cm yogi

अटल जयन्ती की पूर्व संध्या पर सीएम योगी ने ‘साहित्यगंधा’ पुस्तिका का लोकार्पण किया

122 0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने शुक्रवार को यहां कहा कि भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) का व्यक्तित्व बहुत ही विराट था। उनके जैसा कोई दूसरा व्यक्ति नहीं हो सकता है।

मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) आज यहां साइंटिफिक कंवेन्शन सेण्टर, केजीएमयू में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयन्ती (Atal Jayanti) की पूर्व संध्या पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम ‘अटल राम संकल्प, अपने-अपने राम’ का आयोजन पं0 अटल बिहारी वाजपेयी मेमोरियल फाउण्डेशन द्वारा किया गया था।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने अटल जी की स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करते हुए कहा कि उनकी स्मृतियों के संदर्भ में इस प्रकार का आयोजन सराहनीय है। उन्होंने कहा कि अटल जी दलीय सीमाओं से ऊपर उठकर पक्ष और विपक्ष सभी की श्रद्धा और सम्मान के पात्र थे। उनका 06 दशकों तक का लम्बा सार्वजनिक जीवन निष्कलंक रूप से रहा। अटल जी जैसा विराट व्यक्तित्व कोई दूसरा नहीं हो सकता। अटल जी का मानना था कि राजनीति मूल्यों और आदर्शों की होनी चाहिए। सिद्धांतविहीन राजनीति का स्थान सार्वजनिक जीवन में नहीं होना चाहिए। उन्होंने सार्वजनिक जीवन में कभी भी मूल्यों और आदर्शों से समझौता नहीं किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अटल जी सार्वजनिक जीवन और कार्यों में समग्रता की दृष्टि रखते थे। वे मानवतावादी, प्रखर चिंतक एवं बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी, लोकप्रिय और सर्वमान्य राजनेता थे, जिनका सभी सम्मान और आदर करते थे। अटल जी एक साहित्यकार और संवेदनशील कवि भी थे। उनका व्यक्तित्व और कृतित्व हम सभी को प्रेरणा देता है।

योगी ने कहा कि अटल जी का मानना था कि ‘आदमी न ऊंचा होता है, न नीचा होता है, न छोटा होता है, न बड़ा होता है, आदमी सिर्फ आदमी होता है’। उन्होंने यह भी कहा कि ‘छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता’। साथ ही, यह भी कि ‘मेरे प्रभु मुझे इतनी ऊंचाई कभी मत देना कि मैं गैरों को गले न लगा सकूं’। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि स्वतंत्र भारत में अटल जी की परम्परा का अनुसरण करते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी एक सच्चे कर्मयोगी की भांति देश हित और देशवासियों के कल्याण के लिए निरन्तर कार्य कर रहे हैं। उनके नेतृत्व और कुशल मार्गदर्शन में अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। काशी में नवनिर्मित बाबा विश्वनाथ धाम का लोकार्पण किया जा चुका है।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा ‘साहित्यगंधा’ पुस्तिका का विमोचन किया गया। उन्होंने अटल जी के साथ कार्य करने वाले महानुभावों को सम्मानित किया। साथ ही, विभिन्न प्रतियोगिताओं के युवा विजेताओं को भी सम्मानित किया।

श्रद्धेय पं0 अटल बिजारी वाजपेयी मेमोरियल फाउण्डेशन के अध्यक्ष ब्रजेश पाठक ने कार्यक्रम में सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए अटल जी की स्मृतियों एवं संस्मरणों को साझा किया।

कार्यक्रम में कवि कुमार विश्वास द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी की स्मृतियों के परिप्रेक्ष्य में ‘अटल राम संकल्प, अपने-अपने राम’ की प्रस्तुति की गयी।

इस अवसर पर केन्द्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, पूर्व केन्द्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह, प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, नगर विकास मंत्री आशुतोष टण्डन, जल शक्ति मंत्री डॉ0 महेन्द्र सिंह, बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सतीश चन्द्र द्विवेदी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, लखनऊ की महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया तथा गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

 

Related Post

महाराष्ट्र: एनसीपी ने जारी की विधानसभा चुनाव के लिए स्टार प्रचारकों की सूची

Posted by - October 5, 2019 0
महाराष्ट्र। एनसीपी ने विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार यानी आज स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। इस 40…
cm tirath singh rawat

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत हुए कोरोना पॉजिटिव, दिल्ली का दौरा हुआ स्थगित

Posted by - March 22, 2021 0
देहरादून। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।  हाल ही में उन्होंने अपना कोरोना जांच के लिए सैंपल…
स्वास्थ्य केंद्र के बाहर बलात्कार पीड़िता के पिता की सड़क दुर्घटना में मौत

स्वास्थ्य केंद्र के बाहर बलात्कार पीड़िता के पिता की सड़क दुर्घटना में मौत

Posted by - March 11, 2021 0
घाटमपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर एक बलात्कार पीड़िता  के पिता की बुधवार को कथित तौर पर सड़क दुर्घटना में…