cm yogi

सीएम योगी ने विपक्ष पर कसा तंज, करें न धरें, तरकस पहने फिरें….

112 0

दिल्ली। जैसे-जैसे चुनाव पास आ रहे हैं। सत्ता और विपक्ष में सोशल मीडिया पर भी जंग छिड़ी गई है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने मंगलवार को ताबड़तोड़ ट्वीट कर विपक्ष पर करारा हमला किया है। सोशल मीडिया के जरिये विपक्ष पर करारा प्रहार किया।

जनता की तरफ से दिए गए चुनाव परिणाम को संदर्भित करते हुए विपक्षी दलों के नेताओं को कटघरे में खड़ा करते हुए मूख्यमंत्री ने अपने एक ट्वीट लिखा है कि “जनता ने 2017 में भ्रष्टाचारियों को चुना नहीं, हमनें विगत पांच वर्षों के दौरान भ्रष्टाचारियों को बख्शा नहीं। 10 मार्च 2022 के बाद भी फिर से यही होगा।”

मुख्यमंत्री का यह ट्वीट पांच साल पहले की सपा सरकार के कार्यकाल को याद दिलाने वाला माना जा रहा है। मालूम हो कि सपा का पिछला कार्यकाल अराजकता का पर्याय था। सपा की तुष्टीकरण की राष्ट्रघाती राजनीति, अतीक अहमद, मूख्तार अंसारी जैसे माफियाओं को संरक्षण देने, आतंकियों की पैरवी, गायत्री प्रजापति एवं इंजीनियर यादव सिंह की रहनुमाई और कैराना समेत 1500 से अधिक दंगों को लेकर भाजपा लगातार सपा पर हमलावर है। मूख्यमंत्री ने उसी क्रम को अपने इस ट्वीट के जरिए आगे बढ़ाया है।

जिनको पाकिस्तान और जिन्ना दोस्त लगते उनकी शिक्षा-दीक्षा और दृष्टि पर आता है तरस

सपा पर ही हमला बोलते हुए योगी ने एक और ट्वीट लिखा, “जिन्हें पाकिस्तान दुश्मन नहीं लगता, जिन्ना दोस्त लगता है। उनकी शिक्षा-दीक्षा और दृष्टि पर क्या ही कहा जाए। वे स्वयं को समाजवादी कहते हैं, लेकिन सत्य यही है कि इनके नस-नस में तमंचावाद दौड़ रहा है।”

मालूम हो कि शुरू के चरणों में पश्चिम उत्तर प्रदेश में चुनाव होने हैं। सपा के पिछले शासन काल में इस पूरे क्षेत्र में अराजकता का बोलबाला था। कैराना के दंगे, मथुरा का जवाहर बाग कांड इसी क्षेत्र में हुआ था। लोग ख़ौफ के साए में जीने को मजबूर थे। इस क्षेत्र में कानून-व्यवस्था ही सबसे बड़ा मुद्दा रहा है। इस तरह के ट्वीट और बयानों के जरिए भाजपा सपा के दुखती रग पर हाथ रखने के साथ जनता को भी उस दौर का याद दिला रही है।

करें न धरें, तरकस पहने फिरें कहावत के जरिए पूरे विपक्ष की कार्यप्रणाली पर उठाया सवाल

एक अन्य ट्वीट में भी सीएम योगी ने विपक्ष पर तंज कसते हुए सवाल किया। उन्होंने लिखा, “करें न धरें, तरकस पहने फिरें.. पूरे विपक्ष का यही हाल है। सत्ता में रहे तो कुछ करा न धरा, अब चुनाव के समय सब तरकस पहने फिर रहे हैं।”

इशारों-इशारों में मुख्यमंत्री ने समूचे विपक्ष से इस सवाल पर जवाब मांग लिया है कि पांच साल प्रदेश में उन्होंने किस तरह की भूमिका निभाई। डबल इंजन की सरकार के बेहतरीन तालमेल से हर क्षेत्र में रिकॉर्ड काम हुए। वैश्विक संकट कोरोना के दौरान जब पूरे विपक्ष का कहीं आता-पता नहीं था तब भी लोगों के जीवन और जिजीविषा के लिए सरकार पूरे दम-खम के साथ जनता के साथ खड़ी रही।

ताबड़तोड़ लिखे गए सीएम के इन ट्वीटस को हजारों की संख्या ने लोगों ने पसंद किया है और उनके सवालों के साथ खुद को जोड़ा भी है।

Related Post

पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी के खिलाफ बीजेपी नेता आकाश सक्सेना दर्ज कराया राजद्रोह केस !

Posted by - September 6, 2021 0
यूपी के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी के खिलाफ अर्मायदित शब्दों का प्रयोग करने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज हुई। बीजेपी…

सुप्रीम कोर्ट का सुप्रीम आदेश – ‘दो सप्ताह के भीतर मिले बिल्किस बानो को नौकरी, आवास, मुआवज़ा’

Posted by - September 30, 2019 0
नई दिल्ली। 2002 में गुजरात दंगे के दौरान अहमदाबाद के निकट हिंसक भीड़ के हमले में गर्भवती बिल्किस बानों से…
मायावती

SC के फैसले का सम्मान करते हुए सभी काम सौहार्दपूर्ण वातावरण में करें: मायावती

Posted by - November 9, 2019 0
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया व प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि परमपूज्य बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर…