बसपा ने कांग्रेस पर उठाए सवाल, कहा- महिलाओं के लिए 40% सीटों का ऐलान सियासी स्टंट

35 0

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी ने बुधवार को आगामी विधानसभा चुनावों में महिलाओं के लिए 40 प्रतिशत आरक्षण की कांग्रेस की घोषणा को सियासी स्टंट करार दिया है। बीएसपी ने पूछा कि दूसरे चुनावी राज्यों में इस योजना की घोषणा क्यों नहीं की गई। पार्टी प्रवक्ता सुधींद्र भदौरिया ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के छल का लंबा रिकॉर्ड रहा है। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। क्या महिलाएं दूसरे राज्यों में नहीं रहती हैं?

बहुजन समाज पार्टी के प्रवक्ता सुधींद्र भदौरिया ने कहा कि प्रियंका जी ने आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश में महिलाओं के लिए 40 प्रतिशत सीटों का ऐलान किया है। वो खुद एक महिला हैं और पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव भी हैं, मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि क्या महिलाएं दूसरे राज्यों में नहीं रहती हैं? क्या महिलाएं पहले से ही दूसरे राज्यों में नहीं रही हैं? फिर ऐसी घोषणाएं सिर्फ उत्तर प्रदेश के लिए ही क्यों की जा रही हैं? उन्होंने आगे कहा, मुझे याद है जब बाबा साहब महिलाओं के अधिकारों के लिए हिंदू कोड बिल लाए थे। तब यह कांग्रेस पार्टी थी जिसने महिलाओं को सशक्त बनाने वाले विधेयक का विरोध किया था। भदौरिया ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने केंद्र में अपने कार्यकाल के दौरान महिलाओं के लिए आरक्षण विधेयक कभी पारित नहीं किया।

मायावती ने भी साधा निशाना

बता दें कि इससे पहले बसपा अध्यक्ष मायावती ने यूपी के आगामी विधानसभा चुनाव में 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देने का ऐलान करने वाली कांग्रेस पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि इस पार्टी की सरकार ने आधी आबादी के कल्याण के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए। मायावती ने यह भी कहा कि कांग्रेस अगर महिलाओं को भागीदार बनाना चाहती थी तो उसने अपने शासनकाल में संसद और विधानसभाओं में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने का कानून क्यों नहीं बनाया।

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा, कांग्रेस जब सत्ता में होती है व उसके अच्छे दिन होते हैं तो उसे दलित, पिछड़े व महिलाएं आदि की याद नहीं आती, किन्तु अब जब इनके बुरे दिन नहीं हट रहे हैं तो पंजाब में दलित की तरह यूपी में इनको महिलाएं याद आई हैं। उन्हें 40 प्रतिशत टिकट देने की घोषणा कांग्रेस की कोरी चुनावी नाटकबाजी है।

उन्होंने कहा,  महिलाओं के प्रति कांग्रेस की चिन्ता अगर इतनी ही सही और ईमानदार होती तो केन्द्र में उसकी सरकार ने संसद और विधानसभाओं में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने का कानून क्यों नहीं बनाया?  कहना कुछ व करना कुछ कांग्रेस का स्वभाव है, जो उसकी नीयत व नीति पर प्रश्नचिन्ह खड़े करता है।

गौरतलब है कि कांग्रेस महासचिव और पार्टी की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने हाल ही में एक संवाददाता सम्मेलन में ऐलान किया कि उनकी पार्टी प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में 40 प्रतिशत सीटों पर महिला उम्मीदवार उतारेगी। जिसके बाद से कांग्रेस पार्टी पर सियासी हमले शुरू हो गए है।

Related Post

ANIL DESHMUKH

भ्रष्टाचार मामला : CBI ने देशमुख के निजी सहायकों से पूछताछ की

Posted by - April 11, 2021 0
मुंबई । केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह(Parambir Singh)  द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के…
जी. किशन रेड्डी

पुलिस को लेकर राजनीति न करें संदीप दीक्षित, कांग्रेस माफी मांगे : जी. किशन रेड्डी

Posted by - December 27, 2019 0
नई दिल्ली। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्डी ने शुक्रवार को कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित के बयान पर पलटवार किया…

जाति जनगणना मेे कोई राजनीति नहीं यह सामाजिक विकास के लिए जरूरी- नितीश कुमार

Posted by - August 10, 2021 0
जाति आधारित जनगणना को बिहार के सीएम नीतीश कुमार देशहित में बताया है, उन्होंने कहा- इससे सामाजिक विकास होगा। नीतीश कुमार…
cm vijay rupani

गुजरात के सीएम विजय रूपाणी के बिगड़े बोल- सिद्धू को बताया पाकिस्तान का दलाल

Posted by - April 17, 2019 0
वलसाड। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने सिद्धू…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *