जावेद अख्तर के ट्वीट से आग बबूला ओवैसी

जावेद अख्तर के ट्वीट से आग बबूला ओवैसी की पार्टी, बोली- मुसलमान कहलाने का…

300 0

मुंबई। बॉलीवुड हस्ती जावेद अख्तर अक्सर ही सोशल मीडिया पर ऐसा कुछ कह देते हैं जिससे बवाल मच जाता है। हाल ही में उन्होंने ट्वीट किया है कि भारत में लगभग 50 साल के लिए अज़ान ज़ोर से बोलना हराम था फिर यह हलाला इतना हलाल हो गया कि इसका कोई अंत नहीं है, लेकिन इसका अंत होना चाहिए। अज़ान ठीक है, लेकिन लाउड स्पीकर दूसरों के लिए असुविधा का कारण बनता है। उन्होंने कहा कि मुझे आशा है कि कम से कम इस बार वे खुद ऐसा करेंगे।

जावेद अख्तर ने लाउडस्पीकर पर अजान को लेकर ऐसा ट्वीट किया जिसकी वजह से यूजर्स उन्हें ट्रोल कर रहे हैं। ट्विटर पर छिड़ी इस जंग में अब ओवैसी की AIMIM पार्टी भी कूद गई है। उन्होंने जावेद के ट्वीट की आलोचना करते हुए ये तक कह दिया कि, उन्हें मुसलमान कहलाने का हक ही नहीं है। साथ ही एक वीडियो मैसेज जारी किया है, जिसमें उन्होंने जावेद पर जमकर हमला बोला है।

सैयद असीम वकार का जावेद पर बोला बड़ा हमला

जावेद अख्तर के अजान वाले ट्वीट के जवाब में AIMIM के नेता सैयद असीम वकार ने लिखा, ‘दोस्तों आज एक साहब ने ट्वीट करके फिर से लाउडस्पीकर पर अजान का विरोध किया है। लेकिन अफसोस कि वह मुसलमान हैं। मेरी आप सब से गुजारिश है कि उन साहब को आए एक लकाब से जरूर नवाजिए। आप जो चाहें उनका नाम रख सकते हैं। इसके साथ उन्होंने जावेद के खिलाफ बोलते हुए एक वीडियो भी पोस्ट किया है।

असीम वकार ने लगाए जावेद अख्तर पर गंभीर आरोप

वीडियो में असीम वकार ने गीतकार जावेद अख्तर पर हमला बोलते हुए कहा कि यह वही साहब हैं जिन्होंने कुछ दिन पहले असद साहब के भाषण के विरोध में राज्यसभा में एक भाषण दिया था…शेरवानी..शेरवानी करके खूब चिल्लाए थे और बीजेपी के लोगों ने खुश होकर खूब तालियां बजाई थीं। अल्लाह का करम देखिए, अल्लाह ने उस बड़े से कुर्ते में छिपे छोटे आदमी को आप सबके सामने खड़ा कर दिया है। अल्लाह ने दिखा दिया कि इस बड़े से कुर्ते के नीचे जो ज्ञान है वह खाकी निक्कर से निकल कर आ रहा है।

अल्लाह ने दिखा दिया कि इस बड़े से कुर्ते के नीचे जो ज्ञान है वह खाकी निक्कर से निकल कर आ रहा है

उन्होंने कहा कि AIMIM इस तरह के बयान का खंडन और पुरजोर विरोध करती है। यह साहब अब राज्यसभा सदस्य नहीं हैं, मैं समझता हूं कि राज्यसभा सदस्य बनने के लिए जो जो हथकंडे इस्तेमाल करने चाहिए, उन्हीं में से एक हथकंडे का नाम यह है। आप सब लोगों से मेरी गुजारिश है कि आप अपने अपने तरीके से, अपने अपने शब्दों में जो बेहतर लगे उस तरीके से इनका विरोध करें, ये तरीका ठीक नहीं है। रमजान के पाक महीने में अजान का जो विरोध कर रहे हैं उन्हें मुसलमान कहलाने का हक नहीं है।

Loading...
loading...

Related Post

भारत को 173 रन का लक्ष्य

पाक ने फाइनल में पहुंचने के लिए भारत को दिया 173 रन का लक्ष्य

Posted by - February 4, 2020 0
नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका में मंगलवार को अंडर-19 विश्व कप के पहले सेमीफाइनल में भारतीय गेंदबाजों के आगे पाकिस्तान ने…
आईटीबीपी जवानों में खूनी संघर्ष

छत्तीसगढ़ : आईटीबीपी कैंप में जवानों में खूनी संघर्ष में छह की मौत, कई घायल

Posted by - December 4, 2019 0
रायपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के नारायणपुर में बुधवार सुबह नौ बजे आईटीबीपी के कड़ेनार कैंप में जवानों के बीच…