गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस : दुनिया ने देखी भारत की सैन्य ताकत, झांकियों ने जीता दर्शकों का दिल

201 0

नई दिल्ली। देश में 71वां गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। गणतंत्र दिवस पर रविवार को राजपथ से दुनिया ने भारत की सैन्य का नमूना देखा। इसके साथ ही सांस्कृतिक झाकियों ने भी दर्शकों का दिल जीता है। समारोह के मुख्य अतिथि ब्राजील के राष्ट्रपति जाईख मेसीआस बोल्सोनारो भी आनंद लेते नजर आए। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, तीनों सेना प्रमुखों और प्रमुख रक्षा अध्यक्ष बिपिन रावत की मौजूदगी में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

इसके बाद परेड का सिलसिला शुरू हुआ। सबसे पहले तीनों सेनाओं ने अपने हथियारों का प्रदर्शन किया गया। राजपथ पर भारतीय सेना का T-90 भीष्म टैंक को पेश किया। इस टैंक को कैप्टन सन्नी चहर कमांड कर रहे थे। इसके अलावा के-9 वज्र-टी टैंक की भी परेड में शामिल किया गया। कैप्टन अभिनव साहू इस टैंक को कमांड कर रहे थे।

नेवी ने बोइंग पी8I लॉन्ग रेंज मेरीटाइम पट्रोल एयरक्राफ्ट और कोलकाता क्लास डिस्ट्रायर को पेश किया गया। राजपथ पर भारतीय सेना की पैराशूट रेजिमेंट की टुकड़ी भी नजर आयी। इनके कदम ताल ने सभी का दिल मोह लिया।

तीनों सेनाओं के बाद राजपथ पर राज्यों की झाकियों का सिलसिला शुरू हुआ। सबसे पहले छत्तीसगढ़ की झांकी दिखायी दी। झांकियों को लेकर राजपथ पर मौजूद दर्शकों में भारी उत्साह भी देखने को मिला. छत्तीसगढ़, मेघालय, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, जम्मू कश्मीर, राजस्थान, ओडिशा, तेलंगानाऔर गोवा की झाकियां राजपथ पर प्रदर्शित की गईं। सभी झाकियों में उन राज्यों की सांस्कृतिक विरासत की झलक देखने को मिली। इसके साथ ही अलग अलग मंत्रालयों की झांकी ने भी दर्शकों का मन मोह लिया है। 90 मिनट की परेड में कुल 22 झांकियां देखने को मिलीं।

सेजल शर्मा आत्महत्या मामले में शक की सुई खास दोस्त पर टिकी, आखिरी समय में हुई बात

झांकियों के बाद अलग अलग स्कूल के बच्चों ने विभिन्न राज्यों का लोक नृत्य पेश किया। बच्चों के प्रदर्शन के बाद राजपथ पर सीआरपीएफ की महिला डेयर डेविल्स का दस्ता हैरत अंगेज कारनामे दिखाती नजर आयीं। यह पहली बार है जब महिला दस्ते ने इस तरह के करतब को अंजाम दिया है। इसके बाद आसमान में वायुसेना के हेलिकॉप्टर और जंगी जहाजों के बेड़े ने भी नजर आए। कार्यक्रम के खत्म होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाथ हिलाकर दर्शकों का अभिवादन किया। दर्शकों ने भी उनका अभिवादन कर उनकी तस्वीरें भी लीं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर साफा बांधने की अपनी परंपरा को बरकरार रखा। इस बार गणतंत्र दिवस पर उन्होंने केसरिया रंग का ‘बंधेज’ का साफा बांधा। गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री के परिधान में खास तौर पर उनके साफे की काफी चर्चा होती है। पिछले साल प्रधानमंत्री ने लाल किले की प्राचीर से छठवीं बार स्वतंत्रता दिवस का भाषण दिया था और उस दौरान उन्होंने कई रंगों वाला साफा बांधा था। वहीं 2014 में मोदी ने प्रधानमंत्री के तौर पर पहली बार अपने भाषण के दौरान लाल रंग का बंधेज वाला साफा पहना था जिसकी पीछे की पट्टी का रंग हरा था।

Loading...
loading...

Related Post

Akhilesh yadav meets mbbs students

बीजेपी सरकार में हुई महिला अपराधों में बढ़ोतरी : अखिलेश यादव

Posted by - March 9, 2021 0
लखनऊ। एसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर नारीशक्ति को हार्दिक बधाई दी। इस…
राम गोपाल वर्मा पर बड़ा आरोप

शर्लिन चोपड़ा का डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा पर बड़ा आरोप, भेजते थे अश्लील वीडियो

Posted by - August 17, 2019 0
मुंबई। बॉलीवु़ड एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा हाल ही में हिंदी सिनेमा जगत के मशहूर डारेक्टर राम गोपाल वर्मा को लेकर बड़ा…
mukhtar-ansari

मोहाली कोर्ट ने चिकित्सकीय जांच के अनुरोध वाली मुख्तार अंसारी की याचिका की खारिज

Posted by - April 2, 2021 0
चंडीगढ़। मोहाली की एक अदालत ने गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की, उनकी चिकित्सकीय जांच के लिए…