वायरल पोस्टर पर पीएम मोदी ने तोड़ी चुप्पी

कोरोनावायरस ने पूरी मानव जाति को संकट में डाला : पीएम मोदी

30 0

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस के कहर के चलते उत्पन्न हो रही स्थिति और इससे निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों को लेकर आज देश को संबोधित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले दो महीने से हम लगातार दुनिया से आ रही चिंताजनक खबरें देख रहे हैं। दो महीनों में भारत के लोगों ने इस महामारी का डटकर मुकाबला किया है। कोरोना वायरस ने पूरी मानव जाति को संकट में डाला है।

कोरोना वायरस से बचने के लिए कोई निश्चित उपाय नहीं आया , न ही वैक्‍सीन आई  और हर किसी की चिंता बढ़नी स्‍वाभाविक है

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे देशवासियों ने कभी निराश नहीं किया है। मैं आज 130 करोड़ देशवासियों से कुछ मांगने आया हूं। मुझे आपके आने वाले कुछ सप्‍ताह चाहिए। आपका आने वाला कुछ समय चाहिए। प्‍यारे देशवासियों अब तक महामारी से बचने के लिए कोई निश्चित उपाय नहीं आया है, न ही वैक्‍सीन आई है। हर किसी की चिंता बढ़नी स्‍वाभाविक है।

130 करोड़ भारतीयों को संकल्‍प दृढ़ करना होगा कि हम खुद भी संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी बचाएंगे

पीएम मोदी ने कहा कि भारत पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, ये मानना गलत है। इसलिए दो प्रमुख बातों पर ध्‍यान देना जरूरी है। ये हैं संकल्‍प और संयम 130 करोड़ भारतीयों को संकल्‍प दृढ़ करना होगा कि हम खुद भी संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी बचाएंगे।

पीएम मोदी ने 22 मार्च को घोषित किया ‘जनता कर्फ्यू’

पीएम मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की है। उन्‍होंने देशवासियों से अपील की कि वह रविवार को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक घर ही रहें। पीएम मोदी ने देशवासियों से कहा कि सोशल डिस्‍टेंसिंग कोरोना वायरस से बचने का सही उपाय है। जितना हो सके, अपने घर पर रहें। घर से ही काम करें। आपको घर से ही ऑफिस का काम करें। समाजिक समारोहों से दूर रहना होगा।

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़कर 173 हो गई

वहीं देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़कर 173 हो गई है। साथ ही अब तक चार लोगों की मौत इससे हो चुकी है। पीएम मोदी के संबोधन से पहले ही सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर बड़े फैसलों का ऐलान कर दिया है। सरकार के फैसले के अनुसार 22 मार्च से विदेश से भारत आने वाली सभी यात्री उड़ानों की देश में लैडिंग पर एक सप्‍ताह तक रोक लगा दी गई है।

65 साल की उम्र से ऊपर के बुजुर्गों को घर पर ही रहने के संबंध में निर्देश जारी किए

मोदी सरकार की ओर से राज्‍य सरकारों को यह भी कहा गया है कि वे सरकारी कर्मियों, मेडिकल प्रोफेशनल्‍स और जनप्रतिनिधियों के अलावा 65 साल की उम्र से ऊपर के बुजुर्गों को घर पर ही रहने के संबंध में निर्देश जारी किए जाएं। इसके अलावा सरकार की ओर से 10 साल से कम उम्र के बच्‍चों को घर पर ही रहने को कहा गया है। उन्हें घर के बाहर निकलने से मना किया गया है। इसके साथ ही रेलवे और विमानन कंपनियों से स्‍टूडेंट, मरीज और दिव्‍यांगों को छोड़कर अन्‍य सभी नागरिकों के लिए टिकटों में छूट को बंद करने को कहा गया है।

Loading...
loading...

Related Post

हैदराबाद केस

हैदराबाद केस: पीड़िता की पहचान उजागर करने वाले टीवी चैनल-सोशल साइटों को नोटिस

Posted by - December 3, 2019 0
नई दिल्ली। हैदाराबाद में महिला पशु चिकित्सक से दुष्कर्म और हत्या के मामले में पुलिस ने मंगलवार को टीवी चैनलों…
Google Pay

आरबीआई से दिल्ली हाईकोर्ट से मांगा जवाब, बिना मंजूरी कैसे चल रहा है Google Pay

Posted by - April 10, 2019 0
डेक डेस्क। दिल्ली उच्च न्यायालय ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया डिजिटल पेमेंट ऐप गूगल पे को लेकर सवाल पूछा है।…

नेशनल काउंसिल की बैठक के दौरान बीजेपी अध्यक्ष ने कांग्रेस पर साधा निशाना

Posted by - January 11, 2019 0
नई दिल्ली। नेशनल काउंसिल की बैठक के दौरान अमित शाह ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने कहा कि…