Draupadi Murmu

राष्ट्रपति चुनाव: द्रौपदी मुर्मू को मिली Z+ सुरक्षा, मंदिर में लगाई झाड़ू

69 0

नई दिल्ली: राष्ट्रपति चुनाव (Presidential election) के लिए एनडीए की तरफ से द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) को उम्मीदवार घोषित होने के बाद उन्हें को जेड प्लस सिक्योरिटी की सुरक्षा उपलब्ध करा दी गई है। झारखंड की पूर्व राज्यपाल आदिवासी नेता द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) की सुरक्षा में केंद्र सरकार के निर्देश पर सीआरपीएफ के कमांडो अब 24 घंटे तैनात रहेंगे। बुधवार को मुर्मू ओडिशा के एक शिव मंदिर में गईं और पूजा अर्चना की। इस दौरान उन्होंने मंदिर परिसर में झाड़ू भी लगाई।

एनडीए द्वारा मंगलवार को द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित करने के कुछ घंटे पहले ही विपक्षी दलों की तरफ से यशवंत सिन्हा को प्रत्याशी बनाए जाने का ऐलान किया गया था। यशवंत सिन्हा पहले बीजेपी के ही नेता थे, लेकिन बाद में उन्होंने ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस जॉइन कर ली। यशवंत सिन्हा के प्रचार को धार देने के लिए विपक्षी दलों की तरफ से एक कैंपेन कमिटी बनाई गई है। इसकी पहली बैठक आज बुधवार को होगी।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, 64 वर्षीय एनडीए प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू बुधवार सुबह ओडिशा के मयूरभंज जिले में रायरंगपुर जगन्नाथ मंदिर पहुंचीं और पूजा अर्चना की। उन्होंने झाड़ू लेकर मंदिर परिसर में साफ सफाई भी की, द्रौपदी मुर्मू का जन्म आदिवासी जिले मयूरभंज के रायरंगपुर गांव में ही हुआ था। वह आदिवासी पूजा स्थल जहिरा भी गईं।

संजय राउत का बयान, एकनाथ शिंदे से फोन पर हुई एक घंटे बात

इससे पहले, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने द्रौपदी मुर्मू को वीआईपी प्रोटेक्शन देने का निर्देश जारी किया। मुर्मू को संभावित खतरे की आशंका को देखते हुए उन्हें जेड प्लस सिक्योरिटी देने का फैसला किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक, अब सीआरपीएफ के 14 से 16 जवान हर वक्त उनकी सुरक्षा में तैनात रहेंगे। रायरंगपुर में मुर्मू के घर की भी सुरक्षा अब यही संभालेंगे।

मनीष सिसोदिया की बढ़ी मुश्किलें, 100 करोड़ रुपये का मानहानि मुकदमा दर्ज

 

Related Post

योगी आदित्यनाथ

उपद्रवियों के साथ फोटो सेशन में व्यस्त हैं कांग्रेस: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Posted by - January 5, 2020 0
गोरखपुर। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर गोरखपुर में रविवार सुबह जागरूकता अभियान की शुरुआत…
मनोहर पर्रिकर

रक्षा अध्ययन संस्थान अब पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर के नाम पर

Posted by - February 18, 2020 0
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने पूर्व रक्षा मंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर की ‘प्रतिबद्धता और विरासत’ के सम्मान में सरकारी थिंक…
जैन साहित्य

जैन साहित्य में शान्तिरस की प्रधानता, राष्ट्र गौरव है शान्ति रस : डॉ. अभय जैन

Posted by - December 1, 2019 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश जैन विद्या शोध संस्थान, संस्कृति विभाग एवं हिन्दी तथा आधुनिक भाषा विभाग, लखनऊ विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान…