फेफड़ों को वायु प्रदूषण से बचाना है तो अपनाए ये असरदार उपाए

160 0

हेल्थ डेस्क.   वायु प्रदूषण को लेकर दिल्ली एक बार फिर से चर्चा में बना हुआ है. दिल्ली वालों पर प्रदूषण और कोरोनावायरस दोनों का ख़तरा बना हुआ है. प्रदूषित हवा में सांस लेने से अस्थमा, निमोनिया, लंग डीजीज, लंग कैंसर और फेफड़ों की अन्य बीमारियां जैसी कई समस्याएं हो जाती हैं. सर्दियों में तो हालात और भी नाजुक को जाते है. जिस हवा में हम सांस ले रहे हैं, वह प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंच चुकी है. इसलिए जरूरी है कि हम अपनी सेहत का अच्छे से ख्याल रखे. वायु प्रदूषण का सबसे खतरनाक असर आपके फेफड़ों पर पड़ता है. ऐसे में अपने खान पान और दिनचर्या में बदलाव लाकर फेफड़ों की ख़ास हिफाजत करे.

दिल्ली: स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले- राजधानी में वायरस पीक पर

हर्बल चाय

यह चाय अपने औषधीय गुणों के लिए जानी जाती हैं. इस चाय को पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है. कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे कठिन समय में इम्यूनिटी मजबूत होना बहुत जरूरी है. इसके अलावा दूषित हवा में सांस लेने से फेफड़ों से संबंधित कई समस्याएं हो सकती हैं. इस चाय को रोज पीने से फेफड़े साफ रहते हैं और इनसे जुड़ी बीमारियां भी दूर हो जाती हैं. सिर्फ यही नहीं, यह चाय आपकी आंतरिक रक्षा प्रणाली को भी मजबूत करती है.

विटामिन सी

यह आपके शरीर के लिए सबसे शक्तिशाली एंटी-ऑक्सिडेंट है. पानी में घुलने वाला यह विटामिन हमारी फ्री रैडिकल की सफाई करता है. यही नहीं, विटामिन सी, विटामिन ई बनने में सहयोग करता है. फेफड़ों में इसके पर्याप्त स्तर को बनाए रखने के लिए अपने नियमित डाइट में विटामिन सी शामिल करना बहुत जरूरी है. एक युवा को अपनी डेली डाइट में 40 मिली ग्राम विटामिन की जरूरत होती है.

सेब

हम सभी जानते हैं कि सेब में विटामिन ई, सी, बीटा कैराटिन जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं. एक शोध के मुताबिक फेफड़ों की सेहत के लिए विटामिन ई, विटामिन सी और खट्टे फल अच्छे होते है. यह सभी पोषत तत्व सेब में होते है, इसीलिए फेफड़ों की मजबूती के लिए रोजाना सेब खाएं.

डेली रूटीन

खाना खाने के बाद थोड़ा सा गुड़ जरूर खाएं गुड़ खून साफ करता है. इससे आप प्रदूषण से बचे रहेंगे. फेफड़ों को धूल के कणों से बचाने के लिए आप रोजाना एक गिलास गर्म दूध जरूर पियें. अदरक का रस और सरसों का तेल नाक में बूंद-बूंद कर डालने से भी आप हानिकारक धूल कणों से भी बचे रहेंगे. खुद को प्रदूषण के प्रभाव से बचाने के लिए आप ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें.

व्यायाम

नियमित रूप से रोजाना व्यायाम करना फेफड़ों के लिए बेहद फायदेमंद है. इससे छाती में बलगम नहीं जमता है. साथ ही सांस लेने की दिक्कतों से छुटकारा दिलाता है. रोज नाक में शीशम के तेल की एक बूंद डाले और व्यायाम करें. इससे आपको बहुत जल्दी ही इसके फायदे दिखेंगे.घर के बाहर किए जाने वाले व्यायाम से बचें, इसके बजाए घर के अंदर योगा जैसे व्यायाम करें.

बीटा कौरोटिन

एंटी-ऑक्सिडेंट के कारण यह इंफ्लैमेशन को निंयत्रित रखने में बहुत महत्वपूर्ण रोल निभाता है. यह हमारी बॉडी में विटामिन ए में बदल जाता है. पत्तेदार सब्जियां जैसे चौलाई का साग, धनिया, मेथी, लेटस और पालक में प्रचूर मात्रा में बीटा कौरोटिन पाया जाता है. मूली के पत्ते और गाजर भी इसका अच्छा स्रोत हैं.

 

Loading...
loading...

Related Post

जियो प्लेटफॉर्म्स

जियो प्लेटफॉर्म्स में एक माह में पांचवा निवेशक बना केकेआर, किया भारी निवेश

Posted by - May 22, 2020 0
मुंबई। लाॅकडाउन के बावजूद देश के धनकुबेर मुकेश अंबानी के जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेशकों का तांता लगा हुआ है और…
विक्रम लैंडर

नासा बोला- चांद पर विक्रम लैंडर ने की हार्ड लैंडिंग ,जारी की लैंडिंग साइट की तस्वीरें

Posted by - September 27, 2019 0
नई दिल्ली। बीते सात सितंबर को चंद्रयान-2 मिशन के तहत इसरो का विक्रम लैंडर का चांद की सतह पर लैंडिंग…