टैरिफ बढ़ाने की तैयारी में भारती एयरटेल, चेयरमैन सुनील ने कही ये बात!

74 0

भारती एयरटेल जल्द मोबाइल फोन की सेवा दरों में बढ़ोतरी कर सकती है। चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने निवेशकों के साथ बातचीत में कहा कि टेलीकाम कंपनियों को व्यावहारिक बनाने के लिए सेवा दरों में बढ़ोतरी जरूरी है। उन्होंने साल के अंत तक दरों में 33% तक की बढ़ोतरी की बात कही। अब वोडाफोन-आइडिया और रिलायंस जियो की तरफ से भी दरों में बढ़ोतरी के कयास लगाए जा रहे हैं।

एयरटेल की 21,000 करोड़ रुपये का कोष जुटाने की योजना से कंपनी को 5जी सेवाओं, फाइबर और डेटा सेंटर कारोबार के लिए निवेश में तेजी लाकर आगे बढ़ने और बड़े अवसरों का लाभ उठाने में मदद मिलेगी। कंपनी के चेयरमैन सुनील मित्तल ने सोमवार को यह बात कही। मित्तल ने कहा कि उद्योग सरकार से इस क्षेत्र में निवेश को “बाधित” करने वाली कुछ महत्वपूर्ण समस्याओं पर ध्यान देने का आग्रह करता रहा है। उन्होंने कहा कि उद्योग पर लगने वाले कर काफी ज्यादा हैं इसमें कमी लाई जानी चाहिये।

पूर्व मिस इंडिया यूनिवर्स प्रियंका पर ससुराल वालों ने लगाया अश्लील फिल्म में काम करने का आरोप

उन्होंने कंपनी की वित्त जुटाने की योजनाओं को लेकर निवेशकों के साथ बातचीत के दौरान कहा, “प्रत्येक 100 रुपये के राजस्व में से 35 रुपये विभिन्न प्रकार के करों में जाते हैं। हमें उम्मीद है कि जैसे-जैसे हम कदम बढ़ाएंगे और अपना काम करेंगे, सरकार उद्योग की कुछ वाजिब मांगों पर भी ध्यान देगी, इससे अच्छा प्रभाव पड़ेगा और सकारात्मक परिणाम मिलेंगे।”

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली पहली महिला की यादों में खोए उसके पिता

Posted by - October 24, 2019 0
नई दिल्ली। अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली भारतीय मूल की पहली महिला कल्पना चावला के पिता बनारसी लाल चावला अपनी…

‘विपक्ष संसद में बोलेगा, और सरकार को सुनना होगा’: संसद में हंगामे के लिए सरकार जिम्मेदार- ओवैसी

Posted by - August 2, 2021 0
संसद के मॉनसून सत्र के बार-बार स्थगित होने के लिए एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने नरेंद्र मोदी नेतृत्व वाली सरकार…

उद्यमी वसीम अख्तर का मानना ​​है कि “जरूरतमंद लोगों की मदद करना ही सबसे बड़ा धर्म है,”

Posted by - June 12, 2020 0
वसीम अख्तर, जो एक पत्रकार रह चुके हैं और अपना ऑनलाइन न्यूज पोर्टल चलाते हैं, चल रहे लॉकडाउन में गरीब…