करोड़पति है बेटा

बेमिसाल : बच्चे भूखें न रहें इसलिए मां सोती थी खाली पेट, आज करोड़पति है बेटा

414 0

नई दिल्ली। आपने ‘स्लमडॉग मिलेनियर’ फिल्म तो जरूर देखी होगी। नहीं देखी है तो इसके कुछ अंश आज हम इस खबर के माध्यम से बताने जा रहे है। बता दें कि इस फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे एक झुग्गी- झोपड़ी में रहना वाला मिलेनियर बनता है?

‘स्लमडॉग मिलेनियर’ से प्रेेरित ‘Food King’ कंपनी के CEO सरथ बाबू की कहानी

‘स्लमडॉग मिलेनियर’ से प्रेेरित ‘Food King’ कंपनी के CEO सरथ बाबू की कहानी है। किसी जमाने में चेन्नई की झुग्गी में रहने वाले सरथ आज करोड़ों की कंपनी के मालिक हैं। उन्होंने ये कामयाबी अपनी मां की मेहनत और अपनी लगन से पाई है। सरथ बाबू ‘Food King’  के नाम से मशहूर हैं।

सरथ बाबू ने कभी सोचा भी नहीं था कि वे एक दिन एक ऐसी कंपनी खड़ी कर देंगे

सरथ बाबू ने कभी सोचा भी नहीं था कि वे एक दिन एक ऐसी कंपनी खड़ी कर देंगे, जो उन्हें कामयाबी के शिखर पर पहुंचा देगी। चेन्नई के मडिपक्कम इलाके की झुग्गी बस्ती में जन्मे सरथ पांच भाई-बहनों में एक हैं। इन पांचों का पालन-पोषण अकेली मां ही करती थी। सरथ ने अपनी मां को दिन-रात मेहनत करते देखा है। मां सुबह इडली बेचने का काम करती थी और दोपहर में स्कूलों में खाना सप्लाई करती थीं।

विपरीत परिस्थितियों में भी सरथ ने कभी हार नहीं मानी और उसने सोच लिया था कि वह बड़ा होकर कुछ न कुछ बड़ा काम करेगा

सरथ बाबू की मां मेहनत करने के बाद भी वे इतना नहीं कमा पाती थीं कि बच्चों की परवरिश ठीक से कर सकें। मां चाहती थी कि उसके सभी बच्चे पढ़कर लिखकर बड़े आदमी बने। इन विपरीत परिस्थितियों में भी सरथ ने कभी हार नहीं मानी और उसने सोच लिया था कि वह बड़ा होकर कुछ न कुछ बड़ा काम करेगा। सरथ मां को मेहनत करते देखते थे। उन्होंने सोचा कि मां की मदद की जाए। वे भी मां के साथ सुबह जल्दी उठते और इडली बनाने में मदद करते। झुग्गी बस्ती के लोग सुबह नाश्ते में इडली खाने के लिए पैसा खर्च नहीं करते थे। इसलिए मां-बेटे दूसरे मुहल्लों में जाकर इडली बेचते थे।

International Yoga Day- मोटापे को कम करने के लिए करें ये योग आसन 

सरथ की मां सिर्फ इसलिए पानी पीकर सो जाती थीं, ताकि उसके पांचों बच्चे भरपेट खाना खा सकें

सरथ की मां सिर्फ इसलिए पानी पीकर सो जाती थीं, ताकि उसके पांचों बच्चे भरपेट खाना खा सकें। मां ने बच्चों के लिए कई रातें सिर्फ पानी पीकर काटी। शुरू में तो सरथ को लगा था कि मां को पानी पीना पसंद है और इसीलिए वे ज्यादा पानी पीती हैं, लेकिन आगे चलकर उन्हें ये अहसास हुआ कि हमारी खातिर उन्होंने पानी पीकर काम चलाया। यही वजह है कि सरथ ने हमेशा मां से प्रेरणा ली और देखिए आज वह करोड़ों की कंपनी के मालिक हैं।

Related Post

मुलायम सिंह यादव

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की बिगड़ी तबीयत, एसजीपीजीआई में भर्ती

Posted by - April 26, 2019 0
लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संरक्षक और मैनपुरी से गठबंधन के प्रत्याशी मुलायम सिंह यादव की शुक्रवार को तबीयत अचानक बिगड़…

प्रधानमंत्री ने दी नई सौगात, देश के सबसे लंबे रेल-रोड पुल का करेंगे उद्घाटन

Posted by - December 24, 2018 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को तोहफा देने के क्रम में एक और अध्याय जोड़ते हुए असम के…