पंजाब और छत्तीसगढ़ के सीएम ने की घोषणा, मृतकों के परिजनों को मिलेगा 50-50 लाख का मुआवजा

332 0

लखनऊ। पंजाब और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों ने लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गये किसानों और पत्रकार के परिजनों को 50-50 लाख रुपये देने की घोषणा की है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लखनऊ हवाई अड्डे पर कहा कि, छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से, मैं (लखीमपुर खीरी में) किसानों और पत्रकार के परिवारों के लिए 50-50 लाख रुपये की घोषणा करता हूं। बघेल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गये किसानों के परिजनों से मिलने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि राहुल गांधी के साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अलावा पंजाब के नवनियुक्त मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी भी मौजूद हैं। दोनों मुख्यमंत्रियों ने लखनऊ एयरपोर्ट पर ही किसानों के परिजनों के लिए अपने राज्य की तरफ से 50-50 लाख रुपये की मुआवजे का ऐलान किया है।

सीएम चन्नी ने किया ट्वीट

लखनऊ में पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने ट्वीट किया, हम मारे गए किसानों के परिवारों के साथ खड़े हैं। पंजाब सरकार की ओर से मैं पत्रकार सहित मृतकों के परिवारों को 50-50 लाख रुपये देने की घोषणा करता हूं।

बता दें कि यूपी सरकार ने विपक्ष के नेताओं को लखीमपुर जाने की इजाजत दे दी है। प्रियंका गांधी, राहुल गांधी समेत कांग्रेस पांच नेताओं को लखीमपुर जाने की इजाजत मिली है। इसमें छ्त्तीसगढ के सीएम भूपेश बघेल, पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और सचिन पायलट शामिल हैं। राहुल लखनऊ पहुंच चुके हैं, यहां से राहुल पहले सीतापुर जाएंगे, फिर वहां से प्रियंका के साथ पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए लखीमपुर खीरी निकलेंगे। सीतापुर से राहुल-प्रियंका को लखीमपुर ले जाने के लिए भारी सुरक्षा बंदोबस्त किया गया है।

लोगों को पांच-पांच के समूह में जाने की अनुमति- प्रशांत कुमार

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया, लखीमपुर खीरी जिला प्रशासन ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के दृष्टिकोण से लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया था, मगर अब वहां पर लोगों को पांच-पांच के समूह में जाने की अनुमति दे दी गई है। जो भी व्यक्ति जाना चाहें वहां जा सकते हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का उद्देश्य शांति व्यवस्था हर हालत में बनाए रखने का है और उसकी मंशा किसी के आवागमन को बाधित करने की नहीं थी जो भी प्रतिबंध लगाए गए थे, वे लखीमपुर खीरी में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए ही थे।

Related Post

Bhagwati Singh

स्वर्गीय भगवती सिंह का पार्थिव शरीर कोरोना संक्रमित, KGMU ने कहा- अंतिम संस्कार किया जाएगा

Posted by - April 5, 2021 0
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री और राज्यसभा सांसद स्वर्गीय भगवती सिंह (Bhagwati Singh) के पर्थिक शरीर को कोरोना संक्रमित…
CM Yogi

सीएम योगी ने मांगी सहारनपुर पटाखा फैक्ट्री में हुए हादसे की रिपोर्ट

Posted by - May 8, 2022 0
सहारनपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने सहारनपुर जिला प्रशासन से पटाखा फैक्ट्री में हुए धमाके की रिपोर्ट मांगी जिसे…
Britain News

लंदनः ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का निधन

Posted by - April 9, 2021 0
ऩई दिल्ली। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप (Prince Philip) का शुक्रवार को निधन हो गया। वह…

सीएम योगी ने गोरखपुर में की श्रीनाथ जी की पूजा, एटीएस-आरएएफ के घेरे में निकलेगा विजय जुलूस

Posted by - October 15, 2021 0
गोरखपुर। आज देशभर में बड़े धूमधाम से विजयादशमी का त्योहार मनाया जा रहा है। विजयादशमी के मौके पर उत्तर प्रदेश के…