कोविड-19 जांच के लिए एलिसा टेस्ट

कोविड-19 जांच के लिए ICMR ने विकसित किया एलिसा टेस्ट

176 0

नई दिल्‍ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, गृह मंत्रालय और आईसीएमआर ने सोमवार को संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में कोरोना वायरस की जांच को लेकर कई जानकारियां दी है। आईसीएमआर ने बताया कि कोविड-19 की जांच के लिए एलिसा टेस्‍ट विकसित किया गया है। आरटी-पीसीआर टेस्‍ट के लिए भी ऐप बनाया गया है। अभी तक केवल 13 हजार कोरोना पॉजिटिव ही आरोग्‍य सेतु ऐप पर हैं।

देश में कोरोना वायरस रिकवरी रेट 31.15 प्रतिशत हुआ

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में इलाज के बाद अभी तक कुल 20,917 लोग कोरोना वायरस से संक्रमण मुक्त हुए हैं, कोविड-19 मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 31.15 प्रतिशत है, पिछले 24 घंटे में 1,559 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ हुए हैं।

कोरोना के 4000 से अधिक नये मामले 24 घंटे में आए, संक्रमितों की संख्या 67000 पार

24 घंटे में 97 की मौत और 4213 केस

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा क‍ि पिछले 24 घंटे में सोमवार सुबह आठ बजे तक कोविड-19 के 4,213 नए मामले सामने आए जबकि 97 लोगों की संक्रमण से मौत हुई है। देश में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमितों की कुल संख्या 67,152 मृतकों की कुल संख्या 2,206 हुई। मंत्रालय ने कहा कि जिन लोगों में कोविड-19 के लक्षण नजर आ रहे हैं, वे स्वयं इसकी जानकारी प्रशासन को दें ताकि उनके जरिए संक्रमण अन्य लोगों में न फैले।

आरोग्‍य सेतु से किसी की निजता भंग नहीं होगी

अधिकार प्राप्त समूह 9 के अध्यक्ष और भारत सरकार में सचिव अजय साहनी ने कहा कि आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप ने कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। आरोग्य सेतु ऐप को लोगों की निजता को ध्यान में रखते हुए डिजाइन किया गया है। उन्‍होंने कहा क‍ि इसमें डेटा का दुरुपयोग नहीं होगा। इसमें अधिकतम 60 दिन तक डेटा रखा जाएगा। पॉजिटिव मरीजों का डेटा भी सर्वर पर भेजा जाता है।

Loading...
loading...

Related Post

अर्जुन गौड़

जीवन ईश्वर का अनोखा उपहार, इसको नुकसान पहुंचाने का अधिकार हमारे पास नहीं : अर्जुन गौड़

Posted by - June 23, 2020 0
  लखनऊ। कोरोना संक्रमण काल में लॉकडाउन की वजह से मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत रखना हमारे जीवन का एक अहम…