CM Yogi

साकार हो रहा रामराज्य का संकल्प: योगी

128 0

साकार हो रहा रामराज्य का संकल्प: योगी

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने आज गोरखपुर में कहा कि भगवान श्रीराम और निषादराज गुह्य की अभिन्न मित्रता हमारी विरासत है और इसी विरासत को आगे बढ़ाते हुए केंद्र व प्रदेश की डबल इंजन सरकार रामराज्य के संकल्प को साकार कर रही है। सबके साथ न्याय और सबकी समुचित भागीदारी चहुंओर दिख रही है।आज कोई भी किसी गरीब का शोषण और उसके साथ अन्याय नहीं कर सकता है।

मुख्यमंत्री योगी (CM Yogi) ने शुक्रवार को निषाद पार्टी के संकल्प दिवस समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए कहा कि सबके साथ न्याय और सबकी समुचित भागीदारी चहुंओर दिख रही है और आज कोई भी किसी गरीब का शोषण और उसके साथ अन्याय नहीं कर सकता है।

उन्होंने सभी लोगों को मकर संक्रांति पर्व की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पिछली सरकारों में निषाद के नौजवानों को गोली मिलती थी पर इस सरकार में आपका संकल्प पूरा हो रहा है और सभी को अधिकार, सम्मान व सुविधाएं मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काशी से दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज को रवाना किया है, इससे पर्यटन और रोजगार की संभावनाएं बढ़ेंगी और गंगा पुत्र निषादों को रोजगार मिलेगा।

उन्होंने कहा कि श्रृंगवेरपुर में श्रीराम और निषादराज की गले लगी प्रतिमा को बनाने का काम अंतिम चरण में चल रहा है। इसी क्रम में 2023 में अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण का कार्य पूरा हो चुका होगा और यह राष्ट्र मंदिर होगा।

मुख्यमंत्री (CM Yogi) ने कहा कि निषाद समाज के लिए आरक्षण के मुद्दे पर सरकार सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ रही है। संघर्ष कभी व्यर्थ नहीं जाता। निषाद पार्टी ने 10 साल पहले जो संकल्प लिया थाए उसे पूर्ण करने की कार्यवाई अंतिम चरण में चल रही है।

उन्होंने कहा कि दुनिया जब आगे बढ़ रही हैए समाज के हर तबके को आगे बढ़ने का अधिकार होना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी मोदी के नेतृत्व में न सिर्फ आंतरिक मोर्चे पर बल्कि वैश्विक मोर्चे पर भी भारत की धाक जम रही है। उनके नेतृत्व में देश को दुनिया के बीस सबसे सशक्त देशों के समूह जी.30 की अगुवाई का अवसर मिला है।

मुख्यमंत्री कहा कि निषादों की समृद्धि के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार ने मत्स्य सम्पदा योजना की सौगात दी है। मनरेगा के कन्वर्जन के माध्यम से तालाबों का निर्माण हो रहा है। निषादराज बोट सब्सिडी योजना भी आने जा रही है। वाराणसी में 1600 नावों को सीएनजी से जोड़कर उन्हें किट उपलब्ध कराई जा रही है। निषादों को बोट योजना पर सब्सिडी उपलब्ध कराने के लिये बजट की व्यवस्था कराई गई है।

इस अवसर पर संकल्प दिवस समारोह में निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री संजय निषाद ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस को चुनाव हारने के बाद निषादों की याद आ रही है। निषाद समाज के लोगों को अपने हक हकूक के लिए चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि निषाद समाज को अनुसूचित जाति का आरक्षण देने के लिए कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद गंभीर हैं और उनके समक्ष यह मामला आते ही उन्होंने तत्काल रजिस्ट्रार जनरल ऑफ इंडिया को पत्र भी लिखा।

कैबिनेट मंत्री संजय निषाद ने कहा कि काशी में रिवर क्रूज को लेकर विपक्षी दलों ने निषाद समाज का हक मारे जाने का दुष्प्रचार शुरू किया है। सच्चाई यह है कि इससे सर्वाधिक रोजगार का लाभ निषाद समाज के लोगों को ही मिलेगा।

इस मौके पर संतकबीरनगर के सांसद प्रवीण निषाद समेत निषाद पार्टी के विधायकगण, पदाधिकारी व बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related Post

शिवपाल सिंह यादव का बड़ा बयान, कहा- सपा के साथ गठबंधन के किये सारे प्रयास

Posted by - September 28, 2021 0
इटावा। इटावा में प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बड़ा बयान दिया है। शिवपाल ने जिला सहकारी…
Demonstration of students

प्रयागराज : बेरोजगारी और आत्महत्याओं के खिलाफ छात्र-छात्राओं का प्रदर्शन

Posted by - March 12, 2021 0
प्रयागराज। जिले में निरंतर बढ़ती बेरोजगारी और छात्र-छात्राओं की आत्महत्या की घटनाओं के खिलाफ दिशा छात्र संगठन ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय…
आग लगाने से रोकने पर दो पक्षों में जमकर चले लाठी-डंडे

आग लगाने से रोकने पर दो पक्षों में जमकर चले लाठी-डंडे

Posted by - March 30, 2021 0
पुलिस कमिश्नरेट लखनऊ के अन्तर्गत कोतवाली मोहनलालगंज क्षेत्र के ग्राम पंचायत गौरा के मजरा भाटनखेड़ा गांव में रविवार की देर…

योगी सरकार ने दी कांवड़ यात्रा को मंंजूरी, सुप्रीम कोर्ट ने थमा दिया नोटिस

Posted by - July 14, 2021 0
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा कांवड़ यात्रा को मंजूरी दिए जाने के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वयं संज्ञान…