UP के DGP ने सरकार द्वारा दिए गए सेवा विस्तार को ठुकराया

128 0

यूपी की नौकरशाही से जुड़ी सबसे बड़ी खबर आ रही है. सूत्रों के हवाले से पता चला है कि यूपी के डीजीपी एचसी अवस्थी (UP DGP HC Awasthi) ने सेवा विस्तार की पेशकश को ठुकरा दिया है. ग़ौरतलब है कि यूपी के डीजीपी एचसी अवस्थी इसी महीने 30 जून को रिटायर हो रहे हैं।

नए डीजीपी (DGP) के चयन की प्रक्रिया का पालन करते हुए यूपी सरकार ने उपयुक्त आईपीएस अधिकारियों का एक पैनल यूपीएससी को भेजा था. बताया जाता कि सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश का हवाला देते हुए यूपीएससी ने अधिकारियों का वो पैनल यूपी सरकार को वापस भेजा दिया।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक किसी भी अधिकारी को 2 साल तक डीजीपी पद पर नियुक्त किया जा सकता है ऐसे में अवस्थी का कार्यकाल जनवरी 2021 में खत्म होगा। डीजीपी चुनने की प्रक्रिया में सरकार को तीन माह पहले राज्य के अगले डीजीपी के लिए यूपीएससी को पैनल भेजना होता है, ऐसे में मुश्किल बढ़ गई है।

एशिया की पहली महिला लोकोमोटिव ड्राइवर हैं Mumtaz M. Kazi

यूपीएससी के इस जवाब के बाद राज्य सरकार ने डीजीपी एचसी अवस्थी को जनवरी तक सेवा विस्तार की पेशकश की लेकिन सूत्रों के अनुसार एचसी अवस्थी ने सरकार की इस पेशकश को न मानते हुए सेवा विस्तार लेने से मना कर दिया है। बताया जा रहा है कि एचसी अवस्थी ने सरकार को लिख कर दिया है कि वो 30 जून को ही रिटायरमेंट लेना चाहते हैं।

एचसी अवस्थी के इस जवाब के बाद देखना होगा कि क्या सेवा विस्तार न लेने को उनका इस्तीफा माना जाएगा? इस पर लखनऊ के सत्ता के गलियारे में अंदरखाने बहस जारी है।

इस बात की चर्चा तेज हो गई कि यूपी का अगला डीजीपी कौन होगा। उधर नया डीजीपी कौन होगा इसको लेकर कवायदें भी तेज हो गईं। 1986 बैच से 1990 बैच के आईपीएस के चयन के लिये संभावित नामों की लिस्ट तैयार होने लगी। वरीयता सूची में आगे आने वाले अफसरों के नाम भी सामने आने लगे। सूत्रों के मुताबिक डीजीपी बनने की राह में सबसे आगे चल रहे नामों में आरपी सिंह, मुकुल गोयल और नासिर कमाल तीन प्रमुख नाम हैं।

महानिदेशक पद के लिये प्रक्रिया के तहत 31 नामों पर विचार किया जाएगा। उन्हीं नामों पर विचार किया जा सकता है जिनका सेवा कार्यकाल छह महीना या उससे अधिक बचा हो। नियम के मुताबिक पुलिस महानिदेशक बनने के लिये छह महीने का सेवा कार्यकाल होना जरूरी है।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

दिग्विजय सिंह-कोई अन्न उगा देशद्रोही हो जाता है, तो कोई चंदा खाकर भी राष्ट्रभक्त, वाह मोदी जी वाह!

Posted by - June 19, 2021 0
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से खरीदी गई जमीन पर उठे विवाद को…

एमपी: केंद्रीय मंत्री बनते ही सिंधिया ने मप्र को दी बड़ी सौगात

Posted by - July 11, 2021 0
भाजपा के राज्यसभा सांसद और मप्र के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को हाल ही में केंद्रीय मंत्री बनाया गया है।…