ज़्यादा बादाम खाते हैं तो आपको डायरिया और कब्ज की परेशानी हो सकती है जिसकी शुरुआत पेट में ब्लोटिंग से होगी।

सतीश कौशिक बनाना चाहते हैं ‘तेरे नाम’ का सीक्वल

ज़्यादा ऑक्‍सलेट बना सकता है पथरी

जो लोग गुर्दे या पित्ताशय में पथरी के रोग से ग्रसित हैं, उन्‍हें बादाम का सेवन नहीं करना चाहिये। बादाम में ऑक्‍सलेट की मात्रा अधिक होती है, जो ऐसे रोगियों के लिए सेहतमंद नहीं। कुछ लोगों में बादाम का प्रोटीन रिएक्ट करके एलर्जी उत्पन्न करता है, उन्‍हें भी इसका सेवन नहीं करना चाहिये।

Related Post

द योग इंस्टीट्यूट ने योग में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार हासिल किया

Posted by - August 31, 2019 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग के संवर्धन और विकास की दिशा में उत्कृष्ट योगदान के लिए द योग…
मुख्यमंत्री राहत कोष में 12 लाख का चेक

अधिशासी अधिकारी सेवा संघ ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया 12 लाख का चेक

Posted by - April 23, 2020 0
लखनऊ। कोरोना से जंग जीतने के लिए उत्तर प्रदेश नगर पालिका अधिकारी सेवा संघ ने  नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन…