Hardoi thana

हरदोई : धर्म छिपाकर सिपाही ने महिला का किया 6 साल तक शारीरिक शोषण

296 0

हरदोई। यूपी के हरदोई जिले में लव जिहाद का मामला सामने आया है, जहां पुलिस लाइन में तैनात आरक्षी के खिलाफ एक महिला की तहरीर पर दलित उत्पीड़न (Woman Accused Constable) का मामला दर्ज किया गया है। महिला का आरोप है कि पुलिसकर्मी ने अपना नाम और धर्म छिपाकर उसके साथ दोस्ती की और उसका 6 साल तक शारीरिक शोषण किया।

गोरखपुर: जनता दरबार में CM योगी ने सुनी लोगों की फरियाद

जिले में पुलिस लाइन में तैनात आरक्षी के खिलाफ एक महिला की तहरीर पर दलित उत्पीड़न (Woman Accused Constable) का मामला दर्ज किया गया है। महिला का आरोप है कि पुलिसकर्मी ने अपना नाम और धर्म छिपाकर उसके साथ दोस्ती की और उसका 6 साल तक शारीरिक शोषण किया। इस दौरान तीन बार उसका गर्भपात भी कराया गया। वहीं, शादी की बात कहने पर पुलिसकर्मी शादी से मुकर गया।

पुलिस से शिकायत के बाद पुलिसकर्मी ने उसे अपने साथ तो रख लिया लेकिन पत्नी का दर्जा नहीं दिया और भगा दिया। पीड़ित महिला ने पूरे मामले की शिकायत पुलिस से की है, जिसके बाद महिला थाने में आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है और पूरे मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।

हरदोई जिले के महिला थाने में उन्नाव जिले के सफीपुर की रहने वाली है एक युवती ने हरदोई जिले की पुलिस लाइन में तैनात सिपाही नदीम के खिलाफ दुष्कर्म दलित उत्पीड़न और धर्मांतरण के नए कानून के तहत मुकदमा दर्ज कराया है।

युवती का आरोप है कि पुलिस लाइन में तैनात सिपाही नदीम 2013 में उन्नाव जिले में तैनाती के दौरान एक एप्लीकेशन की जांच करने उसे घर आया था, जहां उसने अपना नाम राहुल बताया और जांच के बहाने उसने उसका नंबर ले लिया। युवती का आरोप है कि नदीम ने अपना नाम बदलकर राहुल बताया और उसको अपना सजातीय बताया और सीओ का गनर बताते हुए अपने झांसे में लिया और शारीरिक शोषण किया। जब उसने शादी की बात की तो राहुल ने बहाना बनाया और शादी से मुकर गया।

इसी बीच पीड़िता को मामले का जानकारी लग गई तो उसने पूरे मामले की शिकायत उन्नाव की तत्कालीन एसपी सोनिया सिंह से की। एसपी के हस्तक्षेप के बाद राहुल बने नदीम ने उसे अपने साथ रखना शुरू कर दिया, लेकिन विवाह के तहत किसी भी प्रकार की कोई कानूनी प्रक्रिया नहीं अपना।

युवती के मुताबिक इस दौरान वह तीन बार गर्भवती हुई तो सिपाही नदीम ने उसका गर्भपात भी करा दिया। आरोप है कि लगातार सिपाही उसका शारीरिक शोषण करता चला रहा है और उसे प्रताड़ित कर रहा है और धमकी भी देता है। परेशान युवती ने हरदोई पहुंच कर पूरे मामले की शिकायत पुलिस से की. महिला थाने में सिपाही के खिलाफ दलित एक्ट दुष्कर्म व देहात के बनाए गए नए कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है और पूरे मामले की जांच सीओ बघौली को सौंपी गई है।

अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी कपिल देव सिंह के अनुसार-

महिला थाना में धर्म परिवर्तन के नए कानून के तहत एक सिपाही के खिलाफ मामला पंजीकृत किया गया है। महिला का आरोप है कि सिपाही ने नाम और धर्म के बदलकर उसके साथ दोस्ती की और उसका शारीरिक शोषण किया और उसे पत्नी का दर्जा भी नहीं दिय। महिला की तहरीर पर आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ दुष्कर्म, दलित उत्पीड़न और धर्म परिवर्तन के नए कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है और पूरे मामले में विवेचनात्मक कार्यवाही की जा रही है।

Related Post