State government

 सरकार ने योजना के माध्यम से 05 साल में 01 करोड़ 44 लाख से अधिक का दिया अनुदान

127 0

लखनऊ: प्रदेश सरकार (State government) यूपी में गरीब, श्रमिक और मजदूरों की बेटियों की शादी कराने के साथ उनके जीवन को निखारने का काम कर रही है। विगत 05 वर्षों में श्रम कल्याण परिषद की ज्योतिबा फुले श्रमिक कन्यादान योजना (Shramik Kanyadan Yojana) गरीब बेटियों के लिए वरदान बनी है। योजना से अब तक 769 श्रमिकों की कन्याओं की शादी कराई जा चुकी है। सुखी और दाम्पत्य जीवन मिलने से गरीब बेटियों के घरों में खुशियां फैली हैं। शादी कराने के लिए गरीब परिवारों को सरकार 01 करोड़ 44 लाख रुपये का अनुदान दे चुकी है।

यूपी के गरीबों, श्रमिकों, मजदूरों के लिए प्रदेश सरकार लगातार अभूतपूर्व कार्य कर रही है। सत्ता में आने के बाद से ही योगी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की बेटियों की शादी कराने की चिंता की। इसके लिए ज्योतिबा फुले श्रमिक कन्यादान योजना से लाभ देने की शुरुआत की गई। गरीब बेटियों को उनकी शादी के लिए 51 हजार रुपये अनुदान के रूप में दिये गये। सरकार की ओर से दी जा रही आर्थिक मदद से श्रमिक परिवारों को अब अपनी बेटियों की शादी कराने के लिए कर्ज और लोन नहीं लेना पड़ रहा है। सरकार उनकी जिम्मेदारी को पूरा करने में मददगार साबित हो रही है।

यह भी पढ़ें: जंगल कौड़िया PHC से जन आरोग्य मेला का सीएम योगी ने किया शुभारंभ

बता दें कि गरीब बेटियों की जिंदगी में खुशिया बिखेरने का काम करने वाली योगी सरकार 2017-18 में 240 लाभार्थियों को 36 लाख रुपये, 2018-19 में 164 लाभार्थियों को  24.60 लाख, 2019-20 में 154 लाभार्थियों को 23.10 लाख रुपये, 2020-21 में 74 लाभार्थियों को  11.10 लाख रुपये और 2021-22 में  137 लाभार्थियों को 50 लाख रुपये का अनुदान दे चुकी है। सरकार की मंशा गरीबों को सम्मान दिलाने के साथ उनके जीवन स्तर में सुधार लाना है। साथ ही उनकी आर्थिक मदद करके उनको परेशानियों से छुटकारा दिलाना भी है।

यह भी पढ़ें: शाहिद कपूर की फिल्म 14 अप्रैल को नहीं होगी रिलीज, देखें नई डेट

Related Post