Student

छात्रा की मौत के बाद भड़की हिंसा, स्कूल बसों में लगाई आग

57 0

कल्लाकुरिची: तमिलनाडु के कल्लाकुरिची में रविवार को कक्षा 12 की एक छात्रा (Student) की मौत के बाद इलाको में हिंसा की आग भड़क गई। छात्रा की मौत से नाराज लोग बड़ी संख्या में सड़क पर उतर गए और न्याय की मांग करते हुए स्कूल में घुसे और तोड़फोड़ की। क्रोध की आग में जल रहे प्रदर्शनकारियो ने स्कूल बसों को आग के हवाले कर दिया, स्कूल की संपत्ति में तोड़फोड़ की गई।

जानकारी के मुताबिक, 12 जुलाई की रात को कल्लाकुरिची के चिन्नासलेम में एक निजी आवासीय स्कूल में पढ़ने वाली 17 वर्षीय 12वीं कक्षा की छात्रा ने 13 जुलाई को आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बताया कि मृतका अपने पीछे एक सुसाइड नोट छोड़ गई है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि उसे दो टीचर प्रताड़ित किया था, जिसके बाद यह कदम उठाया है। छात्रा छात्रावास की तीसरी मंजिल पर रहती थी। 13 जुलाई की सुबह हॉस्टल के चौकीदार ने उस लड़की का शव जमीन पर पड़ा देखा और स्कूल प्रबंधन को इसकी सूचना दी। माना जा रहा है कि उसने तीसरी मंजिल से कूदकर ही अपनी जान दे दी।

स्थानीय पुलिस को इस मामले की खबर दी और लड़की को पास के अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। छात्रा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि छात्रा की मौत से पहले उसके शरीर पर चोट के निशान थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। छात्रा की मौत के बाद उसके परिजन, रिश्तेदार और उसके गांव पेरिवानासालुर के लोग न्याय की मांग को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने छात्रा की मौत की जांच सीबी-सीआईडी से कराने और दोषियों की गिरफ्तारी की मांग की है।

पीवी सिंधु को सिंगापुर ओपन खिताब जीतने पर पीएम मोदी ने दी बधाई

पुलिस ने अपने बयान में बताया कि, छात्र की मौत के बाद से इलाको में काफी आक्रोश फैला हुआ है। बड़ी संख्या में लोग इकट्ठे होकर उग्र हो गए, कई लोग स्कूल में घुस आए, जिन्हें रोकने की कोशिश की गई। बसों में भीड़ ने आग लगा दी। डीजीपी सी शैलेंद्र बाबू ने बताया कि भीड़ को रोकने के लिए लाठी चार्ज करना पड़ा। पूरे इलाके में 500 से ज्यादा पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। उन्होंने कहा, स्कूल पर हमला करने वाले किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा।

6000mAh बैटरी वाला स्मार्टफोन 8 हज़ार रुपये से भी हुआ सस्ता

Related Post