cm yogi

हाईस्कूल-इंटर के स्टूडेंट्स को स्किल्ड बनाएगी योगी सरकार

52 0

लखनऊ। किन्हीं कारणों से हाईस्कूल और इंटर की पढ़ाई बीच में ही छोड़ने वाले छात्रों को अब परेशान होने की जरूरत नहीं है। योगी सरकार (Yogi Government) हाईस्कूल-इंटर तक की पढ़ाई करते करते ही छात्रों को स्वावलंबी बनाने की दिशा में कदम बढ़ा दिया है। इसके लिए सरकार प्रवीण योजना लेकर आयी है, जिसके क्रियान्वयन में आने वाले दिनों में खासी तेजी देखने को मिलेगी।

पढ़ाई छोड़ने पर भी हाथ में होगा सर्टिफाइड स्किल

योगी सरकार (Yogi Government) का पूरा जोर रोजगार परक शिक्षा तथा कौशल विकास की योजनाओं पर है। शिक्षा विभाग एवं कौशल विकास मिशन के साझा प्रयास से प्रदेश में एक अनोखी योजना की परिकल्पना की गयी है। इसका नाम प्रवीण रखा गया है, जिसमें कौशल विकास मिशन के सर्टिफिकेट कोर्सेस को माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ाई के समय में ही संचालित किया जा रहा है, जिससे यदि कोई छात्र कक्षा 10 या कक्षा 12 के बाद पढ़ाई नहीं करता है तो भी उसके पास रोजगार के लिये एक सर्टिफाइड कौशल उपलब्ध होगा।

वोकेशनल ट्रेनिंग के जरिये जॉब रेडी स्किल डेवलप किया जाएगा

प्रवीण योजना के अंतर्गत राजकीय स्कूलों के विद्यार्थियों में वोकेशनल ट्रेनिंग के माध्यम से जॉब रेडी स्किल्स डेवलप किया जाएगा। इसमें हर कार्यदिवस में स्कूल टाइम के दौरान में निःशुल्क सर्टिफिकेशन कोर्स संचालित किया जायेगा।

11 ट्रेडों की दी जाएगी जानकारी

कौशल विकास मिशन के डायरेक्टर आंद्रा वामसी के अनुसार सरकार की ओर से छात्र-छात्राओं को 11 विभिन्न ट्रेडों की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स, ब्यूटी एंड वेलनेस, ओडीओपी, रिटेल, ऑटोमोबाइल सहित कई रोजगारपरक विषय शामिल हैं। ट्रेनिंग पूरी होने पर विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जाएगा।

गन्ने की सहफसली खेती से दोगुनी आय कर रहे किसान

21 हजार छात्र-छात्राओं को बनाएंगे स्किल्ड 

अधिकारी के अनुसार माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से इसके लिये कुल 150 विद्यालयों को चुना गया है। इसमें प्रत्येक जिले में 2 स्कूलों का चयन होगा, जिसमें एक हायर सेकेंड्री ब्वॉयस स्कूल और एक हायर सेकेंड्री गर्ल्स स्कूल होगा। 2022-23 में सरकार का लक्ष्य कक्षा 9 से 12 तक के 21 हजार छात्र-छात्राओं को स्किल्ड बनाने का है।

इच्छुक विद्यार्थियों को सेलेक्ट करेगा शिक्षा विभाग

माध्यमिक शिक्षा विभाग प्रवीण योजना के लिये इच्छुक विद्यार्थियों को सेलेक्ट करेगा तथा उन्हें स्पेशल क्लास उपलब्ध करायी जाएगी। साथ ही कौशल विकास मिशन की ओर से ऐसे विद्यार्थियों की ट्रेनिंग से संबंधित खर्चों को वहन किया जाएगा।

देश में बनी वस्तुओं वस्तुओं से प्रेम अमर शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि: एके शर्मा

विद्यार्थियों को ज्ञान-कौशल और राष्ट्रप्रेम से जोड़ना

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की ओर से कई ऐसे अहम् निर्णय और कल्याणकारी योजनाओं की शुरूआत की गयी है, जिनके द्वारा आम आदमी के जीवन स्तर में सुधार हुआ है। मुख्यमंत्री की प्रेरणा से माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा प्रवीण योजना को लेकर जोर-शोर से तैयारियां की जा रही हैं। इस योजना का मुख्य लक्ष्य सभी विद्यार्थियों को माध्यमिक स्तर की शिक्षा जारी रखने के लिए समान अवसर सुनिश्चित करते हुए ज्ञान, कौशल और राष्ट्र प्रेम की भावना विकसित करने वाली गुणवत्तापरक शिक्षा उपलब्ध कराना है।

Related Post

rajnath singh

CM रहते गोद लिए डॉक्टर ‘बेटे’ की शादी में पहुंचे राजनाथ सिंह

Posted by - February 28, 2021 0
गाजीपुर। देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) शनिवार को वाराणसी पहुंचे थे, जहां उन्होंने गाजीपुर पहुंचकर अपने मुख्यमंत्री रहने…

ओमिक्रॉन वेरिएंट को लेकर एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशनों पर बढ़ी सख्ती

Posted by - November 29, 2021 0
कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron variants) को लेकर लखनऊ के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशनों पर…
आजसू का संकल्‍प पत्र जारी

आजसू का संकल्‍प पत्र जारी, 73 फीसदी आरक्षण व ग्रेजुएट को 2100 रुपये मासिक भत्‍ता

Posted by - November 17, 2019 0
रांची। आजसू पार्टी ने रविवार को संकल्प पत्र जारी कर दिया। संकल्प पत्र में युवाओं को ग्रेजुएट पास करने पर…

संबित पात्रा का तंज-कांग्रेस का आईएसएफ के साथ गठबंधन नहीं ठगबंधन है

Posted by - March 2, 2021 0
नई दिल्ली । भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा में कांग्रेस की ‘अंदरूनी कलह’ पर जमकर निशाना साधा। पात्रा ने कहा कि…