तेज बहादुर

वाराणसी : तेज बहादुर का खारिज हो सकता है नामांकन, चुनाव आयोग ने भेजा नोटिस

565 0

वाराणसी। वाराणसी लोकसभा सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नामांकन दाखिल करने वाले बीएसएफ के बर्खास्‍त जवान तेज बहादुर यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। यहां तक कि उनके चुनाव लड़ने पर संशय भी बढ़ गया है। बता दें कि तेज बहादुर की ओर से दाखिल नामांकन पत्र में अर्धसैनिक बल से बर्खास्‍तगी को लेकर दो अलग-अलग दावे किए गए हैं। इस मामले में अब जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र सिंह ने तेज बहादुर को नोटिस जारी किया है।

1 मई को सुबह 11 बजे तक जवाब देने के लिए दिया वक्‍त

जिला निर्वाचन अधिकारी ने तेज बहादुर को 1 मई को सुबह 11 बजे तक जवाब देने का समय दिया गया है। बता दें कि तय समय पर जवाब नहीं देने की स्थिति में उनका पर्चा खारिज भी हो सकता है। तेज बहादुर ने वाराणसी सीट से पहले निर्दलीय प्रत्‍याशी के तौर पर नामांकन भरा था, लेकिन बाद में समाजवादी पार्टी ने उन्‍हें टिकट दे दिया। इस तरह वह गठबंधन के प्रत्‍याशी के तौर पर पीएम मोदी के खिलाफ मैदान में हैं।

ये भी पढ़ें :-लाइलाज बीमारियों की आयुर्वेदिक दवाएं तैयार करेगी CSIR की 36 प्रयोगशालाएं 

बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव की बढ़ती नजर आ रही हैं मुश्किलें

बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर के लिए सपा ने जिस शालिनी यादव का टिकट काटा है वह पूर्वांचल के बड़े राजनीतिक घराने से संबंध रखती हैं। वह अब भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी से उम्मीदवार हैं, क्योंकि उन्होंने अभी नामांकन वापस नहीं लिया है। उनका अपना जनाधार है। इसलिए सपा के नए उम्मीदवार और बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। शायद इसीलिए पार्टी अब शालिनी के मान मनोव्वल करने में जुटी हुई है।

ये भी पढ़ें :-राफेल डील मामले में SC से मोदी को बड़ा झटका, चार मई तक में दाखिल करें जवाब 

नामांकन वापस लेने को तैयार नहीं शालिनी

शालिनी यादव पूर्वांचल में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे श्यामलाल यादव की बहू हैं। वह 22 अप्रैल को ही कांग्रेस से इस्तीफा देकर सपा में शामिल हुई थीं। शालिनी यादव ने कहा है कि अगर अखिलेश यादव कहेंगे तो वह अपना नामांकन वापस ले लेंगी, लेकिन अगर पार्टी की तरफ से नहीं कहा जाएगा तो चुनाव लड़ेंगी।

Related Post

लोकसभा की कार्यवाही लगातार बाधित होने पर बरसे स्‍पीकर, बोले- ये नारेबाजी की प्रतियोगिता नहीं

Posted by - July 27, 2021 0
संसद के मॉनसून सत्र के दौरान पेगासस मुद्दे पर विपक्षी दलों का हंगामा लोकसभा और राज्यसभा में मंगलवार को भी…

भाजपा प्रवक्ता ने टीएमसी प्रवक्ता को कहा लंपट, जवाब मिला – तुम प्रेम चोपड़ा मुर्गी चोर हो

Posted by - July 4, 2021 0
उत्तराखंड में संवैधानिक संकट के चलते सीएम पद से हटाए गए मुख्यमंत्री के बाद अब पश्चिम बंंगाल में ममता बनर्जी…