रिलायंस ने रचा इतिहास

रिलायंस 11 लाख करोड़ रुपये से अधिक बाजार पूंजीकरण की पहली कंपनी बन रचा इतिहास

162 0

नई दिल्ली। देश के अग्रणी औद्योगिक समूह रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने कर्जमुक्त होने के ऐलान के साथ शुक्रवार को इतिहास रचते हुए 11 लाख करोड़ रुपये से अधिक बाजार पूंजीकरण वाली देश की पहली कंपनी होने का गौरव हासिल किया और साथ ही चौतरफा लिवाली से कंपनी के शेयरों ने भी नया मुकाम हासिल किया।

मुकेश अंबानी ने आज सुबह ही रिलायंस के लक्ष्य से नौ माह पहले कर्ज मुक्त होने की घोषणा की

मुकेश अंबानी ने आज सुबह ही रिलायंस के लक्ष्य से नौ माह पहले कर्ज मुक्त होने की घोषणा की। इस ऐलान के बाद शेयर बाजारों में रिलायंस के शेयर ने छलांग लगानी शुरू कर दी। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में आज शुरुआत में रिलायंस का शेयर 1667 रुपये पर खुला और ऐतिहासिक 1788.80 रु के उच्चतम स्तर तक जा पहुंचा। पिछले दिन के मुकाबले शेयर 100 रु से अधिक ऊपर चढ़ा। बाजार बंद होने पर 6.48 फीसदी की छलांग के साथ रिलायंस का शेयर 1763.20 रुपये पर 107.30 रुपये ऊपर बंद हुआ। एनएसई पर रिलायंस के करीब चार करोड़ 88 लाख से अधिक शेयरों में खरीद फरोख्त हुई।

इस वर्ष 23 मार्च के बाद मात्र 59 कारोबारी सत्र में उनका पैसा दो गुना से ज्यादा हो गया

रिलायंस के निवेशकों की भी बल्ले-बल्ले है। इस वर्ष 23 मार्च के बाद मात्र 59 कारोबारी सत्र में उनका पैसा दो गुना से ज्यादा हो गया। 23 मार्च को रिलायंस का शेयर 867.50 रुपये का था जो आज 1763.20 रुपए पर बंद हुआ। शेयर में छंलाग के साथ ही रिलायंस ने 11 लाख करोड़ रुपये से अधिक के बाजार पूंजीकरण वाली देश की पहली कंपनी बनने का इतिहास भी रचा। रिलायंस का मार्केट कैप 11.50 लाख करोड़ रुपये था। इससे पहले देश की कोई भी कंपनी 11 लाख का आंकड़ा अभी तक नही छू पायी थी।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया रचने जा रहा है नया इतिहास, एलिस पैरी को मिल सकता है बड़ा पद

रिलायंस ने इस बाधा को पार करते हुए अपने मार्केट कैप को 11 लाख 50 हजार करोड़ के पार पहुंचा दिया

रिलायंस ने इस बाधा को पार करते हुए अपने मार्केट कैप को 11 लाख 50 हजार करोड़ के पार पहुंचा दिया। भारतीय कॉरपोरेट इतिहास में यह अभूतपूर्व उपलब्धि है। रिलायंस अब विश्व की तेल क्षेत्र की महारथी टोटल एस ए, रायल डच शैल और बी पी से अधिक मूल्यवान हो गई है।श्री अंबानी ने आरआईएल को पूरी तरह ऋणमुक्त होने की आधिकारिक घोषणा करते हुए कहा कि समूह में निवेशकों के विश्वास और रिलायंस के राइट इश्यू को मिले जोरदार समर्थन से यह लक्ष्य साढ़े नौ माह पहले ही हासिल करने में सफलता मिल गई।

12 अगस्त 2019 को आरआईएल को मार्च 2021 तक ऋणमुक्त करने का लक्ष्य तय किया था

उन्होंने 12 अगस्त 2019 को आरआईएल को मार्च 2021 तक ऋणमुक्त करने का लक्ष्य तय किया था और इस वर्ष 31 मार्च तक समूह पर एक लाख 61 हजार 35 करोड़ रुपए का रिण था। कंपनी ने दस निवेशकों के ग्यारह प्रस्तावों और राइट इश्यू से कोरोना वायरस महामारी की वजह से लाकडाउन के बावजूद मात्र 58 दिन में कुल एक लाख 68 हजार 818 करोड़ रुपये जुटा लिये जो उसके शुद्ध ऋण की तुलना में अधिक राशि है।

कंपनी ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 11 निवेश प्रस्तावों में 24.70 प्रतिशत इक्विटी बेचकर एक लाख 15 हजार 693 करोड़ 93 लाख रुपये जुटाये

कंपनी ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 11 निवेश प्रस्तावों में 24.70 प्रतिशत इक्विटी बेचकर एक लाख 15 हजार 693 करोड़ 93 लाख रुपये जुटाये। इसके अलावा 30 वर्षों में पहली बार लाए राइट इश्यू से 53124.20 करोड़ रुपये की राशि है। किसी गैर वित्तीय संस्थान के दस वर्षों में आए राइट इश्यू को लाॅकडाउन की वजह से तरलता की तंगी के बावजूद आकार की तुलना में 1.59 गुना अधिक अभिदान मिला। कंपनी ने 15 शेयरों पर एक शेयर राइट इश्यू पर दिया है। श्री अंबानी ने कहा कि पेट्रो संयुक्त उद्यम में बीपी को बेची इक्विटी को मिलाकर कुल जुटाई रकम 1.75 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो गई है।

Loading...
loading...

Related Post

इमरान के बयान का विदेश मंत्रालय ने किया खंडन, कहा- हमारी परमाणु नीति में कोई बदलाव नहीं

Posted by - September 3, 2019 0
इस्लामाबाद। कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इमरान एक नाटकीय अंदाज में सुर…
छात्रा साक्षी यादव

छात्रा साक्षी यादव ने एसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा को दी 11 हजार की सहायता राशि

Posted by - April 10, 2020 0
लखनऊ। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन के…