डोनाल्ड ट्रंप

कोरोना वायरस: ट्रंप ने भी भारतीय संस्कृति का लिया सहारा, आयरलैंड पीएम को किया नमस्ते

221 0

वर्ल्ड न्यूज़। आज पूरे देश भर में फैले इस कोरोना वायरस ने सभी को भारतीय संस्कृति की याद दिला दी है। दुनियाभर में सभी जगह कोरोना वायरस का दहशत देखने को मिल रहा है। इसी खौफ को देखते हुए लोग हाथ मिलाने की बजाए भारतीय संस्कृति का सहारा लेकर एक-दूसरे का अभिवादन करने के लिए नमस्ते कर रहे हैं।

ऐसा न सिर्फ आम लोग ही करते देखे जा रहे बल्कि अमेरिका के व्हाइट हाउस में इस अभिवादन को करते देखा गया। बता दें कि जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वराडकर को नमस्ते करके उनका अभिवादन किया। दोनों नेताओं ने कहा कि वर्तमान में कोरोनावायरस जैसी परिस्थिति को देखते हुए यही उपयुक्त है। भारत में भी लोग ऐसा ही करते हैं।

ओवल हाउस (अमेरिकी राष्ट्रपति का कार्यालय) में पत्रकारों से पूछा कि वे कैसे एक दसरे का अभिवादन करेंगे, तब ट्रंप और भारतीय मूल के वराडकर ने हाथ जोड़ कर एक दूसरे को नमस्ते किया। ट्रंप ने कहा, ‘आज हम हाथ नहीं मिलाएंगे। हम एक दूसरे को देख कर कहेंगे कि हम क्या करेंगे। आप जानते हैं इससे थोड़ा अजीब एहसास होगा।’

जब एक अन्य पत्रकार ने पूछा कि क्या वे हाथ मिलाएंगे, तब वराडकर ने हाथ जोड़कर नमस्ते किया और पत्रकारों को दिखाया कि कैसे वह राष्ट्रपति का अभिवादन करेंगे। ट्रंप ने भी हाथ जोड़कर नमस्ते किया। ट्रंप ने कहा, ‘मैं हाल ही में भारत से लौटा हूं और वहां मैंने किसी से हाथ नहीं मिलाया और यह आसान था क्योंकि वहां ऐसा ही है।’ इसके साथ ही उन्होंने दूसरी बार नमस्ते के लिए हाथ जोड़े।

कोरोना वायरस: ट्रंप ने भी भारतीय संस्कृति का लिया सहारा, आयरलैंड पीएम को किया नमस्ते

ट्रंप ने अभिवादन के जापानी तरीके को भी दिखाया। उन्होंने कहा, ‘वे (भारत और जापान) सिर झुकाते हैं।’ उन्होंने टिप्पणी की कि झुकने और नमस्ते कहने से उन्हें अजीब सा अनुभव होता है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘यह बहुत अजीब लगता है जब लोग आपके सामने से गुजरते हैं और हाय कहते हैं।’

संक्रमित व्यक्ति से हाथ मिला चुके हैं ट्रंप

ट्रंप की पार्टी रिपब्लिकन के कंजरवेटिव पोलिटिकल एक्शन कांफ्रेंस के अध्यक्ष मैट श्लाप ने दावा किया था कि वे अमेरिकी राष्ट्रपति से हाथ मिलाने से पहले कोरोनावायरस से पीड़ित व्यक्ति से संपर्क में थे। उनके इस खुलासे से अमेरिका में हड़कंप मच गया था। मैट श्लाप ने कहा कि उन्होंने कोरोनावायरस से पीड़ित एक व्यक्ति के साथ बातचीत की थी।

Loading...
loading...

Related Post