AK Sharma

नगर विकास मंत्री ने कूड़ा कलेक्शन गाड़ियों को हरी झंड़ी दिखाकर किया रवाना

98 0

लखनऊ। प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री  एके शर्मा (AK Sharma)   ने समस्त नगरीय निकायों में सूखे और गीले कचरे का शत प्रतिशत डोर टू डोर कलेक्शन करने के लिए आज 01 फरवरी से 31मार्च, 2023 तक 03 चरणों में चलने वाले “10तक’ डोर टू डोर“ अभियान का राज्यव्यापी शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने नागरिकों से प्रातः 10 बजे तक गीला और सूखा कचरा पृथक कर अपने घरों, संस्थानों से बाहर निकाल कर कूड़ा कलेक्शन गाड़ियों को देने की अपील की। उन्होंने कहा कि नगरीय वन को बेहतर बनाने के लिय यह अभियान प्रथम चरण में 01 से 15 फरवरी तक, द्वितीय चरण में 16 फरवरी से 03 मार्च तक और तृतीय चरण में 04 से 31 मार्च तक चलाया जाएगा।

नगर विकास मंत्री  एके शर्मा (AK Sharma)  ने आज नगरी निकाय निदेशालय, गोमतीनगर विस्तार, लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में इस अभियान का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन करने वाली 20 गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया। साथ ही होम कंपोस्टिंग को प्रोत्साहित करने के लिए लखनऊ की 10 महिलाओं को होम कम्पोस्टर भी प्रदान किए। उन्होंने कहा कि इस होम कंपोस्टर में 15 दिन तक किचन से निकला कचरा रखने पर खाद बन जाएगी, जिसका प्रयोग घर के गमलों और बागवानी में किया जा सकता है।

नगर विकास मंत्री (AK Sharma)   ने कहां कि प्रदेश के नगरों को वैश्विक स्तर के नगर बनाने के लिए नगर विकास विभाग सतत प्रयास कर रहा है। यहां के नागरिकों को बेहतर सुविधाएं मिले, वैश्विक स्तर की हमारी साफ़ सफाई,सुशोभन व सेवाएं हो। इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर हो, इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने सभी नगर आयुक्तो एवम् अधिशासी अधिकारीयों को निर्देशित किया है कि सभी निकाय अपने यहां मशीनरी और मैनपावर का समुचित प्रयोग कर नगरों को स्वच्छ बनाए।स्वच्छता के इस महाभियान में सभी नागरिकों का भी सहयोग ले। उन्होंने कहा कि प्रदेश के नगरों को ’गुड टू ग्रेट’ तथा वैश्विक मापदंडों के अनुरुप बनाना है, इसमें किसी भी प्रकार की ढिलाई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कोशिश हो कि प्रातः 10बजे तक सभी नगरवासी सूखा और गीला कूड़ा अलग अलग कर वेस्ट कलेक्टर/कूड़ा गाड़ी को दे। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था को बहुत अच्छे से चलाना है। कहा कि नगरीय व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए 01जनवरी से 100 दिवसीय ‘उत्तर प्रदेश वैश्विक नगर (यूपी  सिटीज) अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही  ’स्वच्छ ढाबा’ एवं ’स्वच्छ विरासत’ भी चलाए गए हैं।

नगर विकास मंत्री (AK Sharma)   की उपस्थिति में 05 संस्थाओं के प्रतिनिधियों और नगर विकास विभाग के बीच एमओयू हस्ताक्षरित किये गये। ये संस्थान प्रदेश के नगरीय क्षेत्रों के सतत एवं समग्र विकास के लिए नीति निर्धारण, तकनीकी सहयोग एवं क्षमता संवर्धन में सहायक होंगी। इसमें जनाग्रह, टेरी, एआईआईएलएस, जन अरबन स्पेस फाउण्डेशन, जन अरबन सर्विसेज फॉर ट्रांसफार्मेशन प्रा0 लि0 शमिल रहीं।

ये संस्थान नगरों के विकास में सहयोग एवं सलाह प्रदान करेंगी। इसमें जनाग्रह सेंटर फॉर सिटिजनशिप एण्ड डेमोक्रेसी शहरों के गवर्नेंस सिस्टम को मजबूत करने, कार्मिकों के लिए ट्रेनिंग प्रोग्राम तैयार करने में सहयोग प्रदान करेगी। टेरी द्वारा एकीकृत शहरी जल प्रबंधन, नवीकरणीय ऊर्जा, सर्कुलर इकोनॉमी, वेस्ट मैनेजमेंट पर कार्य करेगी। जन अरबन स्पेस फाउण्डेशन (इण्डिया) द्वारा आरएफपी तैयार करने में सहयोग प्रदान किया जायेगा। आल इण्डिया इंस्टीट्यूट ऑफ लोकल सेल्फ गवर्मेंट द्वारा क्षमता संवर्धन पर कार्य किया जायेगा। इसी प्रकार जन अरबन सर्विसेज फॉर ट्रांसपोर्टेशन प्रा0 लि0 द्वारा क्षमता संवर्धन, एयर पाल्यूशन, प्रशिक्षण कार्यक्रम, मूल्यांकन और रणनीति व सलाह पर कार्य किया जायेगा।

Budget: 2030 तक 50 लाख टन हरित हाइड्रोजन उत्पादन का लक्ष्य

इस अवसर पर प्रमुख सचिव नगर विकास  अनिल कुमार,सचिव नगर विकास  रंजन कुमार,निदेशक  नेहा शर्मा,अपर निदेशक डा0 असलम अंसारी के साथ विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Related Post

CM Yogi

योगी कैबिनेट: अब शिक्षक बनने के लिए स्नातक में 50 फीसदी अंक लाना जरूरी

Posted by - December 3, 2019 0
लखनऊ। लोकभवन में मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। इस बैठक में शासकीय सहायता…