BJP Meeting

प. बंगाल : 21 मार्च को जारी होगा BJP का घोषणा पत्र, विजन डॉक्यूमेंट पर होगा आधारित

395 0
नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी BJP के सांसद और वर्तमान में विधानसभा के उम्मीदवार बनाए गए जगन्नाथ सरकार ने बताया कि पार्टी ने घोषणा पत्र राज्य के तमाम नागरिकों के सुझाव पत्र में दिए गए सुझाव के आधार पर ही तैयार किया है और इसमें सभी समुदाय के लोगों का ध्यान रखा गया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज वरिष्ठ भाजपा नेताओं की मौजूदगी में आज भाजपा का घोषणा जारी करेंगे।

पश्चिम बंगाल में चुनाव की तैयारियां तेज होती जा रही हैं। पहले चरण के चुनाव में मात्र कुछ ही दिन का समय रह गया है। भारतीय जनता पार्टी अब अपना विजन डॉक्यूमेंट यानी घोषणा पत्र (West Bengal BJP Manifesto) 21 मार्च को जारी करने वाली है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज भाजपा का घोषणा पत्र जारी करेंगे।

इस विजन डॉक्यूमेंट में भारतीय जनता पार्टी, कट मनी को समाप्त करने, भ्रष्टाचार मुक्त सरकार देना, मछुआ समुदाय से संबंधित कल्याण योजनाएं, भूमि अधिग्रहण नीति और किसानों की आय बढ़ाने संबंधी बातों को शामिल करने वाली है। गृह मंत्री और भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह 21 मार्च यानी रविवार को पश्चिम बंगाल में भाजपा के विजन डॉक्यूमेंट यानी मेनिफेस्टो (West Bengal BJP Manifesto) रिलीज कर सकते हैं।

कल्याण की योजनाओं का रखा गया ध्यान

इस घोषणा पत्र में भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल के हर जिले को ध्यान में रखते हुए कल्याण की योजनाओं को शामिल किया है। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी की तरफ से परिवर्तन रथ को अलग-अलग जिलों में रवाना किया गया था जिनमें घोषणा पत्र में सुझाव देने संबंधी पात्र रखे गए थे और यह मात्र रथों में नहीं, बल्कि भारतीय जनता पार्टी के जिला स्तर पर अलग-अलग कार्यालय में भी रखे गए थे। इन तमाम सुझाव को एकत्रित करके ही भारतीय जनता पार्टी ने विजन डॉक्यूमेंट यानी घोषणा पत्र  (West Bengal BJP Manifesto) में सुझावों को समाहित करने का प्रयास किया है।

सूत्रों की मानें तो पार्टी को विजन डॉक्यूमेंट के लिए कई सुझाव मिले हैं। इसमें से एक सुझाव ऐसा है, जिसके तहत राज्य में दो व तीन पहिया वाले ऑटो का हब स्थापित करने और गैर कृषि योग्य भूमि की पहचान कर उसे अधिग्रहण कर मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने के सुझाव दिए गए हैं, ताकि यह पूर्वोत्तर राज्यों और बांग्लादेश के लिए एक ऑटोमोबाइल हब के रूप में विकसित किया जा सके। यही नहीं सूत्रों की मानें, तो यह भी दावा किया गया है कि उन्हें विश्वास है कि पांच साल में नए रोजगार के माध्यम से राज्य में एक करोड़ नौकरियां पैदा की जाएंगी।

किसान सम्मान निधि की घोषणा

सांसद जगन्नाथ ने बताया कि बंगाल के किसानों के लिए कृषक सम्मान निधि के तहत 18000 ऱुपये दिए जाने की भी घोषणा की जा सकती है। यही नहीं राज्य के गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को 2500000 पक्के मकान बना कर भी देने का वायदा भारतीय जनता पार्टी की तरफ से किया जाएगा। विजन डॉक्यूमेंट में भारतीय जनता पार्टी वोकल फॉर लोकल अभियान को भी बढ़ावा देगी। साथ ही पश्चिम बंगाल में मृतप्राय हो चुके उद्योगों को पुनर्जीवित करने, खेती, जूट और चाय उद्योग को बढ़ावा देने और पुलिस के आधुनिकीकरण संबंधित एलान भी किए जा सकते हैं।

तोला बाजी पर चलेगी कैंची

BJP कट मनी यानी तोला बाजी और सिंडिकेट राज को खत्म करने का भी एलान करेगी क्योंकि यह बात भारतीय जनता पार्टी के तमाम नेता बार-बार अपनी रैलियों में दोहराते आए हैं। साथ ही बंगाल में हुए भ्रष्टाचार के मामले शारदा और रोज वैली चिटफंड घोटालों की जांच में तेजी लाने की बात भी इस विजन डॉक्यूमेंट में रखा जा सकता है। यही नहीं भारतीय जनता पार्टी राजनीतिक हिंसा में मारे गए बीजेपी की कार्यकर्ताओं के लिए भी पुनर्वास पैकेज इस मेनिफेस्टो में शामिल कर सकती है।

भ्रष्टाचार मुक्ति का वादा

इसके अलावा CAA को भी जल्द ही बंगाल में लागू करने संबंधी बातें भी इस विजन डॉक्यूमेंट में शामिल किया जाएगा। मछुवा समुदाय के लिए भी कल्याणकारी योजना लाने की बात इसमें रखी जा सकती है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद जगन्नाथ ने बताया कि कट मनी और तोला बाजी को लेकर बंगाल की जनता त्रस्त है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार अगर पश्चिम बंगाल में आती है, तो सबसे पहले इसे खत्म करेगी।

जगन्नाथ ने कहा कि बंगाल में विकास काफी कम हुआ है। उद्योगों के लिए भी केंद्र के माध्यम से राज्य में स्थापित करने का प्रयास किया जाएगा. राज्य के विकास पर ध्यान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस बार पश्चिम बंगाल की जनता भारतीय जनता पार्टी का ही साथ देगी।

Related Post

allahabad high court

Allahabad High Court ने योगी सरकार के कोविड प्रबंधन को सराहा

Posted by - May 28, 2021 0
इलाहाबाद उच्च न्यायालय (Allahabad High Court) ने बहराईच, श्रावस्ती, बिजनौर, बाराबंकी और जौनपुर में जिला अस्पतालों में चिकित्सा सुविधाएं बढ़ाने…