योगी आदित्यनाथ

उपद्रवियों के साथ फोटो सेशन में व्यस्त हैं कांग्रेस: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

330 0

गोरखपुर। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर गोरखपुर में रविवार सुबह जागरूकता अभियान की शुरुआत की। इस दौरान योगी ने एक मुस्लिम परिवार से मुलाकात कर कहा कि सीएए से किसी की नागरिकता नहीं छिनेगी, बल्कि इससे नागरिकता मिलेगी।

नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 जन जागरण अभियान के तहत प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी ने कांग्रेस पर हमला बोला

बता दें कि इसे पहले गोरखपुर विश्वविद्यालय में आयोजित नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 जन जागरण अभियान के तहत प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी ने कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि उनके नेता उपद्रवियों के साथ फोटो सेशन करा रहे हैं। वहीं सपा पर निशाना साधते हुए सीएम योगी ने कहा वह सरकार में आने पर पेंशन देने की बात कह रहे हैं, जैसे पैसा उनके बाप दादाओं ने कमाकर दिया है।

कांग्रेस- सपा ने व्यापक अफवाह फैला कर समाज में हिंसा करवाया

उन्होंने कहा कि कांग्रेस- सपा ने व्यापक अफवाह फैला कर समाज में हिंसा करवाया। इसके साथ इन दलों ने राष्ट्र विरोधी तत्वों से हाथ मिलाया है। इसलिये प्रबुद्ध जनों के जरिये समाज और राष्ट्र को जागरण करने का अभियान शुरू किया गया है। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि समाज और राष्ट्र की क्षति करने और राष्ट्र विरोधी तत्वों से मिलकर सपा कांग्रेस तृणमूल के लोग देश की विधायिका को चुनौती दे रहे हैं।

योगी ने कहा कि 1950 में नेहरू लियाकत वार्ता में दोनों देशों के अल्पसंख्यक को सुरक्षा प्रदान करने की बात कही गई। बापू ने पूर्वी और पश्चिमी पाकिस्तान के सभी अल्पसंख्यकों को भारत मे आने की बात कही थी।

स्लीप अटैक को आलस या थकान समझकर नजरअंदाज करना खतरनाक 

सीएम ने कहा कि 1947 में दुर्भाग्यपूर्ण विभाजन इस देश के हिन्दू सिख पारसी जैन बौद्ध ने नही मांगा

भारत में 6 प्रतिशत मुस्लिम आबादी बढ़ी, लेकिन पाकिस्तान में घटकर एक प्रतिशत आ गयीत। सपा के लोग तोड़फोड़ करने वाले को पेंशन देने की बात कहते हैं जैसे पेंशन का पैसा इनके बाप दादाओं ने रखा है। एक भी भारतीय जो आज भारत मे निवास करता है। वह भारत विभाजन के खिलाफ था। सीएम ने कहा कि 1947 में दुर्भाग्यपूर्ण विभाजन इस देश के हिन्दू सिख पारसी जैन बौद्ध ने नही मांगा था, लेकिन कांग्रेस की सत्ता लिप्सा और जिन्ना की जिद ने देश का विभाजन करवाया। यह सिलसिला आज भी चल रहा है। ननकाना साहेब के पवित्र गुरुद्वारा पर हमला हुआ। भारत में कोई धर्म स्थल ऐसा नहीं है।

2003 में मनमोहन सिंह ने इसकी मांग की थी, उस समय अटल बिहारी वाजपेयी पीएम थे

सीएम योगी ने सपा अध्यक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि अखिलेश यादव एनपीआर का फार्म नहीं भरने की बात कहते हैं। संसद में देश की रक्षा का शपथ लेते हैं। बाहर आकर लेकिन देश की कीमत पर राजनीति करते हैं। होना तो ये चाहिए कि मोदी का अभिनन्दन विपक्ष को आगे आकर करना चाहिए था। ये पैसा देकर उपद्रवियों को उकसा रहे हैं जो अब नहीं चलेगा। ये कार्य पहली बार नहीं हुआ है। योगी ने कहा कि 2003 में मनमोहन सिंह ने इसकी मांग की थी, उस समय अटल बिहारी वाजपेयी पीएम थे।

Related Post

दिल्ली: पुजारी द्वारा नाबालिग दलित बच्ची के साथ रेप मामले में उठी न्याय की मांग

Posted by - August 3, 2021 0
दिल्ली के ओल्ड नांगल गांव में श्मशान घाट के भीतर पुजारी एवं उसके दो साथियों द्वारा 9 साल की बच्ची…
trivendra singh rawat

उत्तराखंड : CM रावत ने राज्यपाल से मिलने का मांगा समय

Posted by - March 9, 2021 0
देहरादून। उत्तराखंड में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री त्रिवेद्र सिंह (CM Rawat) रावत दिल्ली से उत्तराखंड लौट चुके…