हमें कोरोना के साथ ही दिमागी बुखार से भी लड़ना है : cm yogi

809 0

सिद्धार्थनगर।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  (cm yogi) ने गुरुवार को  सिद्धार्थनगर भ्रमण के अवसर पर  कोविड प्रबन्धन एवं नियंत्रण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने इंटीग्रेटेड कमाण्ड एंड कंट्रोल सेंटर तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जोगिया का निरीक्षण किया। उन्होंने ग्राम पंचायत जोगिया खास में निगरानी समिति की सदस्यों से वार्ता की। उन्होंने जिला चिकित्सालय स्थित कोरोना टीकाकरण केन्द्र का निरीक्षण भी किया। उन्होंने (cm yogi) कहा कि हम सभी को कोरोना के साथ दिमागी बुखार से भी लड़ना है। लक्षित आयु वर्ग के सभी लोग कोरोना टीकाकरण अवश्य कराएं। सभी लोग मास्क पहनें, दो गज की दूरी का पालन करें।

मुख्यमंत्री (cm yogi) ने कलेक्ट्रेट स्थित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कन्ट्रोल सेंटर का निरीक्षण करते हुए सेन्टर द्वारा संचालित विभिन्न गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बेड आवंटन, एंबुलेंस संचालन, निगरानी समिति, आरआरटी टीम से जुड़े कार्योंं के सम्बन्ध में सेन्टर द्वारा की जा रही कार्यवाही को मौके पर परखा।

मुख्यमंत्री  (cm yogi) vजिला चिकित्सालय में स्थापित कोरोना टीकाकरण केन्द्र का निरीक्षण किया। उन्होंने टीकाकरण कराने आए लोगों से वार्ता की। मुख्यमंत्री (cm yogi) कहा कि कोरोना से बचने के लिए यह टीका बहुत जरूरी है। स्वयं लगवाने के बाद अन्य लोगों को भी वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करें। प्रदेश सरकार कोरोना का टीका नि:शुल्क लगवा रही है।

मुख्यमंत्री  ने विकास खण्ड जोगिया की ग्राम पंचायत जोगिया खास पहुंचकर स्थलीय निरीक्षण किया। वहां उन्होंने ग्राम प्रधान, निगरानी समिति की सदस्यों से संवाद स्थापित करते हुए विशेष जांच अभियान के संचालन के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने सभी लक्षणयुक्त और संदिग्ध संक्रमित व्यक्तियों को मेडिकल किट उपलब्ध कराने तथा कोविड टेस्ट कराने के निर्देश दिए।  मुख्यमंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जोगिया का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान वे कोविड टीकाकरण कक्ष भी गए। उन्होंने चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि कोविड वैक्सीन के बारे में लोगों को जागरूक करें तथा लक्षित आयु वर्ग के सभी लोगों का टीकाकरण कराएं। कोई भी व्यक्ति टीकाकरण से वंचित न रहे।

मुख्यमंत्री  ने पुलिस लाइन सभागार में जनप्रतिनिधियों तथा अधिकारियों के साथ सम्पन्न एक बैठक में कोविड प्रबन्धन कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने निर्देशित किया कि जिला अस्पताल में 100 बेड कोविड मरीजों के लिए तथा 100 बेड पोस्ट कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किया जाए। गम्भीर नॉन कोविड मरीजों के लिए एम्बुलेन्स की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। कम्युनिटी किचन के माध्यम से जरूरतमन्दों तथा कोविड मरीजों के परिजनों को भोजन उपलब्ध कराया जाए।  उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कहा कि कोरोना संक्रमण तथा अन्य रोगों के उपचार के लिए लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त हों, इसके लिए केन्द्र व राज्य सरकार प्रतिबद्ध है।  प्रदेश में जीवन और जीविका को बचाने के लिए हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। हमारे प्रयासों के नतीजे बेहतर मिल रहे हैं। रिकवरी रेट बढ़कर 95 प्रतिशत तथा पाजिटिविटी दर निरंतर घटकर 1 प्रतिशत से आस-पास रह गयी है।

Related Post

किसानों की भलाई का प्रचार करने वाली बीजेपी सरकार अन्नदाताओं को बोलने नहीं देती- प्रियंका गांधी

Posted by - September 21, 2019 0
नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार यानी आज अपनी मांगों को लेकर दिल्ली पहुंचे किसानों को राष्ट्रीय…
SIDDHU

कांग्रेस में सिद्धू की वापसी के प्रयास तेज, कैप्टन के साथ बैठक संभावित

Posted by - March 17, 2021 0
चंडीगढ़। पंजाब में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं। इसको लेकर कांग्रेस ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी हैं।…