chess

किशनगंज शतरंज में जयब्रोतो एवं मुकेश ने मारी बाजी

71 0

नई दिल्ली। जिला शतरंज संघ (chess federation) की ओर से रविवार को इंडोर स्टेडियम डुमरिया में बालक-बालिका खिलाड़ियों के बीच एक नि:शुल्क शतरंज प्रतियोगिता (chess competition) का आयोजन किया गया जिसमें करीब 3 दर्जन खिलाड़ियों ने भाग लिया। इसके जूनियर विभाग में जयब्रोतो दत्ता (Jaibroto Dutta), जबकि सीनियर विभाग में मुकेश कुमार (Mukesh Kumar) विजेता घोषित हुए।

संघ के मानद महासचिव शंकर नारायण दत्ता एवं वरीय संयुक्त सचिव कमल कर्मकार ने जानकारी दी कि जूनियर विभाग में जॉयब्रोतो के बाद हिमांश जैन, ग्रंथ जैन, हार्दिक प्रकाश, अनिमेष कुमार, श्रीजॉय पाल, अनाया जैन, पीयूष कुमार एवं अन्य ने जगह बनाई।

वहीं सीनियर विभाग में मुकेश के बाद अमन कुमार गुप्ता, दिव्यांशु सिंह, आयुष कुमार, रिया गुप्ता, रूपिका जैन, ऋत्विक मजूमदार, प्रत्यूषी जैन, पलचीन जैन, अनुराग कुमार, भव्य निधि, रचित बिहानी, दृष्टि कुमारी, आराध्या सिंह, विवान डे, रमित जैन, देव कुमार, अभिरूप दास, युवराज साहा, आरीब सबेरी एवं अन्य अगले स्थानों पर काबिज हुए।

प्लेऑफ के लिए ‘LSG’ से ‘RR’ की होगी भिड़ंत, ये होगी दोनों की प्लेइंग XI

विजेता खिलाड़ियों को संघ के वरीय उपाध्यक्ष बिमल मित्तल ने पुरस्कृत किया। इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि उन्होंने सारे प्रतिभागियों से आपस में प्रतिस्पर्धा करने के दौरान खेल भावना को बनाए रखने की अपील की एवं कहा कि अत्यंत जटिल दिमागी खेल शतरंज (chess)  को ठीक से खेल पाना ही अपने-आप में एक उपलब्धि है जो सभी बड़े-बड़ों के भी पल्ले नहीं पड़ते। मौके पर संघ के संयुक्त सचिव सुधांशु सरकार, सहायक सचिव रोहन कुमार, अतिथि के रुप में उपस्थित मनीष जैन, देबजानी डे, रंजीत मजूमदार एवं अन्य उपस्थित थे।

चीन से छिनी AFC एशियाई कप 2023 की मेजबानी, ये है बड़ी वजह

Related Post

मीराबाई चानू

भगवान से कर रही हूं प्रार्थना, न रद्द हो टोक्यो ओलंपिक : मीराबाई चानू

Posted by - March 22, 2020 0
नई दिल्ली। कोविड-19 महामारी के बावजूद टोक्यो ओलंपिक कार्यक्रम के अनुसार आयोजित हो। इसके लिए भारतीय भारोत्तोलक मीराबाई चानू आजकल…
Avinash Mukund

CWG: अविनाश मुकुंद ने 3000 मीटर स्टीपलचेज स्पर्धा में जीता रजत

Posted by - August 6, 2022 0
बर्मिंघम। भारतीय एथलीट अविनाश मुकुंद (Avinash Mukund) ने शनिवार को 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुषों की 3000 मीटर स्टीपलचेज स्पर्धा…