किसान नेताओं के फोन की भी जासूसी कर रही सरकार! कक्का बोले- हमारे भी नंबर सर्विलांस पर

166 0

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान जंतर-मंतर पर ‘किसान संसद’ लगा रहे हैं। इस बीच मीडिया से बात करते हुए कुछ किसान नेताओं ने अंदेशा जताया है कि सरकार किसान नेताओं के फोन की भी जासूसी कर रही है। किसान नेता शिव कुमार कक्का ने कहा- मौजूदा सरकार अनैतिक सरकार है। हमें शक है कि हमारे फोन नंबर भी उस सूची में शामिल हैं।

उन्होंने कहा- सरकार इस पूरी जासूसी के पीछे है। आंदोलन फिर तेज हो रहा है तो जाहिर है कि सरकार हमारे नंबर पर नजर रख रही होगी। स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा- वर्ष 2020-21 के डेटा में किसान नेताओं के फोन नंबर हो सकते हैं। स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने कहा कि किसान नेताओं के फोन नंबर साल 2020-21 के आंकड़ों में मिलेंगे। यादव बोले, ‘जब यह आंकड़ा सार्वजनिक होगा, निश्चित तौर पर हमारे नंबर भी मिलेंगे।’

पूरे मानसून सत्र के लिए निलंबित किए गए शांतनु सेन, IT मंत्री के हाथ से छीन कर फाड़ा था पेपर

यादव ने कहा कि प्रदर्शनकारी किसान सरकार को यह दिखाने के लिए जंतर-मंतर पर आए हैं कि किसान मूर्ख नहीं हैं। ब्रिटेन की संसद में किसानों के मुद्दों पर चर्चा हुई, लेकिन भारत की संसद में नहीं। यादव ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केंद्रीय कानूनों के विरोध में किसानों की ओर से उठाए गए मुद्दों पर बहस के लिए जोर दिया। किसान नेता हन्नान मुल्ला ने कहा कि उन्होंने सभी सांसदों को अपनी मांगें उठाने के लिए पत्र लिखा था, लेकिन आरोप लगाया कि संसद उनके मुद्दों को नहीं उठा रही है।

Related Post

CDS General Bipin Rawat

लीडरशिप एक मुश्किल कार्य ,हिंसा भड़काना नेतृत्व काम नहीं : सेना प्रमुख

Posted by - December 26, 2019 0
नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी को लेकर देश में जारी विरोध-प्रदर्शनों पर लेकर देश की राजनीति में…
Mubarakpur

चौकी के अंदर प्रभारी लड़ा रहे थे जाम, विधायक को देखते ही उतरा नशा

Posted by - April 19, 2022 0
मोहाली: मुबारकपुर (Mubarakpur) चौकी प्रभारी गुलशन कुमार को शुक्रवार की रात अपने कार्यालय में एक आगंतुक के साथ शराब पीते…

किसान आंदोलन के नौ महीने पूरे, आज से दो दिवसीय अधिवेशन, आंदोलन तेज करने पर बनेगी रणनीति

Posted by - August 26, 2021 0
दिल्ली की सीमाओं पर अपनी मांगों के समर्थन में किसानों के आंदोलन के आज नौ महीने पूरे होने के बाद…
CIMAP Kisan Mela 2021

सीमैप किसान मेला 2021ः कोविड़-19 महामारी के समय औषधीय व सगंध पौधों की मांग बढ़ी

Posted by - January 31, 2021 0
लखनऊ । सीएसआईआर – केन्द्रीय औषधीय व सगंध पौधा संस्थान (CSIR-CIMAP) लखनऊ स्थित कैम्पस में रविवार 31 जनवरी को किसान…