बिग बॉस

bigg boss: वाइल्ड कार्ड से दोबारा एंट्री लेने वाली शेफाली बग्गा फिर से हुई बेघर

344 0

एंटरटेनमेंट डेस्क। बॉलीवुड के बहुत ही माने-जाने अभिनेता सलमान खान का ‘बिग बॉस’ शो अधिकतर लोगों का बेहद ही पसंदीदा शो होता हैं। ये लोग इस शो के पल-पल की खबर से अपडेट होते हैं। तो उन पसंदीदा लोगों को बता दें कि ‘बिग बॉस’ में वाइल्ड कार्ड से दोबारा एंट्री लेने वाली शेफाली बग्गा फिर से बेघर हो गईं हैं। शेफाली ने भी अब तक बेघर हो चुके प्रतिभागियों की तरह सिद्धार्थ शुक्ला गैंग को अपने बेघर होने का जिम्मेदार ठहराया और उन्हें एक चापलूस खिलाड़ी बताया।

बिग बॉस के घर से बेघर होने के बाद शेफाली बग्गा कहती हैं, “जब से मैं घर में दाखिल हुई तभी से घर के अंदर इन लोगों की अपने ग्रुप को बचाने की योजनाएं तैयार थीं। ये लोग सिर्फ दूसरों को निशाना बनाना चाहते हैं ताकि उनका ग्रुप बचा रहे। इस झुंड में सिद्धार्थ शुक्ला, पारस छबड़ा, माहिरा शर्मा आदि शामिल हैं। अपना मतलब निकालने के लिए सिद्धार्थ दूसरों की चापसूली में लगे रहते हैं।”

शो में आम और खास इंसान के फर्क के बारे में वह कहती हैं, “आम आदमी के रूप में शो में आए प्रतियोगी सिर्फ कहने को ही आम आदमी हैं, हकीकत में तो सभी सेलेब्रिटीज ही हैं। बस फर्क इतना है कि कोई ज्यादा लोकप्रिय है और कोई थोड़ा कम लोकप्रिय है।” वाइल्ड कार्ड एंट्री के बारे में शेफाली ने कहा, “यह फॉर्मूला घर वालों के लिए मुश्किल बढ़ाने वाला ही है। मैंने खुद वाइल्ड कार्ड एंट्री ली थी। लेकिन इस बार सब कुछ उल्टा ही हो गया।

रिक्टर स्केल पर 3.6 आंकी गई तीव्रता के साथ शिमला में महसूस हुए भूकंप के झटके 

घरवालों ने पहले से ही वाइल्ड कार्ड एंट्री करने वालों के खिलाफ योजना बना रखी थी, कि बाहर से आने वाले के साथ कोई बात नहीं करेगा। अब कैमरे पर तो सिर्फ बातचीत ही नजर आती हैं, इसलिए मैंने खुद से ही बात करना शुरू किया। इसके बाद सिद्धार्थ एंड कंपनी ने मेरी छवि ऐसी बना दी कि मैं दूसरों के बीच में घुसती हूं। ऐसे में मेरा शो में बने रहना बहुत मुश्किल हो गया था। वाइल्ड कार्ड का फॉर्मूला तो अच्छा है लेकिन कोई ठीक से भुनाने वाला होना चाहिए।’

शो के विजेता के बारे में अपनी राय देते हुए शेफाली कहती हैं, “शहनाज गिल और सिद्धार्थ शुक्ला में से इस बार का कोई विजेता रहेगा क्योंकि घर में हो रही सारी घटनाओं का केंद्र सिद्धार्थ ही हैं, तो इस हिसाब से खेल उन्हीं के पक्ष में ज्यादा है। शहनाज को मैं दिल से जीतते देखना चाहती हूं। वह भी बहुत अच्छा खेल रही हैं।”

सलमान के वीकेंड पर किए गए फैसलों के बारे में वह कहती हैं, “वैसे सलमान कोई पक्षपात नहीं करते लेकिन कुछ चीजें हैं जो गलत होती हैं और लोगों तक नहीं पहुंचती। लड़ाइयां होने पर हुई गाली गलौज को बीप कर दिया जाता है, तो ये भी एक तरह से गलत ही है। उन चीजों को लेकर लोगों को सबक नहीं सिखाया जाता, ये मुझे थोड़ा गलत लगता है।”

Related Post

जावेद अख्तर की इमरान खान को खरी-खरी

पुलवामा हमला: जावेद अख्तर की इमरान खान को खरी-खरी, पाकिस्तान के PM ने फेंकी ‘नो बॉल’

Posted by - February 20, 2019 0
मुंबई। पुलवामा हमले के पांच दिनों के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक बयान जारी किया है। इमरान…
गोसाईगंज थाने का डीसीपी ने किया वार्षिक निरीक्षण

गोसाईगंज थाने का डीसीपी ने किया वार्षिक निरीक्षण

Posted by - March 16, 2021 0
 पुलिस उपायुक्त दक्षिणी रवि कुमार ने सोमवार को गोसाईगंज थाने का वार्षिक निरीक्षण किया।निरीक्षण के दौरान थाना परिसर, बैरक, हवालात,…