शाहीन बाग

शाहीन बाग: 40 दिनों बाद पुलिस की कार्रवाई शुरू, 7-8 लोगों को मंच से उठाकर पहुंचाया थाने

144 0

नई दिल्ली। पिछले 40 दिनों से दिल्ली के शाहीन बाग में महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ लगातार प्रदर्शन कर रही हैं। इसमें हर उम्र की औरतें दिन-रात प्रदर्शन पर बैठी हैं। जो अब न सिर्फ दिल्ली के लोगों तक ही बल्कि पूरे देश की पहचान बन चुकी हैं।

लेकिन 40 दिनों से शांत पुलिस अब कार्रवाई शुरू कर दी है। जिसके तहत पुलिस मंच से सात-आठ लोगों को पूछताछ के लिए थाने ले गई है।इससे नाराज प्रदर्शनकारी थाने पहुंचे हैं। गिरफ्तारी से प्रदर्शनकारियों में आक्रोश है और जुमे की नमाज के बाद से ही स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

वहीं प्रदर्शनस्थल पर कुल पांच लंगर चलते हैं, जिनके संचालकों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और इन्हें किसी गुप्त स्थान पर ले गई है। पुलिस ने लंगर के तंबू हटा दिए हैं और सड़कों पर लगी दुकानों को भी हटाने की चेतावनी दी है।

बढ़ती उम्र के लक्षणों से लड़ने में फायदेमंद और कई गुणों से भरपूर है गाजर का जूस

पुलिस की कार्रवाई से नाराज प्रदर्शनकारी जबरन पूरे इलाके की दुकानों को बंद करा रहे हैं। प्रदर्शनकारी शाहीन बाग से सटे दूसरे इलाके की दुकानों को बंद कराकर थाने का घेराव करने जा रहे हैं।

यहां प्रदर्शन के कारण शाहीन बाग से कालिंदी कुंज वाला मार्ग पूरी तरह से बंद है। इसके चलते नोएडा से दिल्ली और दिल्ली से नोएडा आने-जाने वालों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। यही नहीं छात्रों, दफ्तर जाने वालों, मरीजों और अस्पताल कर्मचारियों को भी काफी परेशानी हो रही है।

Loading...
loading...

Related Post

यूपी पीडब्ल्यूडी में 50 करोड़ का घोटाला

यूपी पीडब्ल्यूडी में 50 करोड़ का घोटाला, योगी को सौंपी गोपनीय रिपोर्ट

Posted by - January 19, 2020 0
लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) में रविवार को 50 करोड़ रुपये का घोटाला उजागर हुआ है। इसके बाद…

महाराष्ट्र चुनाव: पहली बार चुनाव लड़ रहे आदित्य का संजय ने खुलकर किया समर्थन

Posted by - October 16, 2019 0
मुंबई।  महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में पहली बार चुनावी मैदान में शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे उतरे हैं जिनके समर्थन…
अनुप्रिया

अनुप्रिया देश की पहली आदिवासी कॉ​मर्शियल महिला पायलट बनीं, पूरा हुआ सपना

Posted by - December 26, 2019 0
नई दिल्ली। ओडिशा के माओवाद प्रभावित मलकानगिरि जिले की एक आदिवासी लड़की ने सालों पहले आकाश में उड़ने का सपना…