कोरोना पीड़ितों का मुफ्त इलाज

यूपी बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए इंटेलीजेंस की लें मदद : योगी आदित्यनाथ

159 0

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी 18 फरवरी से शुरू हो रही उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षाओं में नकल को रोकने के लिए इंटेलिजेंस सिस्टम (खुफिया तंत्र) की मदद लेने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने शनिवार देर रात वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिलाधिकारियों, पुलिस प्रशासन और जिला विद्यालय निरीक्षकों को बोर्ड परीक्षाओं में नकल को रोकने के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

योगी ने स्थानीय अभिसूचना तंत्र के जरिए संवेदनशील और अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की विशेष निगरानी सुनिश्चित करने के निर्देश

योगी ने स्थानीय अभिसूचना तंत्र के जरिए संवेदनशील और अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की विशेष निगरानी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। उन्होंने परीक्षा केंद्रों में बाहर से आने वाली नकल सामग्री को रोकने के लिए संबंधित पुलिस क्षेत्राधिकारियों या थानाध्यक्षों के जरिए गश्त सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि परीक्षा कार्य में बाधक तत्वों के खिलाफ संज्ञेय अपराध के अन्तर्गत कार्रवाई की जाए।

मलाइका का फोटोशूट में दिखा अलग एटीट्यूड, बोलीं- टॉक टू माई हैंड 

मुख्यमंत्री ने बोर्ड परीक्षाओं के सम्बन्ध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अपने-अपने जिलों में नकलविहीन और शांतिपूर्ण परीक्षा संचालन के लिए सम्बन्धित अधिकारियों, प्रभावशाली नागरिकों तथा अभिभावकों की बैठकें सुनिश्चित करें। उन्होंने नियंत्रण एवं निगरानी केंद्र पर प्रशासनिक अधिकारी, सेक्टर मजिस्ट्रेट और स्टैटिक मजिस्ट्रेट की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए है।

यूपी बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहता

यूपी बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहता। इस बार कोडेड, सिलाई वाली कांपियों के साथ परीक्षा केंद्र पर ब्राडबैंड और राउटर भी लगाए जाएंगे ताकि सारी गतिवीधि पर नजर रखी जा सके।

पिछले साल की तुलना में घटी छात्र-छात्राओं की संख्या

इस बार की बोर्ड परीक्षा में पिछले साल की तुलना में छात्र-छात्राओं की संख्या लगभग दो लाख कम हुई है। पिछले साल हाई स्कूल और इण्टर में जहां 57 लाख 93 हजार 621 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। वहीं इस बार 56 लाख एक हजार 34 परीक्षार्थी ही पंजीकृत है। इस तरह से परीक्षार्थियों की संख्या में भी एक लाख 94 हजार 722 की कमी आई है।

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 18 फरवरी  से शुरू हो रही है

यूपी बोर्ड इसके पहले कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं की परीक्षाओं का टाइम टेबल जारी कर चुका है जो कि आधिकारिक साइट पर उपलब्ध है। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 18 फरवरी से शुरू होने वाली हैं। हाईस्कूल की परीक्षाएं 18 फरवरी से शुरू होकर 3 मार्च को खत्म हो रही हैं। वहीं यूपी बोर्ड की कक्षा 12वीं की परीक्षाएं भी 18 फरवरी से शुरू होंगी, जबकि ये परीक्षाएं 6 मार्च को खत्म होंगी।

इन परीक्षाओं की कॉपियों का मूल्यांकन 15 मार्च से शुरू होकर 25 मार्च को खत्म होगा। इनके मूल्यांकन में पिछले बार की तुलना में 15 दिन के बजाय 10 दिन लगेगा। बता दें कि पिछले वर्ष यूपी बोर्ड की परीक्षाएं 7 फरवरी 2019 को शुरू हुई थीं। 10वीं कक्षा की परीक्षाएं 14 कार्य दिवसों में और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 16 कार्य दिवसों में संपन्न हुई थीं।

Loading...
loading...

Related Post

IC3A 2020

IC3A 2020: भारतीय संस्कृति ने हमेशा विज्ञान और तकनीक को बढ़ावा देने का कार्य किया

Posted by - February 7, 2020 0
लखनऊ। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय द्वारा मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर और डॉ. बाबासाहेब आम्बेडकर प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय…