दुनिया के सबसे अमीर व्यापारी जेफ बेजोस स्पेस को छूकर लौटे

1195 0

बेजोस स्पेस ट्रैवल करने वाले दूसरे अरबपति बन गए। उनसे पहले ब्रिटेन के व्यापारी रिचर्ड ब्रैनसन Virgin Galactic में उड़ान पूरी कर लौटे थे। हालांकि, वह Karman Line के पार नहीं गए थे। बेजोस की यह फ्लाइट उनकी कंपनी की पहली ऐसी फ्लाइट थी जिसमें ऐस्ट्रोनॉट्स को ले जाया गया था।

भले ही बेजोस अंतरिक्ष की ऊंचाइयों को छूने वाले पहले अरबपति न बन सके हों, अपनी कंपनी Blue Origin के साथ उन्होंने अलग ही कहानी लिख दी है। दरअसल, जैसे ही इस फ्लाइट ने स्पेस का दरवाजा खटखटाया, एक्सपर्ट पायलट वॉली फंक दुनिया की सबसे उम्रदराज ऐस्ट्रोनॉट बन गईं। यही नहीं, उनके साथ ही 18 साल की उम्र में ओलिवर डेमन सबसे युवा ऐस्ट्रोनॉट हो गए।

न्‍यू शेफर्ड रॉकेट सबऑर्बिटल फ्लाइट है और यह ध्‍वनि की तीन गुना रफ्तार से अंतरिक्ष की ओर अपने कदम बढ़ा। यह तब तक सीधा अंतरिक्ष में जाता रहा जब तक कि उसका ज्‍यादातर ईंधन खत्‍म नहीं हो गया। इसके बाद कैप्सूल रॉकेट से अलग हो गया और कुछ देर बिना ग्रैविटी के बिताने के बाद कैप्सूल धरती की ओर लौटा। फिर पैराशूट खुले और कैप्सूल सफलतापूर्वक लैंड हो गया। पूरी उड़ान 10 मिनट 18 सेकंड की रही।

राज कुंद्रा संग पोर्नोग्राफी कंटेंट रैकेट में शामिल यूके बेस्ड प्रोडक्शन

अब से 52 साल पहले नील आर्मस्ट्रांग चांद की सतह पर कदम रखने वाले पहले इंसान बने थे। 16 जुलाई को अमेरिका के फ्लोरिडा प्रांत में स्थित जॉन एफ कैनेडी अंतरिक्ष केन्द्र से उड़ा नासा का अंतरिक्षयान अपोलो 11 चार दिन का सफर पूरा करके 20 जुलाई 1969 को इंसान को धरती के प्राकृतिक उपग्रह चांद पर लेकर पहुंचा। यह यान 21 घंटे 31 मिनट तक चंद्रमा की सतह पर रहा। था।

 

Related Post

संजय बांगड़

संजय बांगड़ ने बंगलादेश क्रिकेट बोर्ड का प्रस्ताव ठुकराया

Posted by - March 19, 2020 0
नयी दिल्ली। भारत के पूर्व बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ ने बंगलादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) का प्रस्ताव ठुकरा दिया है। बता…