डायबिटीज के मरीज ना करें ये गलतियां, सेहत पर पड़ेगा बुरा असर

193 0

डायबिटीज दुनियाभर में तेजी से बढ़ती गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है।  डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो सीधे तौर पर लाइफस्टाइल से जुड़ी हुई है। ब्लड शुगर को कंट्रोल करना आसान काम नहीं है क्योंकि इसके लिए खानपान में कई तरह के बदलाव करने पड़ते हैं। रहन-सहन का खराब तरीका जहां टाइप 2 डायबिटीज को बढ़ावा देता है वहीं संतुलित टाइट से इसे कंट्रोल करने में अहम भूमिका निभाता है। स्वास्थय विशेषज्ञों के मुताबिक, डायबिटीज के मरीजों को कुछ गलतियां भूलकर भी नहीं करनी चाहिए वरना इसके गंभीर नतीजे हो सकते हैं।

 1- हमेशा सुस्त रहना

डायबिटीज के मरीजों की सेहत के लिए सुस्ती भरी लाइफस्टाइल बहुत खतरनाक है। ये ना सिर्फ मोटापा बल्कि बल्ड शुगर भी तेजी से बढ़ाती है। वहीं एक्टिव लाइफस्टाइल ना सिर्फ ब्लड शुगर बल्कि पूरी सेहत के लिए फायदेमंद है। अपनी लाइफस्टाइल में हर दिन एक्सरसाइज करने का रुटीन बनाएं। शुरुआत में बहुत भारी-भरकम एक्सरसाइज से बचें वरना ब्लड शुगर में गिरावट आ सकती है।

 2- खाने के बीच लंबा समय

अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं, तो खाने के बीच के अंतर को कम करने का प्रयास करें। डाइट के बीच ज्यादा समय हो जाने से खाने की मात्रा बढ़ जाती है और इसकी वजह से ब्लड शुगर भी बढ़ने लगता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स डायबिटीज के मरीजों को थोड़ी-थोड़ी देर पर कुछ ना कुछ खाने की सलाह देते हैं। दो डाइट के बीच हेल्दी स्नैक्स लेने की कोशिश करें।

 3- कम फैट और हाई कार्ब वाली डाइट 

अन्य पोषक तत्वों की तरह ही फैट भी आपकी डाइट का एक अहम हिस्सा होना चाहिए। कई लोग वजन कम करने के चक्कर में डाइट से फैट को पूरी तरह से खत्म कर देते हैं और इस वजह उनके शरीर में हेल्दी फैट की भी कमी हो जाती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार डायबिटीज के मरीजों में हेल्दी फैट होना जरूरी है और इसे नट्स, सीड्स और शुद्ध तेल के जरिए लिया जा सकता है।

 4- बहुत अधिक या बहुत कम फल

ज्यादातर लोगों को ये गलतफहमी होती है कि डायबिटीज के मरीजों को फल नहीं खाना चाहिए। क्योंकि उसमें नेचुरल शुगर होता है। फलों से पूरी तरह परहेज ना करें और ना ही बहुत ज्यादा खाएं। डायबिटीज में सीमित मात्रा में फलों का सेवन करना चाहिए। फलों को धीरे-धीरे अच्छे से चबाकर खाना सही रहता है।

5- बहुत ज्यादा तनाव लेना

सेहत के लिए सबसे ज्यादा खतरनाक तनाव लेना है। ये आपके हार्मोन, मानसिक और शारीरिक सेहत पर भी असर डालता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स डायबिटीज के मरीजों को तनाव से बिल्कुल दूर रहने की सलाह देते हैं। रिसर्च के मुताबिक, तनाव ब्लड शुगर को बढ़ाता है और दिल की सेहत को भी बिगाड़ता है।

 6- पूरी नींद ना लेना

नींद आराम देने के अलावा शरीर के विभिन्न कार्यों को नियंत्रित करती है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार सोते समय बॉडी के अंदर अधिकांश हार्मोनल संतुलित होते रहते हैं। इंसुलिन भी एक हार्मोन ही है। इसलिए, डायबिटीज के मरीजों को अच्छी नींद लेनी बहुत जरूरी है।

 

 

Related Post

Guru Shree Gorakshanath

आयुर्वेद दवाओं का निर्माण करेगी गुरु श्री गोरक्षनाथ इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज

Posted by - April 13, 2022 0
गोरखपुर: आयुर्वेद की मानकीकृत पढ़ाई, शोध व अनुसंधान को बढ़ावा देने के साथ ही महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय, आरोग्यधाम की संस्था…
जस्टिस मुरलीधर का तबादला

योगी सरकार पर बरसीं प्रियंका गांधी, कहा- पूरे यूपी में ऑक्सीजन को लेकर आपात स्थिति

Posted by - April 26, 2021 0
नई दिल्ली। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) ने उत्तर प्रदेश के निजी या सरकारी कोविड-19 अस्पतालों में ऑक्सीजन…