नियंत्रण कक्ष का हो 24 घंटे संचालन

यूपी में भी कोरोनावायरस महामारी घोषित, स्कूल कॉलेज 22 मार्च तक बंद

204 0

लखनऊ। प्रदेश की योगी सरकार ने भी कोरोनावायरस को महामारी घोषित कर दिया है। इसके साथ ही प्रदेश के सभी स्कूल कॉलेजों को 22 मार्च तक के लिए बंद कर दिया है ,लेकिन जिन स्कूलों में परीक्षा चल रही हैं। वहां परीक्षा खत्म होने के बाद उन्हें बंद किया जाएगा।

राज्यसभा में प्रभावी जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग उठी

सीएम योगी ने कहा कि हमने 4100 चिकित्सकों को कोरोनावायरस के बचाव को लेकर प्रशिक्षित भी किया 

यह जानकारी सीएम योगी प्रेसवार्ता के माध्यम से बताया कि 23 को समीक्षा के बाद आगे निर्णय लिया जाएगा। बता दें कि इसके पहले दिल्ली व हरियाणा में इसे महामारी घोषित किया जा चुका है। सीएम योगी ने कहा कि इसकी गंभीरता को देखते हुए एडवाइजरी जारी कर दी गई थी। सीएम ने कहा कि हमने 4100 चिकित्सकों को कोरोना वायरस के बचाव को लेकर प्रशिक्षित भी किया गया है। हर जनपद में आइसोलेशन वार्ड बनाया है, जिसमें 830 बेड सुरक्षित हैं। वहीं 24 मेडिकल कॉलेजों में भी 448 बेड सुरक्षित रखे रखे गए हैं।

फिल्म ‘मिमी’  में काम करना रहा मेरे लिए शानदार अनुभव  : कृति सैनन

यूपी में अब तक कुल 11 केस पॉजिटिव पाए गए , जिनमें 7 आगरा, 2 गाजियाबाद और एक लखनऊ व एक नोएडा का

सीएम ने कहा कि यूपी में अब तक कुल 11 केस पॉजिटिव पाए गए हैं। जिनमें 7 आगरा, 2 गाजियाबाद और एक लखनऊ व एक नोएडा का है। इनमें से एक मरीज का लखनऊ के केजीएमयू में ही उपचार चल रहा है। वहीं बाकी सभी मरीजों का इलाज दिल्ली में किया जा रहा है।

बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में परीक्षा  23 से 28 मार्चतक सम्पन्न करायी जाएगी

कोरोना वायरस के रोकथाम व इसके उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग एक माह के लिए एपिडेमिक एक्ट में प्रदान की गयी शक्तियों को हासिल कर प्रभावी कदम उठायेगा। बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में परीक्षा  23 से 28 मार्चतक सम्पन्न करायी जाएगी। तीन अप्रैल से ‘स्कूल चलो अभियान’ प्रारम्भ किया जाएगा। माध्यमिक, उच्च, तकनीकी एवं व्यावसायिक शिक्षण संस्थान भी 22 मार्च तक बन्द रहेंगे। ऐसे संस्थानों में जहां परीक्षाएं चल रही हैं वे यथावत आयोजित होती रहेंगी। स्वास्थ्य विभाग, महिला कल्याण विभाग के सहयोग से आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकत्र्रियों को कोरोना वायरस की रोकथाम के सम्बन्ध में सेन्सिटाइज करेगा। इस प्रकार प्रशिक्षित यह कार्मिक लोगों को जागरूक करेंगे।

  नगर विकास विभाग एवं पंचायतीराज विभाग सार्वजनिक स्थलों की विशेष साफ-सफाई सुनिश्चित करेंगे

स्वास्थ्य विभाग अपने अस्पतालों में, नगर विकास विभाग नगर निकायों में, पंचायतीराज विभाग ग्राम पंचायतों में, बेसिक शिक्षा विभाग विद्यालयों में, हैण्डबिल एवं पोस्टर के माध्यम से जागरूकता सृजित करेंगे। सूचना विभाग माध्यमिक एवं उच्च शिक्षण संस्थानों में समुचित प्रचार-प्रसार करेगा।  नगर विकास विभाग एवं पंचायतीराज विभाग सार्वजनिक स्थलों की विशेष साफ-सफाई सुनिश्चित करेंगे।

अब तक नेपाल की सीमा पर 12 लाख 28 हजार 303 लोगों की जा चुकी है स्क्रीनिंग 

प्रदेश में भारत-नेपाल सीमा पर स्क्रीनिंग की व्यवस्था पूरी तत्परता से की जा रही है। इस कार्य की माॅनीटरिंग के निर्देश दिये गये हैं। अब तक नेपाल की सीमा पर 12 लाख 28 हजार 303 लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है।

एनसीआर क्षेत्र के लिए विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश

एनसीआर क्षेत्र के लिए विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश।  प्रदेश में सभी हवाई अड्डों पर स्क्रीनिंग की जा रही है। अभी तक 17,048 यात्रियों की हवाई अड्डों पर स्क्रीनिंग की गयी है। रेलवे स्टेशनों और बस अड्डों पर लोगों को जागरूक करने के लिए प्रचार-प्रसार गतिविधियां संचालित करने के निर्देश। प्रदेश के 75 जनपदों के जिला चिकित्सालयों में 820 बेड तथा 24 मेडिकल काॅलेजों में 448 बेड, इस प्रकार कुल 1268 बेड के आइसोलेशन वाॅर्ड तैयार किये गये हैं। वर्तमान में 14 संदिग्ध लोग विभिन्न जनपदों के आइसोलेशन वाॅर्ड में भर्ती हैं, जिनका उपचार चल रहा है।

चीन में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलते ही प्रदेश सरकार ने लगभग डेढ़ माह पूर्व इससे निपटने की तैयारी प्रारम्भ कर दी

इनमें से आगरा, नोएडा एवं गाजियाबाद के 10 लोगों का उपचार नई दिल्ली के सफदरगंज चिकित्सालय में तथा लखनऊ के एक रोगी का उपचार किंग जाॅर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में हो रहा है। इन सभी रोगियों की हालत स्थिर है। चीन में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलते ही प्रदेश सरकार ने लगभग डेढ़ माह पूर्व इससे निपटने की तैयारी प्रारम्भ कर दी थी।  बचाव, नियंत्रण व उपचार हेतु 30 जनवरी से प्रदेश में डाॅक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ व अन्य कर्मियों की ट्रेनिंग प्रारम्भ की गयी। अब तक 4100 चिकित्सा कर्मी प्रशिक्षित किये जा चुके हैं। सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ का जमाव रोकने के लिए एडवाइज़री जारी की गयी है।

कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियंत्रण के लिए शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग समेत कई अन्य विभागों की बैठक बुलाई थी

मीडिया के माध्यम से प्रदेश की जनता से अपील कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नहीं है। लोगों से अनुरोध है कि सभी आवश्यक सावधानियां और सतर्कता बरतें तथा साबुन पानी से बार-बार अपने हाथ को साफ करते रहें। बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियंत्रण के लिए शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग समेत कई अन्य विभागों की बैठक बुलाई थी जिसके बाद ये फैसला लिया गया।

Loading...
loading...

Related Post

पोलियो उन्मूलन

पोलियो उन्मूलन के लिए पाक भारत के सहारे, अब मार्कर खरीदेंगे इमरान

Posted by - December 25, 2019 0
नई दिल्ली। पोलियो उन्मूलन की कोशिशों में जुटी पाकिस्तान की इमरान सरकार ने भारत से सहायता मांगी है। प्रधानमंत्री इमरान…
आरसीबी

छह मुकाबला गंवाने के बाद सोशल मीडिया पर आरसीबी के फैंस जमकर निकाल रहे गुस्सा

Posted by - April 8, 2019 0
  स्पोर्ट्स डेस्क। इंडियन प्रीमियर लीग के सीज़न 12 में कल विराट कोहली की टीम आरसीबी को लगातार छठी हार…