Modi met John Kerry

अमेरिकी दूत जॉन केरी से मिले प्रधानमंत्री मोदी

98 0

अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत जॉन केरी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और 40 वैश्विक नेताओं के आगामी सम्मेलन सहित जलवायु से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि चर्चा मुख्य रूप से जलवायु नेताओं के सम्मलेन, आगामी संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (कॉप26) और यूएन फ्रेमवर्क कन्वेन्शन आॅन क्लाइमेट चेंज (यूएनएफसीसी) से जुड़े मुद्दों पर केंद्रित रही।

जलवायु मुद्दों पर अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत केरी भारत के दौरे पर आए हुए हैं। बागची ने एक ट्वीट में कहा,   जलवायु से जुड़े मुद्दों के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत जॉन केरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। चर्चा जलवायु नेताओं के आगामी सम्मेलन और कॉप26 से लेकर यूएनएफसीसी के संदर्भ में जलवायु मुद्दों पर केंद्रित रही, जो इस साल के अंत में होनी है।

प्रधानमंत्री ने कहा परीक्षा छात्रों के जीवन में आखिरी मुकाम नहीं

केरी ने मंगलवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर और पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के साथ अलग-अलग बैठकें की थी, जिनमें वैश्विक जलवायु कार्वाई से जुड़े मुद्दों पर जोर रहा था।  बैठकों के बाद केरी ने एक ट्वीट में भारत को   जलवायु संकट के खिलाफ हमारी लड़ाई में एक महत्वपूर्ण साझेदार बताया। जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन खासा ध्यान दे रहे हैं। उन्होंने 20 जनवरी को अपने शपथ ग्रहण के बाद अमेरिका के पेरिस जलवायु समझौते में लौटने की घोषणा की थी।

Related Post

देखें रामानंद सागर का 'रामायण' सीरियल

लॉकडाउन में देखें रामानंद सागर का’रामायण’ सीरियल, जानें कब-कहां प्रसारित होगा?

Posted by - March 27, 2020 0
मुंबई। कोरोना वायरस की वजह से भारत में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित हो चुका है। लॉकडाउन के दौरान लोगों…
पाकिस्तान को भारत ने दूसरा बड़ा झटका

भारत की पाकिस्तान पर बड़ी कार्रवाई,MFN का छीना दर्जा, सामान पर लगेगी 200% कस्टम ड्यूटी

Posted by - February 17, 2019 0
नई दिल्ली। पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को भारत ने दूसरा बड़ा झटका दिया है. पहले मोस्ट फेवरेट नेशन…
नकद बरामद

दूसरे चरण के मतदान से ठीक पहले पुलिस की बड़ी कार्रवाई, भारी मात्रा में हथियार बरामद

Posted by - April 16, 2019 0
गाजियाबाद। चुनाव आयोग और पुलिस प्रशासन इन चुनावों को पूरी तरह से साफ-सुथरा बनाने के लिए हर संभव कार्रवाई कर…