CSIR-CIMAP

CSIR-CIMAP : अब संगम में नहीं प्रवहित होंगे चढ़ावे के फूल, बनेगी सुगंधित अगरबत्ती

831 0

लखनऊ। सीएसआईआर–केन्द्रीय औषधीय एवं सगंध पौधा संस्थान (CSIR-CIMAP), लखनऊ ने मंदिरों मे चढ़े फूलों से निर्मित सुगंधित अगरबत्ती व कोन की तकनीक को मेसर्स ग्रीन ड्रीम भारत, नैनी, प्रयागराज को हस्तांतरित किया है । कंपनी के प्रमुख अभय मेहरोत्रा आई. आई. टी. कानपुर से इंजीनियरिंग करने के बाद पिछले 16 वर्षों से कार्पोरेट जगत में कार्य कर रहे थे, जिसमें वर्तमान में इन्होंने 6 वर्ष देश के कंपनी प्रमुख का दायित्व लिया था । कंपनी ने सीएसआईआर-सीमैप से मंदिरों मे चढ़े फूलों से निर्मित सुगंधित अगरबत्ती एवं कोन की तकनीकी को प्राप्त कर अपने ब्रांड का उत्पाद बाजार में उतारेंगे ।

फिल्म ‘एक विलेन 2’ की शूटिंग को लेकर हैं उत्साहित दिशा पाटनी

मंदिरों मे चढ़े फूलों से निर्मित सुगंधित अगरबत्ती एवं कोन पूर्णतया हर्बल एवं सुगंधित तेलों द्वारा निर्मित होने के कारण इसका शरीर पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है। इस समझौते पर मेसर्स ग्रीन ड्रीम भारत, नैनी, प्रयागराज के निदेशक, अभय मेहरोत्रा एवं सीएसआईआर-सीमैप के प्रशासन अधिकारी द्वारा हस्ताक्षर किए गये। कंपनी जल्द ही अपनी विनिर्माण सुविधा में उत्पादन शुरू करेगी। कंपनी इसे महिलाओं को सक्षम बनाने हेतु प्रयागराज के आस-पास के गावों में गरीब महिलाओं तथा शिक्षित बेरोजगारों को काम देकर उत्पाद को देश व विदेश के बाज़ार में उतारने का लक्ष्य है । एक सर्वेक्षण के अनुसार, प्रयागराज में लगभग 02-2.5 टन फूल प्रतिदिन मंदिरों व पूजा स्थलों पर चढ़ाये जाते हैं, जिसको संगम में प्रवाहित कर जल प्रदूषण व गंदगी उत्पन्न होती है, इस तकनीक के द्वारा प्रदूषण से मुक्ति तथा महिलाओं को रोजगार देने का लक्ष्य है ।

सीएसआईआर-सीमैप के निदेशक डॉ. प्रबोध कुमार त्रिवेदी ने बताया कि इन उत्पादों को सीएसआईआर-सीमैप द्वारा वैज्ञानिक रूप से परीक्षण किया गया है। ये उत्पाद ज्यादातर मंदिर में चढ़े फूलों से तथा सुगंधित तेलों से बने होते हैं और इस कंपनी द्वारा उनके उत्पादन से देश में फूलों की खेती करने वाले किसानों को भी आर्थिक लाभ होगा । इस मौके पर डॉ. रमेश कुमार श्रीवास्तव, प्रमुख, व्यापार विकास विभाग ने बताया कि इस तकनीक से उत्तर प्रदेश के कई शहरों जैसे गोरखपुर, अयोध्या, बनारस, लखनऊ एवं लखीमपुर में यह कार्य महिलाओं के साथ-साथ जिला कारागार में भी इसके प्रशिक्षण आयोजित कर महिलाओं को रोजगार प्रदान किया जा रहा है । इस अवसर पर डॉ. अब्दुल समद, डॉ. पीवी अजय कुमार, भास्कर रवि आदि भी मौजूद थे ।

Related Post

सलमान खान की दबंग 3

छोटे भाई अरबाज ने ‘दबंग 3’ की रिलीज से पहले ही खोला सलमान खान की शादी का राज

Posted by - December 12, 2019 0
बॉलीवुड डेस्क। जब भी किसी अभिनेता या अभिनेत्री के कोई फिल्म आने वाली होती हैं, तो वह अभिनेता या अभिनेत्री…
यूपी बोर्ड

ललक : यूपी बोर्ड में इंटर की परीक्षा दे रहा है 78 साल का परीक्षार्थी, ये है तमन्ना

Posted by - February 19, 2020 0
लखनऊ। कहते है कि शिक्षा ग्रहण करने की कोई उम्र नहीं होती है। ऐसा ही एक 78 वर्षीय बुजुर्ग परीक्षार्थी…

चन्नी सरकार पर हमलावर हुए सिद्धू, कहा- चुनाव से पहले दिया जा रहा ‘लॉलीपॉप’

Posted by - November 2, 2021 0
चंडीगढ़। पंजाब में अपनों के बीच ही घिरी कांग्रेस की मुश्किलें कम होती नज़र नहीं आ रही है। पंजाब कांग्रेस…