Baby girl

फ्लैटमेट्स ने 8 साल की बच्ची को बनाया हवस का शिकार, गिरफ्तार

97 0

नई दिल्ली: बदरपुर (Badarpur) इलाके में बीते गुरुवार को आठ साल की बच्ची (Baby girl) के साथ कथित तौर पर बलात्कार करने के आरोप में दिल्ली के 21 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया। दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को नोटिस जारी कर मामले पर विस्तृत कार्रवाई रिपोर्ट मांगी है। आरोपी और पीड़िता (Baby girl) के माता-पिता ने एक किराए का अपार्टमेंट साझा किया और यह घटना तब हुई जब लड़की घर पर अकेली थी।

पुलिस ने बताया, आरोपी, एक ड्रग एडिक्ट है, वो उस बच्ची को एक कमरे में ले गया और कथित तौर पर उसके साथ बलात्कार किया। पुलिस रिपोर्टों के अनुसार, काम से लौटने के बाद लड़की की मां ने उसके चेहरे पर काटने के निशान और अन्य चोटों को देखा। अधिकारी ने बताया कि पूछने पर नाबालिग ने आपबीती सुनाई जिसके बाद मां ने पुलिस को घटना की जानकारी दी।

पुलिस उपायुक्त (दक्षिणपूर्व) ईशा पांडे ने कहा, “15 जून को बदरपुर थाने में नाबालिग लड़की से दुष्कर्म की सूचना मिली थी।” पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और पीड़िता और उसकी मां को चिकित्सा सहायता के लिए एम्स ले गई। पांडे ने कहा कि बुधवार को दायर एक शिकायत में मां ने आरोप लगाया था कि उनके पड़ोसी, जो आगरा के मूल निवासी हैं, ने उनकी बेटी के साथ बलात्कार किया और भाग गए। उन्होंने कहा कि आरोपी को उसी दिन हरियाणा में उसके रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार किया गया था।

तलाक-ए-हसन: मुस्लिम तलाक प्रथा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

डीसीपी ने कहा, “आरोपी के संभावित ठिकाने पर छापेमारी के लिए चार टीमों का गठन किया गया था। तकनीकी निगरानी की मदद से उसे कल रात हरियाणा के पलवल जिले के बामिनीखेड़ा गांव से उसके रिश्तेदार के घर से गिरफ्तार किया गया।” पुलिस ने कहा कि भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (बलात्कार), 342 (गलत तरीके से कैद), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाना) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (पॉक्सो) की धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है।

डीसीडब्ल्यू ने अपने नोटिस में मामले को ‘बहुत गंभीर’ करार दिया और पुलिस से प्राथमिकी की एक प्रति, गिरफ्तार किए गए आरोपियों का विवरण और मामले पर की गई कार्रवाई की विस्तृत रिपोर्ट 20 जून तक उपलब्ध कराने को कहा।

Father’s Day पर अपने पिता को दें ये खास तोहफा, उम्र भर रहेंगे टेंशन फ्री

Related Post

अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में आरोपियों ने की हत्या

अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में आरोपियों ने की हत्या

Posted by - March 30, 2021 0
दो सगे भाईयों ने लखनऊ से एक अधिवक्ता का अपहरण कर उन्नाव में ले जाकर हत्या कर दी पुलिस ने शव उन्नाव के मौरावां क्षेत्र में सड़क किनारे बरामद कर लिया बीते शनिवार से अधिवक्ता लापता थे, पुलिस तलाश में लगी थी। पुलिस ने इस बारे में छानबीन में पता चला कि अधिवक्ता को उसके ही पड़ोसी अपने साथ ले गए हैं। इसके बाद पुलिस ने दोनों भाईयों को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा किया।मामला कैसरबाग थानाक्षेत्र के लालकुंआ, मकबूलगंज इलाके का है। यहां से अधिवक्ता नितिन तिवारी (35) का अपहरण कर हत्या कर दी गई। एडीसीपी पश्चिम राजेश कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक नितिन तिवारी मकबूलगंज में रहते थे। होली के हुड़दंग का विरोध करने पर वकील पर फायरिंग बीते शनिवार को उनके भाई मयंक ने अपहरण की आशंका जताते हुए कैसरबाग कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस की कई टीमें उनकी लोकेशन ट्रेस करने के साथ ही पड़ताल में लगी थीं। इस बीच रविवार को नितिन का शव उन्नाव जनपद के मौरावां क्षेत्र के पिसंदा गांव में सड़क किनारे झाड़ियों में पड़ा मिला। उन्नाव पुलिस की सूचना पर मयंक के परिवारीजनों ने शव की शिनाख्त की। पड़ताल में पता चला कि नितिन को उनके पड़ोस में रहने वाले प्रवीण अग्रवाल और उसका भाई विपिन अग्रवाल अपने साथ कार से ले गया था। दोनों की तलाश शुरू हुई। इस बीच उन्नाव पुलिस ने मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर प्रवीण और उसके भाई विपिन को गिरफ्तार कर लिया। उन्नाव के मौरावां थाने के इंस्पेक्टर ने बताया कि दोनों हत्यारोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम में अधिवक्ता की गला दबाने और सिर पर भारी वस्तु से प्रहार कर हत्या करने की पुष्टि हुई है। एटीएस को सौदागार सदर की पत्नी की तलाश…