असम-मिजोरम सीमा संघर्ष: दोनों राज्य बातचीत से मुद्दा हल करने को तैयार

499 0

49 साल पुराने सीमा विवाद को लेकर मिजोरम और असम के बीच तनाव की स्थिति है, इसी बीच दोनों राज्यों में विवाद सुलझने के आसार नजर आ रहे हैं। दोनों राज्य सरकारों ने गुरुवार को साझा बयान जारी करते हुए कहा- दोनों मुख्यमंत्री राज्यों की सीमा पर पैदा हुए तनाव को बातचीत के जरिए सुलझाएंगे। साझा बयान के मुताबिक दोनों राज्य सीमावर्ती इलाकों में शांति स्थापित करने को लेकर राजी हुए हैं और वे सीआरपीएफ तैनात करने के फैसले का स्वागत करते हैं।

असम की ओर से जहां वरिष्ठ मंत्री अतुल बोरा शामिल हुए, वहीं मिजोरम के गृह मंत्री लालचमलियाना बैठक का हिस्सा बने। बता दें कि 26 जुलाई को असम-मिजोरम सीमा पर गोलीबारी के बाद दोनों राज्यों के बीच तनाव काफी बढ़ गया था।

बैठक में शामिल हुए असम के मंत्री अशोक सिंघल ने साझा बयान की कॉपी ट्वीट कर बताया कि इसपर असम के मंत्री अतुल बोरा, मिजोरम के गृहमंत्री लाल चामलियाना, असम के सीमा सुरक्षा के आयुक्त और सचिव जीडी त्रिपाठी व मिजोरम के गृह सचिव वांलालन्गथसाका ने हस्ताक्षर किए हैं।

चुनाव में दलितों के पैर धोने की नौटंकी करने वाले दलित बेटी के गैंगरेप पर चुप क्यों है?- RJD

बैठक के बाद दोनों राज्‍यों के मंत्रियों ने एक साझा बयान में कहा कि गृह मंत्रालय ने बातचीत के जरिए सीमा विवाद सुझलाने की बात कही थी। इसी के तहत आज दोनों राज्‍यों के मंत्रियों की बैठक हुई और दोनों राज्‍य सीमा पर शांति बनाए रखने पर सहमत भी हुए हैं।  बता दें कि दोनों राज्यों के बीच जारी सीमा विवाद ने 26 जुलाई को खूनी संघर्ष का रूप ले लिया था जिसमें असम पुलिस के छह कर्मी और एक आम नागरिक की मौत हो गई जबकि घटना में करीब 50 लोग घायल हुए॥

Related Post

अजय राय

वाराणसी में पीएम मोदी के खिलाफ प्रियंका नहीं, अजय राय मैदान में

Posted by - April 25, 2019 0
नई दिल्ली। यूपी की सबसे हाईप्रोफाइल लोकसभा सीट वाराणसी से कांग्रेस पार्टी ने बुधवार को अपने प्रत्याशी का ऐलान कर…
Urmila Matondkar

उर्मिला मातोंडकर बनीं शिवसैनिक, उद्धव ठाकरे ने दिलाई पार्टी की सदस्यता

Posted by - December 1, 2020 0
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar)  महाराष्ट्र की सत्ताधारी पार्टी शिवसेना का मंगलवार को दामन थाम लिया है। उन्होंने…