रणजीत बच्चन हत्याकांड

रणजीत बच्चन हत्याकांड : पुलिस कमिश्नर बोले-दूसरी पत्नी ने प्रेमी संग मिल कराई हत्या

82 0

लखनऊ। विश्व हिंदू महासभा के अन्तर्राष्ट्रीय अध्यक्ष रणजीत बच्चन हत्याकांड का खुलासा हो गया है। रणजीत की हत्या उसकी दूसरी पत्नी स्मृति श्रीवास्तव ने अपने प्रेमी देवेंद्र के साथ मिलकर करवाई है। देवेंद्र और स्मृति शादी करना चाहते थे, जिसमें रणजीत बच्चन बाधा बन रहे थे।

रणजीत बच्चन हत्याकांड में शामिल स्मृति श्रीवास्तव, देवेंद्र और संजीत गौतम गिरफ्तार , जबकि वारदात को अंजाम देने वाला शूटर जितेंद्र फरार

पुलिस कमिश्नर लखनऊ सुजीत पांडेय ने गुरुवर को प्रेस कांफ्रेंस कर पूरे मामले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वारदात में शामिल स्मृति श्रीवास्तव, देवेंद्र और संजीत गौतम को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि वारदात को अंजाम देने वाला शूटर जितेंद्र फरार है।

नुसरत जहां ने TikTok पर दिखाईं ऐसी अदाएं,वीडियो हुआ वायरल 

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि रणजीत बच्चन की हत्या के लिए स्मृति के प्रेमी देवेंद्र ने उकसाया था। स्मृति की गिरफ्तारी लखनऊ के विकास नगर स्थित उसके आवास से हुई, जबकि देवेंद्र को उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश बॉर्डर से गिरफ्तार किया गया है। रात तक उसे लखनऊ ले आया जाएगा।

संजीत गौतम को मोहनलालगंज के जबरौली से गुरुवार दोपहर गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि संजीत वही शख्स है जो कार चलाकर शूटर जीतेंद्र को हजरतगंज भाजपा मुख्यालय के पास छोड़ देता है। जहां से जितेंद्र रणजीत के पीछे ग्लोब पार्क तक जाता है और उसकी हत्या कर देता है। शूटर जितेंद्र अभी भी फरार है।

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि पूछताछ में पता चला कि स्मृति और देवेंद्र करना चाहते थे शादी 

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि पूछताछ में पता चला कि स्मृति और देवेंद्र शादी करना चाहते थे, लेकिन रणजीत स्मृति को तलाक नहीं दे रहे थे। ये मामला 2016 से कोर्ट में लंबित था। जिससे देवेंद्र ने स्मृति के साथ मिलकर रणजीत बच्चन को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। इसमें संजीत गौतम भी शामिल था।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि रणजीत हत्याकांड में लगभग 60 से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज देखे गए

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि रणजीत हत्याकांड में लगभग 60 से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज देखे गए। इसमें भाजपा कार्यालय के पास लगे एक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में बोलेनो कार और उससे उतरते संदिग्ध हत्यारे को शॉल ओढ़े हुए जाते देखा गया। इस फुटेज में दिखी कार दीपेन्द्र की निकली और उसे चलाने वाला चालक संजीत था। कार से उतरकर शॉल ओढ़े जाता हुआ जितेन्द्र है, जिसकी गिरफ्तारी नहीं हो पायी है। उन्होंने बताया कि स्मृति ने ही अपने पति रणजीत की हत्या कराने के लिए दीपेन्द्र को उकसाया है। स्मृति रणजीत की दूसरी पत्नी थी और पहली पत्नी कालिंदी के रहते हुए रणजीत ने 2015 में स्मृति से विवाह कर लिया था। इसके बाद भी स्मृति से रणजीत का मिलना जुलना जारी था। दोनों की एक बच्ची भी है। कालिंदी को यह बात पता थी। रणजीत कालिंदी के साथ ही ओसीआर बिल्डिंग में रहते थे।

कालिंदी ने कहा तीन पत्नी वाली बात अफवाह 

रणजीत की पहली पत्नी कालिंदी शर्मा ने पुलिस को बताया है कि उनके विवाह के कुछ समय बाद रणजीत ने 2015 में लखनऊ की रहने वाली स्मृति से दूसरा विवाह कर लिया था। इससे कालिंदी को आपत्ति थी। रणजीत कालिंदी की बात स्मृति से भी कराते थे। कालिंदी के बच्चे की मौत हो जाने के बाद उसने स्मृति से बातचीत बंद कर दी। रणजीत स्मृति और उसकी बेटी से मिलने जाते थे। इसके अलावा कालिंदी ने तीन पत्नियों वाली बात को पूरी तरह से अफवाह बताया है।

रणजीत नहीं जाते थे ग्लोब पार्क 

रणजीत बच्चन रोजाना सुबह की सैर के लिए दयानिधान पार्क में जाते थे। घटना वाले दिन रणजीत टहलते हुए ग्लोब पार्क की तरफ मुड़ गये। कार से उतरकर शूटर जितेन्द्र ने शॉल ओढ़े उनका पीछा ​किया और मौका देखकर गोली चला दी। इस घटना को लूट दिखाने के लिए मोबाइल भी छीन लिया।

50 हजार का इनाम, चार पुलिसकर्मी  निलम्बित

रणजीत बच्चन की हत्या होने के तुरंत बाद ही पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने परिवर्तन चौकी के प्रभारी समेत चार पुलिसकर्मियों को निलम्बित कर दिया। हत्यारोपित की गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया।
Loading...
loading...

Related Post

स्वैच्छिक रक्तदान

जीवन बचाने के लिए किसी मेडिकल नहीं बल्कि मानवता की डिग्री जरूरी

Posted by - February 23, 2020 0
लखनऊ। महिला पतंजलि योग समिति द्वारा केजीएमयू के ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग व आशियाना गुरुद्वारा समिति के सहयोग से सेक्टर एम…
क्रिसमस ट्री

Merry Christmas: क्रिसमस ट्री सजाते समय इन बातों का ध्यान न रखने से होता है बड़ा दोष

Posted by - December 23, 2019 0
लाइफस्टाइल डेस्क। वैसे तो क्रिसमस का त्यौहार हर कोई मनाता हैं। लेकिन इसाई धर्म को मानने वाले लोग क्रिसमस का…