CM Yogi participated in Shri Shiv Mahapuran Katha

शिवावतार बाबा गोरखनाथ की तपोभूमि पर श्री शिव महापुराण कथा का शुभारंभ

115 0

गोरखपुर। गोरखनाथ मंदिर परिसर में बने नौ नवीन मंदिरों में देव विग्रहों की प्राण प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में सप्त दिवसीय श्री शिव महापुराण कथा का शुभारंभ सोमवार सायंकाल हुआ। निकाय चुनाव प्रचार की व्यस्तता के बावजूद प्रथम दिन की कथा में मुख्यमंत्री एवं गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) भी सम्मिलित हुए।

मुख्यमंत्री (CM Yogi)  ने व्यासपीठ की पूजा की, माल्यार्पण किया और कथा श्रवण के बाद पहले दिन के कथा विश्राम पर आरती उतारी। इसके पूर्व गोरखनाथ मंदिर पहुंचने पर मुख्यमंत्री ने गुरु गोरखनाथ का दर्शन पूजन किया और अपने गुरुदेव ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की समाधिस्थली पर शीश नवाया।

मंदिर के गर्भगृह से निकाली गई भव्य शोभायात्रा

श्री शिव महापुराण कथा शुभारंभ के अवसर पर गुरु गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple) के गर्भगृह से भव्य शोभायात्रा निकाली गई। गर्भगृह में मंदिर के प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ ने विधि विधान से श्रीनाथ जी, अखंड ज्योति एवं पोथी (श्री शिव महापुराण) पूजन का अनुष्ठान संपन्न किया। तत्पश्चात शंख, घंट-घड़ियाल, तुरही, नागफनी आदि वाद्य यंत्रों की गूंज एवं बैंड बाजे के बीच शोभायात्रा कथा स्थल महंत दिग्विजयनाथ स्मृति भवन पहुंची।

CM Yogi

यहां वैदिक मंत्रोच्चार के बीच व्यासपीठ के समक्ष अखंड ज्योति व पोथी को प्रतिष्ठित किया गया। भक्ति भाव से निकाली गई शोभायात्रा में मुख्य रूप से कथा व्यास संत बालकदास, मंदिर के प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ, देवीपाटन के महंत योगी मिथलेशनाथ, मठ पुरोहित रामानुज त्रिपाठी ‘वैदिक’, अन्य पुरोहितगण व वेदपाठी विद्यार्थी और यजमान आदि उपस्थित रहे।

शिव का अर्थ मंगल व कल्याण : संत बालकदास

श्री शिव महापुराण कथा का रसपान कराते हुए कथाव्यास संत बालकदास ने कहा कि शिव का अर्थ मंगल व कल्याण होता है। उनकी कथा अनंत आनंददायी व कल्याण का मार्ग प्रशस्त करने वाली है। श्री शिव महापुराण कल्पवृक्ष के समान है। यह कथा जिस भावना से सुनी जाती है, उसी के अनुरूप अभीष्ट की प्राप्ति होती है।

अयोध्या जितनी सुंदर, भारत के बारे में उतनी ही अच्छी धारणा बनेगी: सीएम योगी

कथाव्यास ने कहा कि शिवावतार गुरु गोरखनाथ की तपोस्थली पर श्री शिव महापुराण की कथा का श्रवण करने वाले अत्यंत सौभाग्यशाली हैं। कथा श्रवण के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ काशी से पधारे महामंडलेश्वर सतुआ बाबा, कालीबाड़ी के महंत रविंद्रदास आदि भी शामिल रहे।

Related Post

रेलवे ट्रैक पर मिला महिला का शव

रेलवे ट्रैक पर मिला महिला का शव

Posted by - March 30, 2021 0
विभूतिखण्ड क्षेत्र में विराजखण्ड स्थित रेलवे ट्रैक के पास झाड़ियों में सोमवार सुबह तकरीबन 35 वर्षीय महिला का शव पड़ा मिला। शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पुलिस शव के शिनाख्त के प्रयास कर रही है। स्थानीय लोगों ने हत्याकर शव फेंके जाने की आशंका जताई है। उत्तर प्रदेश की राजधानी में गांजा तस्कर हुए गिरफ्तार  जानकारी के मुताबिक सोमवार सुबह कुछ लोग रेलवे ट्रैक के पास से निकले। झाड़ियों के पास महिला का शव पड़ा देखा तो पुलिस को सूचना दी। शव मिलने से मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर विभूतिखण्ड पुलिस पहुंची। आस पड़ोस के लोगों की मदद से महिला के शव की शिनाख्त का प्रयास किया पर सफलता नहीं मिली। शिनाख़्त न होने पर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।इंस्पेक्टर चंद्र शेखर सिंह ने बताया कि महिला की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं। महिला विक्षिप्त बताई जा रही है। इसकी उम्र करीब 35 वर्ष है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्यवाई की जाएगी। वहीं, प्रयत्क्षदर्शियों ने हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका जताई है।इंस्पेक्टर ने बताया कि महिला की शिनाख्त के लिए उसकी फोटो शहरी और ग्रामीण इलाकों समेत आस पड़ोस के जनपदों के थानों में भेजी गई है। हाल में थाना क्षेत्रों से लापता हुई महिलाओं का ब्यौरा इकट्ठा किया जा रहा है। सड़क हादसों में आधा दर्जन की हुई मौत उनके परिवारीजनों को सूचना दी जा रही।इंस्पेक्टर ने बताया कि महिला की शिनाख्त के हर तरह से प्रयास किए जा रहे हैं,72 घण्टे तक शव को मच्युर्री में रखा जाएगा। शिनाख्त न होने पर 72 घण्टे बाद शव का पोस्टमार्टम कराकर पुलिस उनका अंतिम संस्कार कराएगी।…