जल्द BJP करेगी ‘किसान सम्मेलन’, सपा बोली- चुनाव आते ही भाजपा को आ गई किसानों की याद

114 0

भाजपा उत्तर प्रदेश के अंदर ‘किसान सम्मेलन’ का आयोजन करने जा रही है। इस पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने तंज कसा है।अखिलेश यादव ने कहा, ‘सुना है बातों की खेती करनेवाली भाजपा यूपी में ‘किसान सम्मेलन’ करेगी।’ किसान भाजपाइयों के बहकावे-फुसलावे में नहीं आनेवाले।उन्होंने लिखा- अन्नदाता का मतदाता बनने का समय जब निकट आया तब जाकर भाजपा को किसानों की याद आयी।

दरअसल, अगले साल उत्तर प्रदेश के अंदर विधानसभा चुनाव होने वाले है, इसी को लेकर बीजेपी की नजर रूठे हुए किसानों को मनाने पर है। बीजेपी 16 अगस्त से बड़ा अभियान शुरू करने जा रही है। इस अभियान के तहत कृषि कानून के फायदे और केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किए गए कामों के बारे में बताया जाएगा।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने गुरुवार सुबह एक ट्वीट किया है। ट्वीट में उन्होंने लिखा कि सुना है बातों की खेती करनेवाली भाजपा यूपी में ‘किसान सम्मेलन’ करेगी। अन्नदाता का मतदाता बनने का समय जब निकट आया तब जाकर भाजपा को किसानों की याद आयी। किसान भाजपाइयों के बहकावे-फुसलावे में नहीं आनेवाले। 2022 में किसान एकजुट होकर भाजपा के ख़िलाफ़ मतदान करेंगे।’

आपको बता दें कि पिछले 10 महीने से काफी वक्त से किसान अपनी मांगों को लेकर बीजेपी के खिलाफ मुहिम चला रहे हैं। किसानों की नाराजगी को लेकर के विपक्ष भी सरकार पर हमला बोलने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है, इसलिए भाजपा सरकार ने विधनसभा चुनावों से पहले किसान संपर्क यात्रा , संवाद बनाने की कोशिश और संबंध सुधारने की तरफ ज्‍यादा ध्यान देने की कवायद शुरू की है, ताकि यूपी की सत्‍ता फिर हासिल करने में कोई दिक्‍कत न हो।

अब किसानों को समझाने के लिये बीजेपी की तरफ से 16 से 23 अगस्त तक पूरे प्रदेश में सम्पर्क अभियान चलाया जायेगा. इस अभियान की जिम्मेदारी भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष कामेश्वर सिंह को मिली है। अभियान के दौरान एक तरफ जहां किसानों को उनके लिए केंद्र और राज्य सरकार के काम बताए जाएंगे तो वहीं दूसरी ओर कृषि बिल के फायदे।

तीसरी लहर की दस्तक! स्कूल खुलते ही बेंगलुरु में 300 से अधिक बच्चे पॉजिटिव

किसानों से उनकी समस्याएं सुन समाधान का रास्ता भी निकाला जाएगा। इतना ही नहीं किसान मोर्चा जल्द ही गन्ने का मूल्य बढ़ाने, कोरोना काल को देखते हुए किसानों को ट्यूबवेल के बिल में राहत देने का भी प्रस्ताव देने की तैयारी में है। इसके अलावा बीजेपी आने वाले दिनों में किसानों की एक बड़ी बैठक करने वाली है. इसके बाद सितम्बर के पहले सप्‍ताह में मेरठ में किसानों का बड़ा सम्मेलन प्रस्तावित है।

Divyansh Singh

मिट्टी का तन, मस्ती का मन; छड़ भर जीवन, मेरा परिचय।

Related Post

कर्नाटक के नए सीएम पर हलचल तेज, मुख्यमंत्री पद की दौड़ में ये 4 नाम आगे

Posted by - July 26, 2021 0
कर्नाटक की राजनीति में इन दिनों उथल-पुथल जारी है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा आज यानी सोमवार को विधानसभा में…

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज चेलमेश्वर का बड़ा बयांन

Posted by - November 3, 2018 0
मुंबई। सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस चेलमेश्वर बयां जारी करते हुए कहा है कि,अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को…
अनुराग ठाकुर

‘गोली मारो’ वाले नारे के सवाल पर भड़के अनुराग ठाकुर, बोले- अधूरी जानकारी घातक

Posted by - March 1, 2020 0
नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर रविवार को चंडीगढ़ पहुंचे थे। इस दौरान कुछ पत्रकारों ने उनसे विवादित नारा…

छत्तीसगढ़ का अगला सीएम कौन? आज होगा फैसला,ताम्रध्वज, सिंहदेव, बघेल के बंगलों की सुरक्षा बढ़ाई गई

Posted by - December 15, 2018 0
रायपुर/दिल्ली। शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने आवास पर छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, चरणदास महंत…