लखनऊ में कोरोना

लखनऊ में कोरोना के चार और नए मरीज मिले, संख्या बढ़कर नौ पहुंची

287 0

नई दिल्ली। पूरे विश्व में कोरोना का कहर जारी है। अब लखनऊ में कोरोनावायरस अपना पैर पसारता जा रहा है। शुक्रवार को खुर्रमनगर के तीन और महानगर की एक महिला में कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है।

कोरोना के संक्रमण से बचाव पर और ज्यादा ध्यान देने की जरूरत

संक्रमित मरीजों के घर स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची। मरीजों को केजीएमयू ले जाया जा रहा है। इसके पहले गुरुवार को दो और लोगों की पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। अब शहरवासियों को कोरोना के संक्रमण से बचाव पर और ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। आने वाले 15-20 दिन संवेदनशील हैं। राजधानी ही नहीं प्रदेशभर में मिल रहे कोरोना मरीजों को लेकर चिकित्सा विशेषज्ञों में भी मंथन का दौर चल रहा है। सबका जोर भीड़ रोकने पर है। उनका तर्क है कि जब लोगों का आना-जाना कम होगा तो इस वायरस का फैलाव भी कम हो जाएगा।

कोरोनावायरस ने पूरी मानव जाति को संकट में डाला : पीएम मोदी

एसजीपीजीआई के निदेशक प्रो. आरके धीमान ने बताया कि जिन देशों में कोरोना का असर तेजी से बढ़ा

एसजीपीजीआई के निदेशक प्रो. आरके धीमान ने बताया कि जिन देशों में कोरोना का असर तेजी से बढ़ा था, वहां भीड़ रोकने के बाद उतनी ही तेजी से नियंत्रण भी दिख रहा है। यह वायरस एक व्यक्ति से सैकड़ों में फैलता है। ऐसे में कोरोना की चपेट में कौन है, यह तय करना मुश्किल है?  ऐेसे में जब लोग यात्रा कम करेंगे और एक ही स्थान पर रहेंगे तो वायरस कम फैलेगा। यदि दो-चार दिन बाद उनमें लक्षण मिलता भी है तो वह चंद लोगों में ही फैला होगा। ऐसे में पूरे परिवार को आइसोलेट करना आसान रहेगा। इसे ध्यान में रखकर लोगों से कम से कम बाहर निकलने की अपील की जा रही है।

वायरस से घबराने की नहीं , सिर्फ इस पर ध्यान देने की जरूरत

केजीएमयू के डॉ. डी हिमांशु का कहना है कि दो नए मरीज मिलने के आधार पर कोरोना का फैलाव बढ़ रहा है, यह कहना जल्दबाजी होगा। हालांकि, सावधानी बरतकर इसे रोक सकते हैं। लोहिया संस्थान के मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. विक्रम सिंह का कहना है कि जिन भी मरीजों में इसके लक्षण मिले हैं उनकी हालत सुधरी है। ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है, सिर्फ इस पर ध्यान देने की जरूरत है कि वायरस का फैलाव न होने पाए।

कोरोनावायरस ने पूरी मानव जाति को संकट में डाला : पीएम मोदी

केजीएमयू में नई टीम भी अस्पताल में रहेगी

केजीएमयू में कोराना मरीजों के इलाज में लगी नई टीम भी यहीं रुक रही है। इसके मुखिया डॉ. सुधीर कुमार वर्मा ने बताया कि टीम को मास्क लगाने, ड्रेस पहनने और चश्मे को पहनते वक्त और उतारते वक्त बरती जाने वाली सावधानी से वाकिफ कराया जा रहा है। हैंड वॉश को भी लगातार हिदायत दी जा रही है। जो रेजिडेंट पॉजिटिव आया है उससे कहां चूक हुई? यह तय नहीं है। नई टीम को भी वार्ड में ड्यूटी करने के बाद अस्पताल में ही रोका जा रहा है।

Related Post

tejashvi yadav

बिहार विधानसभा : महिला विधायकों ने दिखाई चूड़ियां, तेजस्वी ने कहा- सरकारें बदलती रहेंगी…

Posted by - March 24, 2021 0
पटना। मंगलवार को विधानसभा के अंदर जो हंगामा हुआ और मारपीट हुई उसको लेकर राजनीति चरम पर है। विपक्ष के…

बीएल संतोष के सहायक के दुर्व्यवहार से पं. दीनदयाल उपाध्याय के प्रपौत्र खफा

Posted by - May 28, 2021 0
देहरादून। भारतीय जनता पार्टी के अखिल भारतीय  संगठन  महामंत्री बीएल संतोष के सहायक अरुण भिंडे के व्यवहार से भारतीय जनता…
प्रियंका वाड्रा

मोदी को मेरे परिवार पर हमले बोलने की सनक, पांच साल में क्या किया वह भी बताएं ?

Posted by - April 24, 2019 0
फतेहपुर। फतेहपुर में कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान के लिए चुनाव प्रचार करने लिए पहुंचीं राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने बुधवार…

”दुर्गा पूजा महोत्सव में मैने अपमानित महसूस किया मैं बहुत दुखी और व्यथित हूं – जगदीप

Posted by - October 15, 2019 0
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में शुक्रवार को हुए इस महोत्सव की बैठक व्यवस्था से धनखड़ खुश नहीं थे। कार्यक्रम का आयोजन…