मुनाफाखोरों को ये अधिकारी ने सिखाया सबक

मुनाफाखोरों को ये अधिकारी ने सिखाया सबक, नहीं सुधरे तो होगी कठोर कार्रवाई

202 0

लखनऊ। कोराना वायरस के चलते पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन लागू है। प्रदेश की योगी सरकार जरूरतमंदों किसी भी चीज की कमी न हो। इसके लिए सख्त निर्देश जारी किए हुए है, लेकिन इस सबके बावजूद राजधानी लखनऊ के कुछ मुनाफाखोर इस संकट की घड़ी में भी लोगों की मजबूरी का फायदा उठाने में लगे हैं।

मुनाफाखोरों को सबक सिखाने की लखनऊ मोहनलाल गंज की एसडीएम पल्लवी मिश्रा ने ठानी

ऐसे समय में मुनाफाखोर जरूरत के सामान का दाम दुगना कर अपनी झोली भरने में लगे हैं। इसकी भनक लगते ही मुनाफाखोरों को सबक सिखाने की लखनऊ मोहनलाल गंज की एसडीएम पल्लवी मिश्रा ने ठानी। जिसके बाद  उन्होंने दिखा दिया कि अगर अफसर जिम्मेदारी से अपना फर्ज निभाएं तो देश को सुधारा जा सकता है।

कोरोना वायरस से बचने के लिए घर पर बनाएं फेस मास्क, जानें पूरा प्रोसेस

एसडीएम पल्लवी भेष बदलकर मुनाफाखोरों को सबक सिखाने के लिए निकलीं सड़कों पर

एसडीएम पल्लवी ने मुनाफाखोरों को सबक सिखाने के लिए अफसर की भूमिका की जगह एक गरीब महिला का किरदार निभाया। इसके लिए उन्होंने पहले अलमारी से एक पुराना सूट निकाला। इसके बाद पुरानी हवाई चप्पल पहनीं। ताकि उनकी दशा गरीब की ही लगे, इसके लिए महिला कर्मचारी से एक पुराना पर्स लिया और चेहरा ढंककर राशन और रोजमर्रा की वस्तुओं की दुकानों पर भीड़ के बीच खड़ी हो गईं। जब उनका नंबर आया, तो वह ये देखकर हैरान थीं कि जो चीज एमआरपी पर पांच या दस रुपये की थी, उसका दाम दुकानदार दोगुना वसूल रहे हैं। खैर एसडीएम ने वस्तुओं का बिल चुकाया और चुपचाप लौट गईं।

क्या जूतों से भी फैल सकता है कोरोना इंफेक्शन, जानें क्या करें?

जब दुकानदारों के पास पहुंचा नोटिस तब होश उड़े

बता दें कि एसडीएम पल्लवी ने करीब 20 दुकानों पर जाकर यह जांच की। हर दुकान पर यही आलम था कि तय मूल्य से डबल मूल्य वसूले जा रहे थे। पल्लवी ने बाद में सभी दुकानदारों को नोटिस भिजवाया तो दुकानदारों के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। बाद में सभी दुकानदारों को चेतावनी दी गई कि यदि मूल्य से ज्यादा पैसा वसूला तो खैर नहीं। कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कोरोना संकट के बीच गरीबों को दो वक्त की रोटी दिलाना ही पल्लवी का है मकसद

देश व प्रदेश में जारी कोरोना संकट के बीच गरीबों को दो वक्त की रोटी मिल पाना मुश्किल हो रहा है। पल्ल्वी अपनी ओर से तो संभव मदद कर ही रही हैं, लेकिन सभी को मदद कर पाना संभव भी नहीं है। ऐसे में गरीबों को उचित दाम पर आटा, दाल, चावल आदि मिले इसके लिए उन्होंने इस तरह का अभियान चलाने की ठानी है। पल्लवी कहा कि अब कानून के डर से मुनाफाखोर गरीबों से अनुचित दाम वसूलने से पहले 10 बार सोचेंगे। इस अभियान से संकट के समय गरीबों के साथ अब अन्याय नहीं होगा।

Loading...
loading...

Related Post

डोनाल्ड ट्रंप

ट्रंप संग मेलानिया ने चलाया चरखा, आंगतुक पुस्तिका में गांधी का जिक्र न कर लिखा

Posted by - February 24, 2020 0
गुजरात। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया, बेटी इवांका और दामाद जेरेड कुशनेर के साथ अहमदाबाद पहुंच चुके…
'साइकिल गर्ल' ज्योति

‘साइकिल गर्ल’ ज्योति ने फिर दोबारा किया बड़ा काम, गरीब बुआ की कराई शादी

Posted by - June 16, 2020 0
  पटना। लॉकडाउन के दौरान बीमार पिता को साइकिल के कैरियर पर बिठाकर गुरुग्राम से दरभंगा लाने वाली साइकिल गर्ल…