Chunky Pandey reacts to signing film daughter Ananya

अभिनेता चंकी पांडे ने बेटी अनन्या के साथ फिल्म साइन करने को लेकर दिया यह रिएक्शन

906 0

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता चंकी पांडे अपने शानदार अभिनय के साथ-साथ जॉली और मस्तीभरे अंदाज के लिए पहचाने जाते हैं। उनकी तरह अनन्या पांडे भी इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाने कि कोशिश कर रही हैं।

जानिए कौन थी उषा मेहता, जिन्होने आज़ादी के समय करी खुफिया रेडियो सर्विस की शुरुआत

वहीं अनन्या और चंकी के फैंस को इंतजार है कि कब ये पिता और बेटी की जोड़ी फिल्म में साथ देखने को मिलेगी। फैंस की इन उम्मीदों पर चंकी पांडे ने जैसे पानी ही फेर दिया है। उन्होने कहा वो अनन्या के साथ फिल्म साइन करने से डरते हैं। चंकी ने ये भी बताया कि इस डर के पीछे कुछ कारण है।

चंकी पांडे बीते दिनों नेपोटिज्म की बहस पर अपनी राय देते दिखाई आगे आए थे। वहीं अब उन्होंने बेटी अनन्या के साथ काम करने को लेकर रिएक्शन दिया है।

चंकी पांडे ने इंटरव्यू में मजाकिया अंदाज में कहा कि घर में वर्ड वॉर हो जाएगी अगर उन्होंने बेटी के साथ फिल्म की तो, उनका मानना है कि दोनों ही बहुत प्रतिस्पर्धात्मक हैं और खुद को दूसरे से बढ़ाकर बताएंगे।

सोशल मीडिया पर हो रही वायरल, आमिर और तुर्की की फर्स्ट लेडी एमीन एर्दोगान की तस्वीरें

उन्होंने कहा- ‘अनन्या और मैं अगर साथ में काम करते हैं तो बहुत फन होगा लेकिन हम दोनों एक दूसरे से श्रेष्ठ बनने की कोशिश करेंगे क्योकि वो बहुत प्रतिस्पर्धात्मक है और मैं भी हूं’। उन्होंने ये भी कहा कि इस वजह से फैमिली में भी लड़ाई हो सकती है।

उनका मानना है कि ‘अगर हम कैमरे के सामने आएंगे तो, मैं पुराना चावल हूं इसलिए लाइमलाइट लेने की कोशिश करूंगा। अनन्या भी कुछ ट्रिक इस्तेमाल करेगी। हम एक साथ फिल्म में आए तो फैमिली में ही मुकाबला हो जाएगा। घर पर एक विश्व युद्ध हो जाएगा’।

Related Post

नोरा फतेही का तूफानी डांस

नोरा फतेही का रेगिस्तान में तूफानी डांस, Video से नजरें हटाना मुश्किल

Posted by - November 23, 2019 0
नई दिल्ली। नोरा फतेही रेगिस्तान में तूफानी डांस वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो में नोरा रेगिस्तान में…

‘मुददा ३७० जे एंड के’ – राकेश सावंत का एक दमदार प्रयास (न्यूज हेल्पलाइन रिव्यू – रेटिंग- ३.५ )

Posted by - December 13, 2019 0
आर्टिकल ३७० एक ऐसा मौज़ू है जिसे सिनेमा के माध्यम से दर्शाना एक बहोत ही कठिन और ज़िम्मेदारी का काम…