लड़कियों को नहीं रखने चाहिए नवरात्रि में खुले बाल, जानें क्यों ?

609 0

लखनऊ डेस्क। हर महिला के लिए उनके बाल सबसे पसंदीदा श्रृंगार हैं। लेकिन हिंदू शास्त्रों में महिलाओं के बालों को खुला छोड़ना अच्छा नहीं माना जाता। आइए इस नवरात्रि जानते हैं महिलाओं को क्यों अपने बाल खुले नही रखना चहिए –

ये भी पढ़ें :-चेहरे से मिटाना है बुढ़ापे का नामोनिशान, तो करें चावल के पानी का इस्तेमाल 

1-रामायण में इस बात का जिक्र है कि श्री राम से विवाह के दौरान माता सीता की मां ने उनके बाल बांधते समय उन्हें कहा था कि कभी भी अपने बालों को खुला नहीं छोड़ना, क्योंकि बंधे हुए बाल रिश्तों को भी बांधकर रखते हैं।

2-खुले बालों को लेकर यह भी कहा गया है कि बालों को खोलकर रखने की वजह से घर में कलेश उत्पन्न होता है।

3-हिंदू मान्यता के अनुसार कोई भी शुभ काम करते समय महिलाओं को अपने बाल व्यवस्थित रूप से बांध कर रखने चाहिए। बालों को बांध कर रखने के पीछे यह तर्क दिया जाता है कि खुले बाल शोक की निशानी होते हैं।

4-नवरात्रि में अगर कोई महिला अपने बालों को खोलकर सोती है तो उसके ऊपर नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव बहुत ज्यादा पड़ता है।

Loading...
loading...

Related Post